पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

काश ऐसा ही होता:एक साल पहले सरकारी आंकड़े वाली रिपोर्ट में मौत का कॉलम ही नहीं था, अब वहां लिखा है 10 हजार 158 जानें गईं, 21 से 1 लाख 31 हजार हो गए एक्टिव केस

रायपुर5 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

छत्तीसगढ़ में 7 मई 2021 की रात जारी किए गए सरकारी आंकड़ों को देखकर हैरानी होती है। ठीक एक साल पहले यानी की 7 मई 2020 तक प्रदेश के कोविड आंकड़ों की जो रिपोर्ट जारी की जाती रही, उस शीट में मौत का कोई कॉलम ही नहीं था। उस समय तक शायद प्रशासन यह नहीं मान रहा था, कि कोरोना जानलेवा भी हो सकता है। 29 मई 2020 को पहली मौत के बाद ये कॉलम भी जोड़ा गया। अब हालात इतने भयावह हैं कि एक साल बाद मौतों वाले कॉलम का आंकड़ा है 10 हजार 158। ये 10 हजार से ज्यादा वो लोग हैं जो पिछले साल 29 मई से अब तक कोरोना संक्रमण से जूझते हुए अपनी जान गंवा बैठे।

पिछले 24 घंटे में कोरोना
छत्तीसगढ़ में शुक्रवार की रात जारी सरकार की तरफ से आंकड़ों की मानें तो सिर्फ 24 घंटों में 208 संक्रमितों की मौत हो गई। प्रदेश के अब तक प्रदेश में 10 हजार 158 संक्रमित लोगों की जान जा चुकी है। प्रदेश में 13 हजार 628 नए कोरोना संक्रमित मिले। अब प्रदेश में एक्टिव मरीजों की संख्या 1 लाख 31 हजार 41 हो चुकी है। राज्य में कल शुक्रवार को 61 हजार 939 सैंपल जांचे गए। ठीक होने वालों की संख्या 13 हजार 39 रही।

इन प्रमुख शहरों में कोरोना का हाल
रायपुर शहर में पिछले 24 घंटे में 818 नए मरीज मिले हैं। 40 लोगों की मौत हुई, अब राजधानी में एक्टिव मरीज 10 हजार 470 है। दुर्ग में 443 नए मरीज, 11 लोगों की जान गई अब यहां एक्टिव मरीज 5233 हैं। बिलासपुर में 605 नए मरीज मिले, 30 लोगों की मौत हुई। अब यहां एक्टिव मरीज 8193 हैं।

राजनांदगांव में 506 नए मरीज मिले, 5 लोगों की मौत हुई। यहां एक्टिव केस 6948 हैं। रायगढ़ में 1238 नए मरीज मिले, 14 लोगों की मौत हुई है। अब एक्टिव केस 11576 हैं। कोरबा में 801 लोग संक्रमित हुए, 15 संक्रमितों की मौत हुई। अब यहां 9037 एक्टिव मरीज हैं। छत्तीसगढ़ के नारायणपुर जिले में सबसे कम 48 मरीज, यहां 359 एक्टिव मरीज हैं।

तब दवा नहीं थी अब दवा है, 18+ वालों को आज से लग रहा टीका
7 मई 2020 की स्थिति से तुलना करें तो कुछ राहत देने वाली बातें भी हैं। 10 हजार से अधिक मरीज हर रोज ठीक हो रहे हैं। पिछले साल कोरोना संक्रमण की कोई दवा नहीं थी। अब इसकी वैक्सीन हमारे पास है। बुजुर्गों, फिर मध्यम आयु वर्ग के बाद अब 18+ उम्र के लोगों को भी टीका लग रहा है। सियासी और न्यायिक विवाद की वजह से रुका टीकाकरण 8 मई से शुरू कर दिया गया है।

अब तीन काउंटर बनेंगे
रायपुर में 18-44 आयु वर्ग के लोगों को अन्त्योदय, BPL तथा APL तीन कैटेगरी में टीका लग रहा है। हाईकोर्ट की दखल के बाद अब अन्त्योदय, BPL तथा APL राशन कार्ड वालों के लिए 3 अलग काउंटर बन रहे हैं। रायपुर शहर में सांस्कृतिक भवन चंगोराभाठा, पं. दीनदयाल उपाध्याय आडिटोरियम और जिला शिक्षा एवं प्रशिक्षण संस्थान (BTI) परिसर अभ्यास पूर्व मा. एवं प्रा. शाला शंकरनगर। बिरगांव नगर निगम क्षेत्र में अडवानी आलिकान उच्चतर माध्यमिक शाला बीरगांव मैं केंद्र बनाया गया है। दाऊ पोषण लाल चंद्रवंशी शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय परसतराई धरसींवा, कन्या उच्चतर माध्यमिक विद्यालय अभनपुर, सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र, आरंग और संस्कृतिक भवन, वार्ड कमांक 18, तिल्दा में केंद्र बनाया गया है।

इन दस्तावेजों के जरिए लगेगा टीका
इन केंद्रों में सुबह 8:00 बजे से पंजीयन का कार्य प्रारंभ हुआ, 9:00 बजे से टीकाकरण शुरू हो गया। नए नियम के मुताबिक अन्त्योदय और BPL श्रेणी के लिए कार्ड धारकों को निर्धारित आई.डी./दस्तावेज के साथ-साथ राशन कार्ड भी दिखाना होगा ,जबकि ए.पी.एल. श्रेणी के लिए निर्धारित पहचान पत्र आई.डी. जैसे आधार कार्ड, पेन कार्ड या अन्य मान्य दस्तावेज में से कोई एक दिखाना होगा। APL श्रेणी के लिए राशन कार्ड दिखाने की आवश्यकता नहीं होगी।

खबरें और भी हैं...