• Hindi News
  • Local
  • Chhattisgarh
  • Raipur
  • Resolution From Chhattisgarh To Make Rahul Gandhi AICC President : PCC Entrusts The Right To Appoint State President, Treasurer And AICC Delegates To The National President

राहुल गांधी को राष्ट्रीय अध्यक्ष बनाने पर सहमति:CM के प्रस्ताव पर PCC प्रतिनिधियों की मुहर; AICC डेलीगेट्स, प्रदेश अध्यक्ष बनाने का अधिकार भी सौंपा

रायपुर2 महीने पहले

छत्तीसगढ़ की प्रदेश कांग्रेस कमेटी-PCC के प्रतिनिधियों ने राहुल गांधी को कांग्रेस का राष्ट्रीय अध्यक्ष बनाने का प्रस्ताव पारित किया है। इसके साथ ही PCC ने कांग्रेस के भावी अध्यक्ष को प्रदेश अध्यक्ष, कोषाध्यक्ष और AICC में प्रतिनिधि नियुक्त करने का अधिकार भी सौंप दिया है। पार्टी के प्रदेश मुख्यालय राजीव भवन में हुई बैठक में दोनों ही प्रस्ताव सर्वसम्मति से पारित हुए हैं।

बैठक के बाद मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने बताया, अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष पद पर फिर से राहुल जी आरुढ़ हों इसके लिए मैंने प्रस्ताव किया। मोहन मरकाम जी ने, टीएस सिंहदेव जी ने, डॉ. चरणदास महंत जी ने, डॉ. प्रेमसाय सिंह टेकाम जी ने, डॉ. शिव डहरिया जी ने इसका समर्थन किया है। मोहन मरकाम जी ने AICC डेलीगेट का, प्रदेश अध्यक्ष, कोषाध्यक्ष और कार्यकारिणी के गठन के लिए अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष को अधिकृत करने का प्रस्ताव पेश किया। इसका समर्थन मैंने, टीएस सिंहदेव जी ने और अन्य साथियों ने किया। दोनों प्रस्ताव सर्वसम्मति से पारित कर दिए गए।

बैठक में मौजूद पीसीसी के प्रतिनिधि और पदाधिकारी।
बैठक में मौजूद पीसीसी के प्रतिनिधि और पदाधिकारी।

उन्होंने कहा, अध्यक्ष मोहन मरकाम जी को यह जिम्मेदारी दी गई है कि इस प्रस्ताव को अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के निर्वाचन अधिकारी मधुसूदन मिस्त्री तक पहुंचाएं। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा, राहुल गांधी को राष्ट्रीय अध्यक्ष बनाए जाने का प्रस्ताव राजस्थान प्रदेश कांग्रेस कमेटी की ओर से आया है। छत्तीसगढ़ दूसरा राज्य है जहां से ऐसा प्रस्ताव जा रहा है। संभव है कि एक-दो दिनों में दूसरी प्रदेश इकाइयों से भी ऐसा प्रस्ताव आए। अगर ऐसा आता है तो राहुल गांधी जी को अध्यक्ष पद संभालने पर विचार करना चाहिए। चुनाव में बहुत कम दिन रह गया है। मुझे लगता है कि सभी कार्यकर्ताओं की भावनाओं का सम्मान करते हुए राहुल जी इसके लिए सहमति प्रदान कर देंगे।

प्रदेश अध्यक्ष-कार्यकारिणी वाले प्रस्ताव का चुनाव पर असर नहीं

राष्ट्रीय अध्यक्ष चुनाव की प्रक्रिया 22 सितम्बर से शुरू हो रही है। उसी दिन से नामांकन पत्र मिलने लगेंगे। 24 सितम्बर से नामांकन शुरू होगा। अध्यक्ष चुनाव के लिए 30 सितम्बर तक नामांकन दाखिल किया जा सकता है। अगर एक से अधिक व्यक्तियों ने नामांकन किया तो चुनाव की नौबत आएगी। इसके लिए 17 अक्टूबर को मतदान की तिथि तय की गई है। मतगणना 19 अक्टूबर को होगा। कांग्रेस की केंद्रीय चुनाव अधिकरण के अध्यक्ष मधुसुदन मिस्त्री ने पिछले दिनों स्पष्ट किया था, कांग्रेस अध्यक्ष के चुनाव में इस प्रस्ताव का कोई असर नहीं होगा। जो भी अगले अध्यक्ष आएंगे, वह जो भी होगा, एक्स, वाई, जेड इससे उसको एक सहूलियत होगी।

बैठक शुरू होने से पहले महात्मा गांधी के चित्र पर माल्यार्पण हुआ।
बैठक शुरू होने से पहले महात्मा गांधी के चित्र पर माल्यार्पण हुआ।

कई उम्मीदवार हुए तो हर राज्य में चुनाव

मधुसुदन मिस्त्री ने बताया था, अगर एक से ज्यादा कैंडिडेट होंगे, तो देश के सभी राज्यों के अंदर प्रदेश कांग्रेस कमेटी के ऑफिस में वोटिंग होगी। इसके लिए वोटरों को आइडेंटिटी कार्ड जारी किए गए हैं। मतदान के लिए आइडेंटिटी कार्ड साथ में लेकर आना होगा। जिनके पहचान पत्र पर फोटो लगा है, उन्हें आधार कार्ड लाने की जरूरत नहीं है। जिन्होंने फोटो नहीं भेजे और उनका कार्ड तैयार हो गया है, उनको पहचान पत्र के साथ आधार कार्ड लाना अनिवार्य होगा।