छत्तीसगढ़ में कोरोना:पहली बार नए मरीज से ज्यादा ठीक होने वालों की संख्या, 16 हजार लोगों ने जीती कोविड से जंग,14 हजार नए संक्रमित मिले,पिछले 24 घंटे में 183 लोगों की जान गई

रायपुर6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
तस्वीर रायपुर के पंडरी बस स्टैंड की है। यहां अब हर आने=जाने वाले की जांच हो रही है। - Dainik Bhaskar
तस्वीर रायपुर के पंडरी बस स्टैंड की है। यहां अब हर आने=जाने वाले की जांच हो रही है।

छत्तीसगढ़ में बुधवार की रात तक 14 हजार 519 नए कोरोना संक्रमित मिले। ताजा रिपोर्ट में पिछले 24 घंटों में एक साथ 183 संक्रमित मरीजों के मौत की खबर है। एक साथ मौत का ये आंकड़ा पहली बार सामने आया है। पिछले हफ्ते हुए 10 मौत की जानकारी बुधवार की रिपोर्ट में दी। इस तरह से देखा जाए तो ताजा रिपोर्ट में 193 लोगों की मौत का जिक्र है। अब प्रदेश में एक्टिव मरीजों की संख्या 1 लाख 22 हजार 751 हो चुकी है। राज्य में 45 हजार 765 सैंपल जांचे गए। पूरे प्रदेश में अब तक 6467 लोगों की मौत हो चुकी है। पिछले साल से अब तक छत्तीसगढ़ में 5 लाख 88 हजार 818 लोगों को कोरोना ने अपनी चपेट में लिया है। बुधवार को ठीक होने वालों की संख्या नए मरीजों से अधिक थी, ऐसा पहली बार हुआ है। विभाग के मुताबिक 16 हजार 188 लोग बीते 24 घंटे में ठीक हुए।

इन प्रमुख शहरों में कोरोना का हाल
रायपुर शहर में पिछले 24 घंटे में 3081 नए मरीज मिले हैं। 67 लोगों की मौत हुई, अब राजधानी में एक्टिव मरीज 20 हजार 390 हैं। दुर्ग में 1659 नए मरीज, 16 लोगों की जान गई अब यहां एक्टिव मरीज 12400 हैं। बिलासपुर में 1260 नए मरीज मिले, 32 लोगों की मौत हुई। अब यहां एक्टिव मरीज 10123 हैं। राजनांदगांव में 885 नए मरीज मिले, यहां एक्टिव केस 8590 हैं। रायगढ़ में 855 नए मरीज मिले, 9 लोगों की मौत हुई है। अब एक्टिव केस 6223 हैं। कोरबा में 699 लोग संक्रमित हुए, 7 लोगों की मौत हुई। अब यहां 7343 एक्टिव मरीज हैं। बलौदाबाजार में 625 नए संक्रमित मिले, 3 लोगों की जान गई। यहां 7 हजार 631 एक्टिव मरीज हैं।

जांच रिपोर्ट में देरी 7 लैब को नोटिस
स्वास्थ्य विभाग ने कोरोना की आरटीपीसीआर जांच के बाद समय-सीमा में आई.सी.एम.आर. पोर्टल पर जानकारी दर्ज नहीं करने वाले सात लैबों को नोटिस जारी किया है। इनमें राजधानी रायपुर के छह और भिलाई का एक लैब शामिल है। विभाग ने इन लैबों के प्रबंधकों को नोटिस जारी कर दो दिनों के भीतर जवाब पेश करने को कहा है। अगर जवाब नहीं दिया गया तो तो छत्तीसगढ़ पब्लिक एक्ट, छत्तीसगढ़ एपिडेमिक डिजीज कोविड-19 रेगुलेशन, 2020 के तहत इनका लायसेंस रद्द करने की बात भी विभाग ने कही है। स्वास्थ्य विभाग ने रायपुर के मेट्रोपोलिस हेल्थकेयर, पैथकाइंड डायग्नोस्टिक, एसआरएल लैब, लाइफवर्थ डायग्नोस्टिक, एएम पैथलैब, रिवारा लैब और भिलाई के श्रीशंकराचार्य इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंसेज को नोटिस जारी किया है।

दुर्ग में नया कोविड आइसोलेशन सेंटर शुरू
गृह मंत्री ताम्रध्वज साहू ने छत्तीसगढ़ लाइवलीहुड कॉलेज सोसायटी भिलाई में 150 बेड के कोविड आइसोलेशन सेंटर का शुरू किया। उन्होंने जिला प्रशासन के अधिकारियों और डॉक्टरों के साथ कमरों में जाकर सुविधाओं और व्यवस्थाओं का जायजा लिया। यहां 24 घंटे डाक्टर और नर्सिंग देखभाल के साथ ही भोजन, पानी और सफाई का ध्यान रखा जाएगा। यहां 40 बिस्तरों में ऑक्सीजन सुविधा भी है।

धमतरी में ऑक्सीजन का इंतजाम
धमतरी में जल्द ही जिले में 300 जम्बो आक्सीजन सिलेण्डर मिलेंगे। कलेक्टर जय प्रकाश मौर्य ने बताया कि मुम्बई की आक्सीजन उत्पादक एक संस्था को 300 जम्बो सिलेण्डर खरीदने पत्र भेजा गया है। कम्पनी ने सात से दस दिनों के भीतर जम्बो सिलेण्डर भेजने की बात कही है। कलेक्टर के मुताबिक जम्बो सिलेण्डर मिल जाता है, तो जिले के 180 ऑक्सीजन बेड की सुविधा लोगों को मिल सकेगी।

खबरें और भी हैं...