पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

शरद पूर्णिमा:दर्शन देने बाहर आए बालाजी, आधी रात हुई महाआरती, बांटी अमृत खीर

रायपुर25 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
आंगन में बालाजी की चल प्रतिमा।
  • आज हेमंत ऋतु की शुरुआत के साथ मौसम में आएगा बदलाव

शुक्रवार को दूधाधारी मठ में भगवान बालाजी ने बाहर आकर भक्तों को दर्शन दिए। शरद पूर्णिमा के मौके पर भगवान की मूर्ति आंगन में स्थापित की गई थी। आधी रात को भगवान की महाआरती की गई। इसके बाद भक्तों में अमृत खीर भी बांटी गई। इसी तरह शहर के अन्य मठ-मंदिरों में भी विशेष पूजन-अनुष्ठान किए गए। दूधाधारी मठ में शरद पूर्णिमा पर भगवान बालाजी को दर्शन के लिए बाहर निकालने की परंपरा सदियों पुरानी है। शुक्रवार की शाम मंदिर प्रांगण के बीचाेबीच चबूतरे पर भगवान की चल प्रतिमा स्थापित की गई। औषधीय खीर भी बनाई गई जिसे घंटों के खुले आसमान के नीचे रखा गया। रात 12 बजे भगवान की महाआरती की गई। फिर खीर वितरण किया गया। रात 2 बजे तक भक्त दर्शन करने पहुंचे।

101 ली. दूध की खीर बनाकर राधा, श्रीकृष्ण को लगाया भोग
जवाहर नगर स्थित राधा कृष्ण मंदिर में इस मौके पर भगवान को खीर का भोग लगाया गया। पं. मलैया महाराज ने बताया कि 101 लीटर दूध की खीर बनाई गई थी। रात को भगवान की पूजा-अर्चना के बाद भक्तों में अमृत खीर बांटी गई। वहीं समता कॉलोनी स्थित गायत्री शक्तिपीठ में भी इस मौके पर जड़ी-बूटी युक्त खीर बनाई गई। हालांकि, कोरोना संक्रमण के चलते शक्तिपीठ ने इस बार खीर वितरण नहीं करने का फैसला लिया है।

शरद ऋतु खत्म, आज से रातें होने लगेंगी सर्द : डॉ. होस्केरे
ज्योतिषाचार्य डॉ. दत्तात्रेय होस्केरे ने बताया, 30 अक्टूबर की पूर्णिमा के साथ शरद ऋतु खत्म हो गई है। 31 अक्टूबर से हेमंत ऋतु शुरू हो जाएगी। इसी के साथ मौसम में बदलाव भी दिखने को मिलेगा। ठंड बढ़ने लगेगी। 31 अक्टूबर को प्रतिपदा तिथि मान्य रहेगी।

शरद पूर्णिमा पर सौंपा गरबा मैदान
शहीद हेमू कालाणी वार्ड स्थित गरबा मैदान का सौंदर्यीकरण करवाया गया है। शुक्रवार को शरद पूर्णिमा के मौके पर महापौर एजाज ढेबर, विधायक कुलदीप जुनेजा और जोन अध्यक्ष बंटी होरा ने इसका लोकार्पण कर जनता को सौंपा।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- दिन उन्नतिकारक है। आपकी प्रतिभा व योग्यता के अनुरूप आपको अपने कार्यों के उचित परिणाम प्राप्त होंगे। कामकाज व कैरियर को महत्व देंगे परंतु पहली प्राथमिकता आपकी परिवार ही रहेगी। संतान के विवाह क...

और पढ़ें