• Hindi News
  • Local
  • Chhattisgarh
  • Raipur
  • BJP Leaders Arrived To Garland Bapu's Statue On Gandhi Jayanti, Chief Minister Bhupesh Said, Gandhi Is Only A Compulsion For Those Who Cannot Say Godse Murdabad

CG में गांधी बनाम गोडसे:गांधी की प्रतिमा पर माल्यार्पण करने पहुंचे ‌BJP नेता; CM बोले- जो गोडसे मुर्दाबाद नहीं कह सकते उनके लिए गांधी केवल विवशता

रायपुर4 महीने पहले
भाजपा नेताओं ने रायपुर के आजाद चौक स्थित महात्मा गांधी की प्रतिमा पर माल्यार्पण किया। वहीं मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने इसे उनकी विवशता बताया है।

महात्मा गांधी की जयंती पर छत्तीसगढ़ में एक बार फिर गांधी बनाम गोडसे की राजनीति शुरू हो गई है। बापू और शास्त्री जी की जयंती पर भाजपा नेताओं ने गांधी प्रतिमा पर माल्यार्पण किया। स्वच्छता अभियान चलाया और खादी का सामान खरीदा। इस बीच मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा, 'जो लोग महात्मा गांधी के हत्यारे गोडसे के लिए मुर्दाबाद नहीं कह सकते, उनके लिए गांधी केवल विवशता हो सकती है।'

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के जन्मदिन से शुरू हुआ सेवा और समर्पण अभियान के तहत भाजपा ने शनिवार सुबह आजाद चौक स्थित महात्मा गांधी की प्रतिमा पर माल्यार्पण किया। यहां पहुंचे नेताओं में पूर्व मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह, प्रदेश अध्यक्ष विष्णुदेव साय, संगठन महामंत्री पवन साय, सांसद सुनील सोनी, विधायक बृजमोहन अग्रवाल और पूर्व विधायक राजेश मूणत शामिल थे। यहां से गुरु घासीदास प्लाजा भाजपा नेता पहुंचे और झाड़ू लगाया। वहां से आनंद समाज वाचनालय के पास स्थित खादी दुकान पहुंचकर कपड़े आदि खरीदे। भाजपा कार्यकर्ताओं ने रायपुर शहर में लगी महापुरुषों की प्रतिमाओं को साफ किया और उनके ऊपर फूल माला चढ़ाया।

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने भाजपा के गांधी प्रेम पर हमला बोला है।
मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने भाजपा के गांधी प्रेम पर हमला बोला है।

इधर, किसान सम्मेलन के लिए बेमेतरा रवाना होने से पहले मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा, 'गांधी जी को पूरी दुनिया मान रही है। जो लोग गांधी जी को नहीं मानते थे, वे भी उन्हें मानने लगे हैं, उससे अच्छी बात क्या है।' मुख्यमंत्री ने कहा, 'मैंने विधानसभा में कहा था, गांधी को मान रहे हैं अच्छी बात है, लेकिन गोडसे मुर्दाबाद तो बोलिए।' मैंने कहा, 'गोडसे मुर्दाबाद उस समय भाजपा के एक भी विधायक के मुंह से शब्द नहीं निकला। जिसने गांधी की हत्या की, उसके मुर्दाबाद का नारा जो नहीं लगा सकते तो गांधी को मानना आपकी विवशता ही है। आप मन से नहीं मान रहे हैं। आप छद्म रूप से गांधी को नहीं मान सकते।'

कांग्रेस मुख्यालय राजीव भवन में प्रार्थना सभा आयोजित हुई। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल भी इसमें शामिल हुए।
कांग्रेस मुख्यालय राजीव भवन में प्रार्थना सभा आयोजित हुई। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल भी इसमें शामिल हुए।

रमन सिंह बोले, गांधी आज भी प्रासंगिक

पूर्व मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने कहा, 'यह हमारे लिए गौरव का विषय है कि महात्मा गांधी ने देश ही नहीं दुनिया के अंदर भी सत्य और अहिंसा का पाठ पढ़ाया। गांधी जी ने स्वच्छता का जो प्रयोग किया था, वह आज भी उतना ही प्रासंगिक है, जितना पहले था।'

2019 में भी हो चुका है यह बवाल

छत्तीसगढ़ विधानसभा ने 2 अक्टूबर 2019 को महात्मा गांधी पर विशेष सत्र आयोजित किया था। उस दिन मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने सदन में कहा था, 'देश में दो विचारधाराएं थीं, एक का प्रतिनिधित्व गांधी जी करते थे और दूसरे का प्रतिनिधित्व नाथूराम गोडसे। गांधी जी की जय-जयकार होती है तो गोडसे के विचारधारा की भर्त्सना भी होनी चाहिए। गोडसे का मुर्दाबाद भी होना चाहिए।'

इस बयान के बाद भाजपा विधायक हंगामा करने लगे थे। नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक ने कहा था, 'नाथूराम गोडसे को मुर्दाबाद कहना गाली देने के बराबर है। गांधीजी कभी भी हिंसा का रास्ता नहीं बताते थे।' बृजमोहन अग्रवाल ने कहा, 'चर्चा गांधी पर थी तो उन्हीं पर होनी चाहिए। गोडसे पर होगी तो उस पर चर्चा की जाएगी।'

रायपुर नगर निगम मुख्यालय में बापू की इस प्रतिमा का अनावरण हुआ है।
रायपुर नगर निगम मुख्यालय में बापू की इस प्रतिमा का अनावरण हुआ है।

नगर निगम में प्रतिमा का अनावरण

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने शनिवार को ही रायपुर नगर निगम मुख्यालय महात्मा गांधी सदन में महात्मा गांधी की प्रतिमा का अनावरण किया। उन्होंने बापू की प्रतिमा पर पुष्प अर्पित कर उन्हें विनम्र श्रद्धांजलि अर्पित की। मौके पर कृषि मंत्री रविन्द्र चौबे, स्कूल शिक्षा मंत्री डॉ. प्रेमसाय सिंह टेकाम, महापौर एजाज ढेबर, सांसद सुनील सोनी, विधायक सत्यनारायण शर्मा, बृजमोहन अग्रवाल, नगर निगम के सभापति प्रमोद दुबे, नेता प्रतिपक्ष मीनल चौबे आदि मौजूद थे।

खबरें और भी हैं...