पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

बारहवीं सीजी बोर्ड परीक्षा:सीजी 12वीं आंसरशीट कल से, 5 दिन बाद वहीं जमा

रायपुर19 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

बारहवीं सीजी बोर्ड परीक्षा के लिए प्रश्नपत्र और आंसरशीट 1 जून, मंगलवार से छात्रों को उन्हीं स्कूलों से दी जाएगी, जहां वे पढ़ते हैं। छात्र जो भी प्रश्नपत्र और आंसरशीट ले जाएंगे, उन्हें ठीक 5 दिन बाद खुद जाकर उसी स्कूल में इसे जमा भी करना होगा। अर्थात, कोई छात्र अगर किसी एक विषय का प्रश्नपत्र और आंसरशीट 1 जून को स्कूल से ले जाता है, तो इसे बनाकर उसे 6 जून को उसी स्कूल में अनिवार्य रूप से जमा करना होगा।

डाक या कूरियर से कोई आंसरशीट स्वीकर नहीं होगी, यानी छात्र को ही स्कूल जाना होगा। प्रदेश में 3 लाख और रायपुर में 35 हजार छात्र सीजी-बारहवीं परीक्षा में शामिल हो रहे हैं। माध्यमिक शिक्षा मंडल ने स्कूलों को निर्देश दिया है कि वे छात्रों को बारी-बारी से या कोई सिस्टम बनाकर इस तरह से स्कूलों में बुलाएं ताकि भीड़ न लगे और कोरोना फैलने का खतरा न पैदा हो जाए। स्कूलों से छात्रों को आंसरशीट 5 दिन तक यानी 5 जून तक बांटी जाएंगी। अर्थात, 5 जून के जो प्रश्नपत्र और आंसरशीट छात्र ले जाएंगे, उन्हें इसे 10 जून को जमा करना होगा। इसके लिए स्कूल छुट्टी वाले दिन भी खुले रहेंगे। गौरतलब है, संक्रमण की वजह से बारहवीं सीजी बोर्ड की परीक्षा भी नए फार्मूले से होगी।

इसके तहत छात्र केंद्र में आकर नहीं, बल्कि घर से पेपर देंगे। परीक्षा के लिए संबंधित स्कूलों से आंसरशीट व प्रश्नपत्र बांटे जाएंगे। जवाब लिखने के बाद छात्रों को संबंधित स्कूलों में ही निर्धारित समय में आंसरशीट को जमा करना होगा। माध्यमिक शिक्षा मंडल के अफसरों का कहना है कि आंसरशीट देर से स्वीकार नहीं की जाएगी। ऐसा हुआ तो छात्र को उस पेपर में अनुपस्थित मान लिया जाएगा। माध्यमिक शिक्षा मंडल के अफसरों का कहना है कि छात्र जिस स्कूल से आंसरशीट प्राप्त करेंगे, बाद में वहीं जमा करेंगे। डाक या स्पीड पोस्ट से भेजी गई आंसरशीट स्वीकार नहीं की जाएगी।

1 जून से 5 जून तक आंसरशीट का वितरण किया जाएगा। यदि किसी छात्र ने 1 जून को आंसरशीट स्कूल से प्राप्त की है, तो उसे जवाब लिखकर 6 जून को अनिवार्य रूप से उत्तरपुस्तिका जमा करनी होगी। उत्तरपुस्तिका प्राप्त व जमा करने के लिए अवकाश के दिनों में भी परीक्षा केंद्र खुले रहेंगे।

नए फार्मूले से होगी परीक्षा
बारहवीं की परीक्षा के लिए शुरुआत में जो शेड्यूल जारी किया गया था, उसके अनुसार 3 मई से परीक्षा शुरू होने वाली थी। परीक्षा का आयोजन केंद्र में होना था। लेकिन कोरोना संक्रमण की वजह से परीक्षा स्थगित की गई। बाद में नए फार्मूले से आयोजित करने के निर्देश जारी हुए। इसका फायदा छात्रों को मिलेगा। बड़ी संख्या में छात्र पास होंगे। पिछले वर्षों में यह देखा गया है कि बारहवीं सीजी बोर्ड में पास करने वाले छात्रों की संख्या करीब 75 से 80 प्रतिशत थी। इस बार 90 प्रतिशत से अधिक छात्रों के पास होने का अनुमान है।

क्विक रीड; छात्र अच्छे से समझ लें, उन्हें ये करना है
1. जिस स्कूल में पढ़ते हैं, 1 जून से उन्हें वहीं से प्रश्नपत्र व आंसरशीट मिलेगी।
2. जो प्रश्नपत्र जिस तारीख को ले जाएंगे, ठीक 5 दिन बाद उसे जमा करना है।
3. डाक या कूरियर स्वीकार नहीं होंगे, अर्थात छात्र को खुद स्कूल जाना होगा।
4. जो छात्र 5 दिन में आंसरशीट नहीं जमा करेंगे, उन्हें अनुपस्थित माना जाएगा।
5. सिर्फ कोरोना संक्रमित छात्र सबूत देने पर ही दूसरों से अांसरशीट मंगवा सकेंगे।
6. अाखिरी अांसरशीट 10 जून को जमा होगी। इसके बाद सिस्टम बंद हो जाएगा।

खबरें और भी हैं...