नए वैरिएंट वाले देशों से रोकें आवाजाही:CM ने कहा- पहली और दूसरी गलती से सबक ले केंद्र सरकार; छत्तीसगढ़ में संक्रमण दर दोगुनी हुई

रायपुर8 महीने पहले

कोरोना के नए वैरिएंट ओमिक्रॉन को लेकर उपजी चिंताओं के बीच मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने विदेशों से आवाजाही काे नियंत्रित करने की मांग उठाई है। मुख्यमंत्री ने कहा है, जिन देशों में कोरोना का नया वैरिएंट मिला है, वहां से आवाजाही पर रोक लगाई जानी चाहिए। उन्होंने कहा, केंद्र सरकार को संक्रमण की शुरुआत और दूसरी लहर के दौरान हुई गलतियों से सबक लेने की सलाह दी।

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने रायपुर में पत्रकारों से चर्चा में कहा, पहली लहर के समय ही आवाजाही रोक दी होती तो हमें इतना नुकसान नहीं होता। तब तो "नमस्ते ट्रंप' करा रहे थे। "नमस्ते ट्रंप' और मध्य प्रदेश में सरकार गिराने के चक्कर में उन्होंने देरी की, जिसका नुकसान पूरे देश को भुगतना पड़ा। मुख्यमंत्री ने कहा, तीसरे वैरिएंट के लिए पहली और दूसरी गलती से सबक ले लेना चहिए।

मुख्यमंत्री ने कहा, जहां भी जिस देश में भी नया वैरिएंट मिल रहा है वहां से आवाजाही रोकी जाए। अंतरराष्ट्रीय आवागमन को नियंत्रित किया जाए और वहां से लौटे लोगों की चेक किया जाए। कोरोना संक्रमण की शुरुआत में "नमस्ते ट्रंप' जैसे आयोजनों पर कांग्रेस पार्टी शुरू से ही हमलावर रही है। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ऐसा कई बार कह चुके हैं।

छत्तीसगढ़ में दोगुनी हुई संक्रमण दर
इन बयानों के बीच छत्तीसगढ़ में कोरोना की संक्रमण की स्थिति चिंताजनक होती जा रही है। रविवार को संक्रमण दर सामान्य दिनों से दोगुनी हो गई। 24 घंटों में केवल 12,996 नमूनों की जांच के बाद 30 लोगों में संक्रमण की पुष्टि हुई है। इस मान से पॉजीटिविटी रेट 0.23% हो गया। एक दिन पहले तक यह दर 0.12% ही थी। उससे भी पहले यह अधिक नीचे थी।

दुर्ग-रायपुर में 7-7 मरीज मिले हैं
रविवार को प्रदेश भर में 30 नए मरीज मिले। इनमें से 14 मरीज अकेले रायपुर और दुर्ग जिलों में पाए गए। कोरोना की दूसरी लहर के दौरान यह दोनों जिले बुरी तरह प्रभावित हुए थे। रायगढ़ और कोरबा में 3-3 मरीज मिले हैं। शनिवार को रायगढ़ में 10 मरीज मिले थे। बिलासपुर और धमतरी में 2-2 और बालोद, बलौदा बाजार, महासमुंद, जांजगीर-चांपा, दंतेवाड़ा और कांकेर में एक-एक मरीज की पुष्टि हुई है।

अस्पतालों में भी पहुंचने लगे मरीज
अगस्त के बाद पहली बार मरीजों को अधिक बेहतर इलाज की जरूरत महसूस की जा रही है। बताया जा रहा है, कुछ मरीजों को अस्पतालों में भर्ती कराना पड़ा है। इस समय प्रदेश भर में सक्रिय मामलों की संख्या 330 हो गई है। मार्च 2020 से अब तक प्रदेश के 10 लाख 6 हजार 763 लोग कोरोना से संक्रमित हो चुके हैं। वहीं इस महामारी की वजह से 13 हजार 593 लोगों की जान जा चुकी है। मौतों का क्रम अब भी जारी है। हालांकि रविवार को कोरोना से किसी मरीज की मौत रिपोर्ट नहीं हुई है।

खबरें और भी हैं...