पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

विकास कार्य:जर्जर धनेली पुल को उड़ाने आज धमाका, 700 गड्‌ढे किए, 80 किलो विस्फोटक भरा

रायपुर10 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • 100 मीटर दूर से रिमाेट दबाकर करेंगे विस्फोट, ट्रैफिक पूरी तरह बंद

राजधानी के समीप रायपुर-बिलासपुर मार्ग में धनेली स्थित छोकरा नाला पर बने पुराने पुल के ढांचे को ब्लास्ट करके उड़ाया जाएगा। राजधानी व प्रदेश में ऐसा पहली बार होगा, जब किसी जर्जर पुल को तोड़ने के लिए उसे माइनिंग मैथड से बारूद लगाकर तोड़ने की योजना बनी है। मात्र 63 मीटर लंबे पुल को उड़ाने के लिए करीब 80 किलो विस्फोटक का इस्तेमाल किया जाएगा। पुल के जिन-जिन हिस्सों को तोेड़ा जाना है, उसमें 709 होल व छिद्र किए गए हैं। इन्हीं छिद्रों में विस्फोटक भरा जाएगा। सोमवार की रात 12 बजे से तड़के 4 बजे तक ब्लास्ट करके पुल के जर्जर हिस्से को तोड़ने का काम होगा। भास्कर टीम ने रविवार को धनेली पुल का जायजा लिया। अफसरों के मुताबिक माइनिंग ब्लास्ट में काम कर चुकी निर्माण कंपनी को यह जिम्मेदारी दी गई है। ब्लास्ट से धनेली पुल के तीन गर्डर व ऊपर के स्लैब को उड़ाया जाएगा। जगह-जगह होल बनाकर उसे पीओपी से फिलहाल बंद कर दिया गया है। विस्फोट करने से करीब एक घंटे पहले पूरे छिद्र में बारूद व विस्फोटक को भरने का काम होगा। पुल में बनाए गए होल के साथ वायर बिछाने के लिए लंबी कटंगी की गई है। इस वायर को करीब सौ मीटर की दूरी पर रखे रिमोट से कनेक्ट किया जाएगा। जानकारी के मुताबिक कंपनी के इंजीनियर व विशेषज्ञ रिमोट के बटन को सौ मीटर दूर से ही दबाकर विस्फोट करेंगे। सुरक्षा के लिहाज से ऐसा किया जाएगा। इस दौरान सुरक्षा में किसी तरह की चूक ना हो, इसलिए सड़क यातायात को पूरी तरह से बंद रखा जाएगा। इस दौरान रायपुर-बिलासपुर मार्ग पर नए पुल व आसपास से भी कोई ट्रैफिक नहीं गुजर सकेगा। पीडब्ल्यूडी और पुलिस अफसरों की टीम ने पूरी प्लानिंग कर ली है। अफसरों ने बताया है कि ब्लास्टिंग कार्य की पूर्णता अवधि में समीप स्थित सभी पुलों एवं मार्गाें से यातायात पूर्णतः प्रतिबंधित रहेगा।

ढाई करोड़ में बनेगा नया पुल : तीन साल से कंडम पड़े पुल को नए सिरे से बनाने के लिए करीब ढाई करोड़ रुपए खर्च होंगे। ब्रिज को बनाने के लिए एक्सपर्ट इंजीनियरों की टीम ने निरीक्षण कर लिया है। इसके बाद ही ब्लास्ट करके पुल तोड़ने का निर्णय हुआ है। अफसरों का कहना है कि इस पुल का पिलर मजबूत है लेकिन ऊपर का पूरा हिस्सा कमजोर हो गया है। इसके बाद विभाग ने पिलर के ऊपर बने पूरे ढांचे व स्लैब को तोड़कर नया बनाने का निर्णय लिया है। जिस भी निर्माण एजेंसी को पुल बनाने की जिम्मेदारी मिलेगी, उसे काफी सावधानी से स्लैब को तोड़ना होगा ताकि पिलर क्षतिग्रस्त ना हो।

जर्जर कैसे हुआ, जांच भी
दूसरी ओर, मात्र 5 साल में ही पुल जर्जर कैसे हो गया, अब इसकी जांच भी होगी। जांच कमेटी गठित कर इस पर जल्द ही कार्रवाई शुरू होगी। धनेली के पास नाले पर पुल का निर्माण पीडब्ल्यूडी के एनएच संभाग ने किया था। जांच के दायरे में एनएच डिविजन के तत्कालीन इंजीनियर व निर्माण एजेंसी आएगी।
तीन दिन तक चला काम
धनेली पुल के ढांचे को ब्लास्ट करने के लिए इंजीनियरों की टीम वहां जुट गई है। पुल के जिस गर्डर व स्लैब को तोड़ना है, उसमें छेद करने का काम तीन दिन से चल रहा था, जिसे रविवार को पूरा कर दिया गया है। इसमें महत्वपूर्ण तथ्य यह भी है कि विस्फोट के दौरान पुल के पिलर को किसी तरह की क्षति ना पहुंचे, इसका विशेष इंतजाम किया जा रहा है।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- चल रहा कोई पुराना विवाद आज आपसी सूझबूझ से हल हो जाएगा। जिससे रिश्ते दोबारा मधुर हो जाएंगे। अपनी पिछली गलतियों से सीख लेकर वर्तमान को सुधारने हेतु मनन करें और अपनी योजनाओं को क्रियान्वित करें।...

और पढ़ें