पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

नई मुसीबत से लड़ने को तैयार वॉरियर्स:IMA के डॉक्टर्स ने सरकार से कहा- ब्लैक फंगस की सर्जरी फ्री में करेंगे हमें मंजूरी दें, अब तक हो चुकी हैं 28 मौतें

रायपुरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

छत्तीसगढ़ में कोरोना संक्रमितों की संख्या घटी है मगर इसकी वजह से लोगों को हो रही नई बीमारी ब्लैक फंगस के केस बढ़ रहे हैं। इस नई मुसीबत से लड़ने के लिए डॉक्टर्स तैयार हैं। इंडियन मेडिकल एसोसिएशन ने छत्तीसगढ़ की सरकार को एक खत भेजा है। इसमें डॉक्टर्स ने प्रदेश में बढ़ रहे ब्लैक फंगस के मामलों की वजह से सरकार की मदद करने की ठानी है। डॉक्टर्स की टीम ने एलान किया है कि अगर सरकार चाहे तो वो फ्री में अपनी सेवा सरकारी अस्पताल में देंगे। मरीज की सर्जरी और उनके इलाज में सरकारी डॉक्टर्स की मदद करेंगे। इसे लेकर IMA ने स्वास्थ्य मंत्री से बात की है। सरकार की तरफ से फिल्हाल डॉक्टर्स को जवाब नहीं मिला है।

ये लिखा है डॉक्टर्स के पत्र में

ब्लैक फंगस के बढ़ते मरीजों की संख्या को देखते हुए इंडियन मेडिकल एसोसिएशन छत्तीसगढ़ के अध्यक्ष डॉ महेश वमर्ता और रायपुर ब्रांच के अध्यक्ष डॉ विकास अग्रवाल ने कान नाक गला रोग विशेषज्ञों की संस्था AOI कि छत्तीसगढ़ शाखा ने अपने सदस्यों द्वारा शासकीय अस्पतालों में अपनी सेवाएं देने की सहमति दी है। ब्लैक फंगस के मरीजों की संख्या अधिक होने के कारण सरकारी अस्पतालों में काम करने वाले डॉक्टर अधिक समय देकर ऑपरेशन कर रहे हैं, मगर मरीज बढ़ रहे हैं।

IMA छत्तीसगढ़ के डॉ राकेश गुप्ता ने ब्लैक फंगस के केसेस पर चिंता जाहिर कर सरकार से कहा है कि हम डॉक्टर्स मदद को तैयार हैं।
IMA छत्तीसगढ़ के डॉ राकेश गुप्ता ने ब्लैक फंगस के केसेस पर चिंता जाहिर कर सरकार से कहा है कि हम डॉक्टर्स मदद को तैयार हैं।

छत्तीसगढ़ में ब्लैक फंगस

  • छत्तीसगढ़ में 3 दिनों में ब्लैक फंगस के 37 नए मरीज मिले हैं। 6 लोगों की मौत होने की बात सामने आई है।
  • डेढ़ महीने में 276 लोगों को ब्लैक फंगस ने अपनी चपेट में लिया है। इनमें 232 एक्टिव केस हैं। इनमें से 28 लोगों की मौत हो चुकी है।
  • 16 लोगों को इलाज के बाद डिस्चार्ज कर दिया गया है। 17 ऐसे लोग हैं जिन्हें जिनकी मौत सिर्फ ब्लैक फंगस की वजह से हुई।
  • 11 ऐसे मरीज थे जिन्हें दूसरी बीमारियां थी और उनकी जान नहीं बच सकी।
  • मरीजों का रायपुर AIIMS, मेकाहारा और भिलाई सेक्टर 9 के अस्पताल में इलाज चल रहा है।
  • प्रदेश में रायपुर, भिलाई, रायगढ़ और बिलासपुर के कुल 11 अस्पतालों में ब्लैक फंगस के इलाज की सुविधा है।

ऐसे समय पर मरीजों को समय पर इलाज मिल सके इसलिए AOI ने की तरफ से डॉक्टर राकेश गुप्ता, डॉक्टर सुनील, डॉक्टर दिग्विजय सिंह, डॉक्टर मयूरेश वर्मा, डॉक्टर अनिल जैन, डॉक्टर नीलेश भट्ट, डॉक्टर गौरव अहलूवालिया, डॉक्टर मिथिलेश शर्मा, डॉक्टर शैलेंद्र केसरवानी बिना वेतन लिए काम करने तैयार हैं। ये डॉक्टर्स सरकारी अस्पताल में बिना किसी वेतन के ब्लैक फंगस के मरीजों का इलाज करेंगे।

छत्तीसगढ़ में कोरोना

छत्तीसगढ़ में पिछले 24 घंटे में 1102 कोरोना के नए मरीज मिले हैं। 2 हजार 307 लोगों को होम आइसोलेशन और अस्पताल में ठीक होने के बाद डिस्चार्ज कर दिया गया है। प्रदेश में कोरोना के एक्टिव मरीज की संख्या 19 हजार 471 है। पहले 24 घंटों में 14 कोरोना संक्रमित लोगों की मौत हुई, राज्य में मंगलवार को 48 हजार 447 सैंपल जांचे गए।