लॉकडाउन में इनकी ऐश:रायपुर के बंद पड़े बार में घुसे चोरों ने बीयर पी, स्नैक्स खाकर वहीं सो गए, फिर 4 दिनों तक रोज आते रहे; वाइन की 50 बोतलें, राशन और TV ले गए

रायपुर6 महीने पहले
इस जगह पर चोर बार के काउंटर पर हाथ साफ करता दिख रहा है। फिलहाल इन बदमाशों से पुलिस पूछताछ कर रही है।

रायपुर में लॉकडाउन के दौरान शहर में पुलिस की गाड़ियों के लंबे काफिले की तस्वीरें हर शहरी ने देखी है। ये संदेश होता है जिसमें पुलिस कहती है, हम हैं... आप सुरक्षित हैं। मगर रायपुर के रिंग रोड, जहां पुलिस की इसी तरह की गश्त होती रहती है, वहां चोरों ने एक बड़ी वारदात को अंजाम दिया। 5 बदमाश भाटागांव के जिलेट बार में ऊपर से सीढ़ी लगाकर घुसे। फिर 52 शराब की बोतलें, 70 से अधिक बीयर की बोतलें, बार का डिस्पले, काउंटर में रखी महंगी वाइन की बोतलें, किचन में पड़ी आटे की बोरी, आलू, प्याज, सॉस, LED TV, बर्तन चुरा ले गए।

इस मामले की छानबीन पुरानी बस्ती पुलिस कर रही है। चोरी का सामान जिन्हें बेचा गया उनसे वापस हासिल करने के प्रयास में अफसर लगे हैं।
इस मामले की छानबीन पुरानी बस्ती पुलिस कर रही है। चोरी का सामान जिन्हें बेचा गया उनसे वापस हासिल करने के प्रयास में अफसर लगे हैं।

चोरों ने यहां हाथ साफ करने के बाद बाहर इन चीजों को बेच दिया। हैरत की बात ये कि सब कुछ करीब 4 दिनों तक होता रहा। चोर बार में आते थे, बीयर पीते थे, खाने-पीने की चीजें खाते और यहीं सो जाते थे। इसके बाद हर दिन कुछ न कुछ चुराकर ले जाते थे। जब बार संचालक बुधवार को बार पहुंचे तो उन्हें पता चला और फिर पुलिस को जानकारी दी गई। जांच के लिए बार पहुंची पुलिस ने CCTV फुटेज के जरिए चोरों की पहचान की। फिलहाल उन्हें को हिरासत में लेकर पूछताछ जारी है। अब तक की जांच में ये बात भी सामने आ रही है कि हिरासत में लिए गए आरोपियों ने 1 साल पहले भी इसी बार में चोरी की थी।

बार का संचालक कोरोना संक्रमण से परेशान, इधर फायदा उठाते रहे चोर
बार के संचालक सत्यम तिवारी ने बताया कि हाल ही में उनकी भाभी कोविड संक्रमित थीं, पूरा परिवार अस्पताल के चक्कर काट रहा था। उनकी मौत हो गई। मैं इन्हीं परेशानियों से जूझ रहा था और इधर चोर अपनी करतूत को अंजाम दे रहे थे। सत्यम के मुताबिक 22 अप्रैल को पहली बार ये आरोपी बार में घुसे। इसके बाद 26 तारीख तक इनका आना जाना चलता रहा। ये बात CCTV कैमरे देखने पर पता चला। चोरी करने के लिए इन्होंने अंदर कुछ लाइटें जला दी थीं। बार के पास से गुजर रहे सत्यम के एक परिचित ने फोन करके लाइट चालू होने की बात सत्यम को बताई, मगर पारिवारिक कारणों से वो ध्यान नहीं दे पाए। बुधवार को बार आए तो अंदर बिखरी चीजें, टूट दरवाजों को देखकर समझ गए कि यहां क्या हाेता रहा।

इन्हीं युवकों ने चोरी को अंजाम दिया अब इनसे पूछताछ जारी है।
इन्हीं युवकों ने चोरी को अंजाम दिया अब इनसे पूछताछ जारी है।

आबकारी विभाग ने सील किया था बार, चोर बेचते रहे सामान
सत्यम ने बताया कि पुलिस ने युवकों को मुस्तैदी से पकड़ तो लिया मगर बार में चोरी हुआ सामान नहीं मिल रहा। उन्होंने बताया कि लॉकडाउन की वजह से बार को आबकारी विभाग के अफसरों ने सील कर दिया था। चोरी के बारे में मैंने आबकारी विभाग को भी जानकारी दी है।

खबरें और भी हैं...