पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

गड़बड़ी कर हड़पी रकम:ATM कर्मचारियों की नियत बिगड़ी; बैंक ऑफ बड़ौदा के 27 लाख रुपए रख लिए अपने पास, दो आरोपी गिरफ्तार

रायपुर6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
तस्वीर रायपुर के डीडी नगर थाने की है। रायपुर की पुलिस ने इन्हें इनके घर से पकड़ा, अब इनसे पूछताछ जारी है। - Dainik Bhaskar
तस्वीर रायपुर के डीडी नगर थाने की है। रायपुर की पुलिस ने इन्हें इनके घर से पकड़ा, अब इनसे पूछताछ जारी है।
  • रायपुर के अलग-अलग ATM से रुपए डालने के दौरान युवकों ने की थी गड़बड़ी
  • आरोपियों का एक साथी है फरार, उसकी भी तलाश में पुलिस

बैंक के ऑडिट में हमेशा रकम कम पाई जा रही थी। बैंक के अफसर इस बात से परेशान थे कि ATM से रुपए आखिर जा कहां रहे हैं। अफसरों ने अपने स्तर पर जांच की तो पता चला कि मशीन में रकम डालने का काम करने वाले दो युवक ही रुपए गायब कर रहे थे। फौरन इसकी शिकायत रायपुर के डीडी नगर थाने में की गई। मामला 27 लाख रुपए से भी अधिक का था। पुलिस भी हरकत में आई। अब गुरुवार की दोपहर जांच टीम ने दो युवकों को गिरफ्तार किया है।

आरोपियों का नाम धर्मेन्द्र रात्रे और मुकेश सिंह ठाकुर है। फिलहाल इनसे डीडी नगर थाने की पुलिस पूछताछ कर रही है। अब तक की जांच में पता चला है कि इनका एक अविनाश नाम का साथी है, जो कि फरार है। पुलिस युवकों से 27 लाख रुपयों के बारे में भी जानकारी ले रही है।

ये है पूरा मामला
राइटर बिजनेस सर्विस के असिस्टेंट मैनेजर भूषण गांधी ने बताया कि हमारी कंपनी बैंक ऑफ बड़ौदा के लिए कैश मैनेज करने का काम करती है। मेरी ही कंपनी में मुकेश सिंह ठाकुर और धर्मेंद्र रात्रे ATM अफसर के तौर पर काम करते हैं। बैंक ऑफ बड़ौदा के भिलाई स्थित करेंसी चेस्ट रुपए लेकर रायपुर के अलग-अलग ATM में रुपए डाले जाते हैं। मुकेश और धर्मेंद्र यही काम करते थे। इनके पास एक खास तरह का पासवर्ड होता है। मशीन में इसी के जरिए रुपए डालने का काम होता है।

2 मार्च को कंपनी के ऑडिटर हरजिंदर सिंह ने अपने ऑडिट में यह पाया की रायपुर के सुन्दर नगर में स्थित ATM में 2,90,000 रुपए कम हैं। इस ATM में 12 लाख रुपए लोड किए गए थे। लोगों के इस्तेमाल के बाद मशीन में जितने रुपए होने चाहिए वो नहीं थे। टीम को ये पता लगा कि रुपए लोड करते वक्त ही मुकेश और धर्मेंद्र ने पैसे लेकर अपने पास रख लिए थे। इसके बाद हर उस ATM में कैश की जांच की गई। जहां इन दोनों को रुपए डालने भेजा गया था। स्टेशन रोड, पंडरी, संतोषी नगर जैसे 5 अलग-अलग ATM ने कुल 27,73,700 रुपए के गबन का पता चला। फिलहाल मुकेश सिंह ठाकुर और धर्मेंद्र रात्रे पुलिस की गिरफ्त में हैं।

खबरें और भी हैं...