रायपुर में 'चाकू गैंग' के निशाने पर राहगीर:युवक से बाइक सवारों ने मांगी माचिस, इनकार करने पर मार दिया चाकू; गाली देने से मना किया तो अंगूठा काट दिया

रायपुरएक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
टिकरापारा समेत रायपुर के 4 थानों की पुलिस  इस तरह के हमलों की जांच कर रही है। - Dainik Bhaskar
टिकरापारा समेत रायपुर के 4 थानों की पुलिस इस तरह के हमलों की जांच कर रही है।

रायपुर शहर में राह चलते लोगों पर हमले और लूट की घटनाएं बढ़ती जा रही हैं। पिछले 5 दिनों में ही ऐसे 4 मामले सामने आ चुके हैं। अब माचिस मांगने के बहाने एक युवक को चाकू मार दिया। युवक खाना खाने के बाद रात को बाहर टहल रहा था। उसे अस्पताल में भर्ती कराया गया है। वहीं एक अन्य घटना में घूरकर देखने की बात को लेकर हुए विवाद में युवक का अंगूठा काट लिया। दोनों ही घटनाओं में पुलिस के हाथ अभी तक खाली हैं। हालांकि पुलिस रात की गश्त बढ़ाने और सुरक्षा के दावे जरूर कर रही है।

जानकारी के मुताबिक, कमल विहारा निवासी मंजीत एक छाता फैक्ट्री में काम करता है। वह रविवार रात के वक्त स्काई विला बिल्डिंग के पास अपने दोस्त मोहम्मद जावेद के साथ भोजन के बाद टहल रहा था। उसी समय बाइक पर सवार दो युवक पहुंचे। एक ने मंजीत से माचिस मांगी। उसने इनकार किया तो बाइक पर पीछे बैठा युवक नीचे उतरा और मारपीट शुरू कर दी। इसी बीच मंजीत को चाकू मार दिया और भाग निकले। हमले में मंजीत के सिर और पसली पर चोट आई और वह बेहोश हो गया।

घूरकर देखने से रोका तो चाकू से हमला
दूसरी घटना भी रविवार को ही हुई। डंगनिया में रहने वाला अतित पांडे अपने एक दोस्त के साथ मोहबा बाजार की शराब दुकान पर बोतल लेने गया था। लौटने के दौरान रास्ते में दो लड़के उन्हें घूर रहे थे, फिर गालियां देने लगे। इस बात पर अतित ने उन्हें टोका तो बदमाशों ने चाकू निकाला और हमला कर दिया। इससे अतिति के बाएं हाथ का अंगूठा कट गया। अतित के साथी दीपक ने बीच बचाव किया तो उसे भी दोनों बदमाशों ने मिलकर पीटा और भाग गए। आरोपियों की उम्र 20-22 साल बताई जा रही है।

14 जुलाई से अब तक 5 घटनाएं
आमानाका और टिकारापारा पुलिस थाने के आलावा और घटना बीते सप्ताह हुई हैं। 14 जुलाई से अब तक 5 दिनों में कुल 5 वारदातें हो चुकी हैं।

  • सिविल लाइंस पुलिस के पास 14 जुलाई को ऐसे ही लूट की शिकायत पहुंची थी। 19 साल के पप्पू पाटले पर बाइक पर सवार दो लड़कों ने हमला कर दिया था। दोनों ने अपना चेहरा स्कार्फ से ढंककर रखा था। लुटेरों ने उसके साथ मारपीट की और पेंट की जेब में रखे मोबाइल को छीनकर भाग गए। युवक ने हमले के फौरन बाद घटना की जानकारी पुलिस को दी। इस मामले में अब तक आरोपी पकड़े नहीं गए हैं।
  • 16 जुलाई शुक्रवार को गोंदवारा इलाके में ऐसी वारदात हुई। 21 साल का नसीम अंसारी साइकिल से अपने मामा के घर जाने निकला था। इसी दौरान बाइक सवार तीन युवकों ने उसका पीछा शुरू कर दिया। कुछ दूर जाने पर बाइक लेकर नसीम के सामने आ गए और चाकू निकाल लिया। बदमाशों और उसके बीच धक्कामुक्की होने लगी। एक युवक ने नसीम को गले से पकड़ा और साइकिल से नीचे उतारकर पीटना शुरू कर दिया।
  • 17 जुलाई को 70 साल के रमेश विश्वकर्मा खमतराई लुटेरों के हमले का शिकार हुए। वो अनुग्रह रेसीडेंसी में रहते हैं। इस उम्र में भी वो बढ़ई का काम करते हैं। गोंदवारा ओवरब्रिज के पास से अपना रोज का काम खत्म करके लौट रहे थे तभी दो युवकों ने इनका रास्ता रोक लिया। ये पहले से ही ब्रिज के नीचे बैठे हुए थे। इनमें से एक युवक बुजुर्ग के पास आया और कहने लगा कि अंकल टाइम क्या हो रहा है। बुजुर्ग रुककर टाइम बताने ही वाले थे कि एक ने पीछे से उन्हें पकड़ लिया और दूसरा सामने से चाकू के वार करने लगा। बुजुर्ग के हाथ पर तीन जगह गहरे जख्म हुए हैं।
खबरें और भी हैं...