ओमिक्रॉन के नाम पर CG में फर्जी मैसेज वायरल:स्कूल 50% क्षमता से खुलेंगे, धरना-रैली बैन करने जैसा कोई आदेश जारी नहीं; सरकार ने बताया अफवाह

रायपुरएक वर्ष पहले

छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के नाम पर फर्जी मैसेज वायरल किया जा रहा है। तेजी से वायरल हुआ ये मैसेज लाखों लोगों तक पहुंचा है। अब छत्तीसगढ़ सरकार की फेक न्यूज कंट्रोल और स्पेशल मॉनिटरिंग सेल ने इसे फेक बताया है। इस वायरल हुए फेक मैसेज में कहा गया है कि मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कोरोना के नए वैरिएंट ओमिक्रॉन को लेकर बैठक ली।

वायरल मैसेज में दावा किया गया है कि CM भूपेश बघेल ने अफसरों को स्कूल, धरना-रैली वगैरह बैन करने के आदेश दिए हैं। इस जानकारी को छत्तीसगढ़ सरकार ने अफवाह बताया है। सरकार की तरफ से कहा गया है कि ऐसी कोई बैठक हुई ही नहीं, ना ही किसी तरह की आधिकारिक तौर पर जानकारी जारी की गई है। ये अफवाह है।

ये मैसेज किया जा रहा है वायरल, जिसे सरकार ने फेक बताया

  • प्रदेश में किसी भी प्रकार के धरना प्रदर्शन आगामी आदेश तक पूर्णतः प्रतिबंधित रहेंगे। किसी भी प्रकार के धरना प्रदर्शन की इजाजत फिलहाल नहीं दी जाएगी।
  • 50% क्षमता के साथ स्कूल खुलेंगे, 6 दिन में से 3 दिन बच्चे स्कूल में पढ़ने जाएंगे।
  • स्कूलों और कॉलेजों की ऑनलाइन कक्षाएं फिर से शुरू कर रहे हैं।
  • बिना मास्क वालों पर चालानी कार्रवाई होगी, रोको-टोको अभियान फिर से शुरू किया जाएगा।
  • निजी संस्थानों में वैक्सीन के दोनों डोज लगे होने पर ही प्रवेश मिलेगा।
  • समस्त कार्यालय नई गाइडलाइन आने तक 100% क्षमता के साथ खुले रहेंगे।
  • शादियों में अधिकतम दोनों पक्षों को मिलाकर कुल 200 लोग रहेंगे मौजूद।

(ये फेक न्यूज है)

दैनिक भास्कर ऐप पर मिलेगी ओमिक्रॉन की हर सही जानकारी

कोविड के नए वैरिएंट के नाम पर कई तरह की अफवाह हैं। ऐसे में सही जानकारी के लिए लोगों ने दैनिक भास्कर ऐप पर भरोसा जताया है। इसे इंस्टॉल कर छत्तीसगढ़ और देश में ओमिक्रॉन की हर ताजा अपडेट हासिल की जा सकती है। हाल ही में ICMR (इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च) के मुख्‍य वैज्ञानिक डॉ. रमन गंगाखेडकर ने बताया कि नए वैरिएंट के बारे में फिलहाल ज्यादा जानकारी नहीं है, लेकिन शुरुआती रिपोर्ट से पता चला है कि इससे संक्रमित होने पर अस्‍पताल में एडमिट होने की जरूरत नहीं आई है। उन्‍होंने कहा, हल्के लक्षणों को रोका नहीं जा सकता है, क्‍योंकि वैरिएंट लगातार आते रहेंगे। ओमिक्रॉन के अब तक सामने आए लक्षणों में सिरदर्द, थकान, बुखार, मांसपेशी में दर्द, गले में खराश जैसी बातें शामिल हैं।