जलती अर्थी छीनने पुलिस-भाजपाइयों में झड़प:कांग्रेस सरकार की अर्थी लेकर सड़क पर निकले युवा मोर्चा नेता, पुलिस को देख लगा दी आग

रायपुर3 महीने पहले
पुलिस और भाजपाइयों के बीच धक्का-मुक्की।

रविवार को भारतीय जनता युवा मोर्चा के कार्यकर्ताओं ने सरकार के खिलाफ एक विरोध प्रदर्शन किया । इसके तहत भाजयुमो नेताओं ने कांग्रेस सरकार की शव यात्रा निकाली। रायपुर के पुरानी बस्ती इलाके की गलियों में अचानक युवा मोर्चा के नेता एक अर्थी लेकर आ गए । सरकार के खिलाफ नारेबाजी करने लगे। यह सभी प्रदर्शनकारी रायपुर के धरना स्थल पहुंचे। पहले से ही धरना स्थल पर तैनात पुलिस ने जैसे ही भाजयुमो नेताओं के हाथों में अर्थी को देखा, जवानों की एक टीम प्रदर्शनकारियों की ओर लपक पड़ी। यह देखकर भाजयुमो नेताओं ने फौरन अर्थी में आग लगा दी।

प्रदर्शन के दौरान भाजयुमो नेता।
प्रदर्शन के दौरान भाजयुमो नेता।

इसके बाद जलती हुई अर्थी को छीनने के लिए पुलिस और भाजयुमो नेताओं के बीच धक्का-मुक्की हुई। पुलिस ने कई प्रयास किए मगर भाजपाइयों को अर्थी जलाने से रोक न सकी। थोड़े हंगामे के बीच भाजयुमो नेता अर्थी जलाने में कामयाब रहे। इसके बाद सभी एक साथ बुढ़ेश्वर चौक पहुंचे और यहां सरकार के खिलाफ नारेबाजी की।

भारतीय जनता युवा मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष अमित साहू ने बताया जशपुर में हुई घटना ने बता दिया है कि प्रदेश में कानून व्यवस्था की क्या स्थिति है। क्या आज कांग्रेस के संरक्षण में अपराधियों और नशे के तस्करों के हौसले इतने बढ़ गए हैं कि वह विसर्जन में जा रहे श्रद्धालुओं को कुचलने से नहीं हिचक रहे ? इस घटना में भाजयुमो पीड़ित लोगों के साथ है और हम लगातार उनकी आवाज उठाते रहेंगे, सत्ता में बैठे लोगों को इस बात का जवाब देना चाहिए कि आखिर गांजे से लदी गाड़ी छत्तीसगढ़ में प्रवेश कैसे कर गई जिसकी वजह से जशपुर के पत्थलगांव में यह हादसा हुआ ।

खबरें और भी हैं...