चंदूलाल चंद्राकर मेडिकल कॉलेज विवाद:भाजपाइयों ने फूंका सरकार का पुतला, CSP से धक्का-मुक्की में फटे नेताओं के कपड़े; CM पर रिश्तेदारों को फायदा पहुंचाने का आरोप

रायपुर4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
कार्यकर्ताओं और पुलिस के बीच विवाद। - Dainik Bhaskar
कार्यकर्ताओं और पुलिस के बीच विवाद।

दुर्ग के प्राइवेट मेडिकल कॉलेज चंदूलाल चंद्राकर इंस्टीट्यूट की सरकारी खरीद को लेकर मामला गरमाता जा रहा है। विधानसभा में मंगलवार को हंगामा करने के बाद अब भाजपा नेता सड़क पर उतर आए हैं।गुरुवार को रायपुर में भाजपा युवा मोर्चा के नेताओं ने प्रदर्शन किया। सरकार का पुतला फूंकने के दौरान प्रदर्शनकारियों और CSP मनोज ध्रुव के बीच धक्का मुक्की हो गई। काफी देर तक हंगामा चलता रहा। फिर कुछ सीनियर नेताओं ने बीच बचाव कर मामला शांत कराया।

दरअसल, भाजपा युवा मोर्चा के कार्यकर्ता गुरुवार को बूढ़ापारा इलाके में प्रदर्शन के लिए एकत्र हुए थे। इस दौरान सरकार का अधजला पुतला छीनने की पुलिस ने कोशिश शुरू कर दी। इस पर भाजपा नेता भी भिड़ गए। इस दौरान कुछ नेताओं के कपड़े फंट गए। करीब 1 घंटे तक चला बवाल चलता रहा। प्रदर्शन करने पहुंचे नेताओं ने कहा कि प्रदेश के बेराजगारों की भलाई में काम करना छोड़कर CM बघेल अपने रिश्तेदार के प्राइवेट कॉलेज को खरीदकर उन्हें फायदा पहुंचाने की कोशिश में हैं।

ओपी चौधरी बोले- नया कॉलेज खोल ले सरकार
रायपुर के भाजपा कार्यालय में हुई बुधवार को हुई भाजयुमो की प्रेस कॉन्फ्रेंस में भाजपा नेता और रायपुर के पूर्व कलेक्टर ओपी चौधरी ने कहा कि एक निजी मेडिकल कॉलेज जिस पर 125 करोड़ रुपए का कर्ज है, अधिकांश लोन बिना गारंटी के है। ऐसी कॉलेज को छत्तीसगढ़ की कांग्रेस सरकार में भूपेश बघेल जी,अपने रिश्तेदारों को तोहफे में देने के लिए छत्तीसगढ़ के जनता की गाढ़ी कमाई के पैसे से अधिग्रहित करना चाहते हैं, यह दुर्भाग्य जनक है। सरकार को एक नया मेडिकल कॉलेज बनाकर उसका नामकरण चंदूलाल चंद्राकर जी के नाम पर करना चाहिए।

पुलिस से दो दिन पहले भी हुआ विवाद
दो दिन पहले भाजयुमों के राष्ट्रीय मंत्री रवि भगत के रायपुर आने के दौरान भाजपा कार्यकर्ताओं की रैली को पुलिस ने रोक लिया था। तब भी विवाद हुआ था। पुलिस नेताओं से रैली का रूट बदलने कह रही थी।

खबरें और भी हैं...