CG में 22 लाख से अधिक लोगों को बूस्टर:बीमार बुजुर्गों, स्वास्थ्य कर्मियों और फ्रंटलाइन वर्कर्स को लगेगा तीसरा डोज; अलग से पंजीयन जरूरी नहीं

रायपुर4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

छत्तीसगढ़ में सोमवार से 22.60 लाख लोगों को कोरोना टीके की बूस्टर डोज लगनी शुरू होगी। टीके की यह अतिरिक्त खुराक बीमार बुजुर्गों, स्वास्थ्य कर्मियों और फ्रंटलाइन वर्कर्स को लगाई जानी है। स्वास्थ्य विभाग ने इसके लिए तैयारी पूरी कर ली है। सुबह 10.30 बजे टीकाकरण की यह प्रक्रिया शुरू होगी।

राज्य टीकाकरण अधिकारी डॉ. वी.आर. भगत ने बताया, प्रदेश में कोरोना टीके की बूस्टर डोज पहले से संचालित केंद्रों पर ही लगाई जाएगी। इसके लिए अलग से पंजीयन कराने की जरूरत नहीं है। सुविधा के लिए ऑनलाइन टाइम स्लाॅट बुक कराया जा सकता है। केंद्र पर पहुंचने पर पहले पंजीयन के समय इस्तेमाल पहचान पत्र और मोबाइल नंबर का ही इस्तेमाल करना जरूरी है। उसी के आधार पर प्रक्रिया को आगे बढ़ाया जाएगा।

डॉ. भगत ने बताया, इस चरण के तहत एक अतिरिक्त डोज दी जानी है। इसके लिए 16 लाख से अधिक ऐसे बुजुर्ग अनुमानित हैं जो गंभीर बीमारियों से जूझ रहे हैं। इनके साथ तीन लाख 40 हजार से अधिक स्वास्थ्य कर्मियों और 3 लाख 20 हजार के करीब फ्रंटलाइन वर्कर्स को कोरोना टीके की यह तीसरी डोज लगनी है। डॉ. भगत ने बताया, सामान्य टीकाकरण के साथ इस चरण के लिए भी कोरोना टीके की पर्याप्त खुराकें मौजूद हैं।

दूसरा डोज लगे 9 महीने हो गए हों तो केंद्रों पर पहुंचे

कलेक्टर सौरभ कुमार ने बताया, ऐसे सभी लोग जिनके दूसरे डोज के बाद 9 महीने का समय बीत गया है, इस खुराक के पात्र होंगे। ऐसे लोगों को प्रिकॉशन डोज के रूप में एक अतिरिक्त खुराक लगाई जाएगी।10 जनवरी को जिले के 37 सरकारी कार्यालयों में सुबह 10.30 बजे से टीकाकरण शुरू होगा।

यह केंद्र कमिश्नर कार्यालय, कलेक्टर कार्यालय, पुलिस अधीक्षक कार्यालय, जिला पंचायत कार्यालय, नगर निगम रायपुर, नगर निगम बीरगांव, संयुक्त संचालक स्वास्थ्य सेवाएं जैसे कार्यालयों में बनेंगे। इन कार्यालयों में कर्मचारी-अधिकारी अपने 60 वर्ष से अधिक के मोबिलिटी वाले परिजनों को भी टीका लगवा पाएंगे।

खबरें और भी हैं...