पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

कोरोना के कारण 10वीं-12वीं पर बड़ा फैसला:सीजी बोर्ड की परीक्षा ऑफलाइन ही, पर संक्रमित छात्रों की परीक्षा अलग से होगी

रायपुरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • 15 अप्रैल और 3 मई से शुरू हाेगी परीक्षा

छत्तीसगढ़ माध्यमिक शिक्षा मण्डल की दसवीं बोर्ड की परीक्षाएं 15 अप्रैल से एक मई तक होंगी। इसी तरह बारहवीं बोर्ड की परीक्षाएं 3 मई से 24 मई तक होंगी। दोनों परीक्षाएं ऑफलाइन मोड में होंगी, यानी छात्रों को सेंटर पर जाकर परीक्षा देनी होगी। कोरोना पीड़ित छात्र को परीक्षा में बैठने की अनुमति नहीं होगी।

उनके लिए अथवा लॉकडाउन और कंटेनमेंट जोन के कारण अनुपस्थित छात्रों के लिए परीक्षा अलग से ली जाएगी। मालूम हो कि कोरोना संक्रमण की वजह से छात्रों का साल बर्बाद न हो, इसको ध्यान में रखते हुए दसवीं एवं बारहवीं बोर्ड की परीक्षाएं तय समय-सारिणी के अनुसार लेने का निर्णय लिया है। कोरोना को ध्यान में रखते हुए बोर्ड द्वारा छात्रहित में निर्णय लिया गया है।

छात्रों के प्रवेश पत्र तथा परीक्षा केन्द्रों के अधिकारियों-कर्मचारियों के ड्यूटी आदेश के आधार पर परीक्षा केन्द्र तक आने-जाने की अनुमति रहेगी। बोर्ड ने यह निर्णय लिया है कि जो परीक्षार्थी कोरोना संक्रमण, लॉकडाउन, कंटेनमेंट जोन आदि के कारण किसी विषय या सभी विषयों की परीक्षा में अनुपस्थित रहते हैं, तो उनकी अंकसूची में अनुपस्थित न रहकर ‘सी’ लिखा जाएगा। ऐसे विद्यार्थी को उन विषय में अंक नहीं दिए जाएंगे। परन्तु उसे पास श्रेणी में उत्तीर्ण माना जाएगा। ऐसे विद्यार्थी जिनकी अंकसूची में ‘सी’ अंकित है। उनके लिए पूरक परीक्षा के साथ विशेष परीक्षा आयोजित की जाएगी।

मान्यता प्राप्त स्कूल ही होंगे सेंटर: गोयल
माध्यमिक शिक्षा मण्डल के सचिव डॉ. विजय गोयल ने बताया कि सोशल डिस्टेंसिंग को ध्यान में रखते हुए सभी मान्यता प्राप्त शालाओं को परीक्षा केन्द्र बनाया गया है। कक्ष की बैठक क्षमता के अनुरूप 50 प्रतिशत छात्रों को ही उस कक्ष में बैठाया जाएगा।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आज घर के कार्यों को सुव्यवस्थित करने में व्यस्तता बनी रहेगी। परिवार जनों के साथ आर्थिक स्थिति को बेहतर बनाने संबंधी योजनाएं भी बनेंगे। कोई पुश्तैनी जमीन-जायदाद संबंधी कार्य आपसी सहमति द्वारा ...

    और पढ़ें