• Hindi News
  • Local
  • Chhattisgarh
  • Raipur
  • Big Responsibility To Bhupesh Baghel: Sonia Gandhi Made Senior Observer Of Uttar Pradesh Elections, Will Play A Big Role In Election Campaign

भूपेश बघेल को बड़ी जिम्मेदारी:सोनिया गांधी ने उत्तर प्रदेश चुनाव का सीनियर ऑब्जर्वर बनाया, चुनाव अभियान में होगी अहम भूमिका

रायपुर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने दिल्ली विधानसभा चुनाव में भी प्रियंका गांधी के साथ रोड शो किया था। - Dainik Bhaskar
मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने दिल्ली विधानसभा चुनाव में भी प्रियंका गांधी के साथ रोड शो किया था।

छत्तीसगढ़ में राजनीतिक खींचतान के बीच मुख्यमंत्री भूपेश बघेल को कांग्रेस नेतृत्व ने बड़ी जिम्मेदारी सौंपी है। भूपेश बघेल को उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में कांग्रेस का सीनियर ऑब्जर्वर बनाया गया है। चुनाव अभियान में उनकी बड़ी भूमिका होगी।

कांग्रेस के राष्ट्रीय महासचिव केसी वेणुगोपाल ने शनिवार शाम मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की नियुक्ति का आदेश जारी कर दिया। पार्टी की राष्ट्रीय अध्यक्ष सोनिया गांधी के निर्देश पर यह आदेश तत्काल प्रभाव से लागू कर दिया गया है। इधर, मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा कि पार्टी उन्हें जो भी जिम्मेदारी देगी उसे पूरा करेंगे। मुख्यमंत्री लोकसभा चुनाव में भी उत्तर प्रदेश में कांग्रेस का चुनाव अभियान संचालित कर चुके हैं।

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल को ऐसी जिम्मेदारी मिलने की संभावना बहुत पहले से जताई जा रही थी। जुलाई में मुख्यमंत्री ने कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव और उत्तर प्रदेश प्रभारी प्रियंका गांधी से मुलाकात की थी। इसी दौरान इस भूमिका का ताना-बाना तैयार हुआ। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के सलाहकार राजेश तिवारी को पहले ही कांग्रेस का राष्ट्रीय सचिव बनाकर उत्तर प्रदेश के मैदान में उतारा जा चुका है। मुख्यमंत्री की टीम वहां बूथ स्तर पर कार्यकर्ताओं को प्रशिक्षण भी दे रही है।

जुलाई 2021 में हुई इस मुलाकात में उत्तर प्रदेश चुनाव में नई भूमिका का तानाबाना बुना गया था।
जुलाई 2021 में हुई इस मुलाकात में उत्तर प्रदेश चुनाव में नई भूमिका का तानाबाना बुना गया था।

OBC ध्रुवीकरण की भी कोशिश

बताया जा रहा है, मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के चेहरे के जरिए कांग्रेस उत्तर प्रदेश में पिछड़ा वर्ग के मतदाताओं के ध्रुवीकरण की कोशिश भी कर रही है। भूपेश बघेल देश के उन गिने-चुने मुख्यमंत्रियों में से हैं जो OBC हैं और सीधे तौर पर कृषक पृष्ठभूमि से आए हैं। ऐसे में उनका चुनाव अभियान में होना कांग्रेस के एजेंडे पर फिट बैठेगा।

असम चुनाव में भी की मेहनत पर कमाल नहीं कर पाए

इससे पहले मुख्यमंत्री भूपेश बघेल को असम विधानसभा चुनाव में सीनियर ऑब्जर्वर बनाकर भेजा गया था। छत्तीसगढ़ की एक बड़ी टीम वहां महीनों तक प्रचार अभियान में जुटी रही, लेकिन कांग्रेस वहां सत्ता से दूर ही रही। बिहार चुनाव में भी भूपेश बघेल को महत्वपूर्ण जिम्मेदारी मिली थी। पश्चिम बंगाल चुनाव प्रचार के लिए कोलकाता में आयोजित केवल एक जनसभा में सीएम भूपेश शामिल हुए थे।

खबरें और भी हैं...