हंगामे के बीच अनुपूरक बजट:मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने 2108 करोड़ रुपए का अनुपूरक पेश किया; विधानसभा कल तक के लिए स्थगित

रायपुरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

छत्तीसगढ़ विधानसभा में मंगलवार को हो रहे हंगामे के बीच दूसरा अनुपूरक बजट पेश किया गया। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कुल 2 हजार 108 करोड़ 62 लाख 84 हजार 389 रुपए का अनुपूरक बजट रखा। इसके साथ ही विधानसभा की कार्यवाही बुधवार सुबह 11 बजे तक के लिए स्थगित कर दी गई।

प्रश्नकाल में प्रधानमंत्री आवास योजना से जुड़े सवाल के साथ खड़ा हुआ हंगामा दोपहर बाद तक जारी रहा। वेल में आकर नारेबाजी करने की वजह से विधानसभा अध्यक्ष डॉ. चरणदास महंत ने पूर्व मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह सहित 11 भाजपा विधायकों को निलंबित कर दिया। उन्हें सभा कक्ष से बाहर जाने को कहा गया, लेकिन भाजपा विधायक वेल में ही बैठ गए। विधानसभा अध्यक्ष ने कार्यवाही काे थोड़ी देर के लिए स्थगित किया था।

सदन की कार्यवाही दोबारा शुरू हुई तो भाजपा विधायक वेल में ही मौजूद थे। उन्होंने नारेबाजी जारी रखी। इसकी वजह से ध्यानाकर्षण पर बात नहीं हो पाई। विधानसभा अध्यक्ष के कहने पर मंत्रियों ने विभिन्न पत्रों और प्रतिवेदनों को सदन के पटल पर रखा। इसी बीच मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने इस साल के दूसरे अनुपूरक बजट को पेश कर दिया। इसपर कल चर्चा होनी है। अनुपूरक बजट पेश होने के बाद सदन की कार्यवाही को बुधवार सुबह 11 बजे तक के लिए स्थगित कर दिया गया।

गांधी प्रतिमा के पास धरने पर बैठे भाजपा विधायक
सदन की कार्यवाही स्थगित होने के बाद भाजपा विधायक वेल से बाहर आये। वे लोग विधानसभा परिसर में महात्मा गांधी की प्रतिमा के पास बैठ गये। भाजपा विधायकों ने सरकार पर गरीबों के लिए चल रही केंद्र सरकार की योजनाओं की उपेक्षा करने का आरोप लगाया। नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक ने कहा, सरकार केवल नई-नई घोषणाएं कर रही है, वह गरीबों के लिए कुछ नहीं करना चाहती।