पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

सूरजपुर, जशपुर और अम्बिकापुर में आज से नाइट कर्फ्यू:सरकार ने दो दिन पहले लिया था फैसला, रात 8 बजे के बाद घर से निकलने पर पाबंदी; रात 11:30 तक होटलों से पार्सल की सुविधा

रायपुरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • तीनों कलेक्टरों ने जिले में जारी किया आदेश
  • आज रात से सड़कों पर बढ़ेगा पुलिस का पहरा

कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर के साथ छत्तीसगढ़ में प्रशासनिक सख्ती का दूसरा दौर भी शुरू हो गया है। राज्य सरकार के फैसले के दो दिन बाद ही सूरजपुर, जशपुर और अम्बिकापुर जिले में पहला नाइट कर्फ्यू लगा दिया गया है। सूरजपुर कलेक्टर रणवीर शर्मा, जशपुर कलेक्टर महादेव कांवरे और अम्बिकापुर कलेक्टर संजीव कुमार झा ने आज नाइट कर्फ्यू का आदेश जारी कर दिया। इसके मुताबिक रात आठ बजे के बाद बाजार बंद हो जाएंगे।

कलेक्टरों की ओर से जारी आदेश के मुताबिक, रात आठ बजे के बाद सुबह 6 बजे तक दुकानें नहीं खुलेंगी। रात 8 बजे के बाद दुकान खुली पाए जाने पर दुकानदार के खिलाफ कानूनी कार्रवाई की जाएगी। अति आवश्यक कार्य के अलावा लोगों का बाहर निकलना प्रतिबंधित रहेगा। अनावश्यक घूमते पाये जाने पर महामारी एक्ट के प्रावधानों के तहत कार्रवाई होगी।

सूरजपुर जिले में अभी कोरोना संक्रमण की रफ्तार चिंताजनक स्थिति में नहीं पहुंची है। सोमवार को सूरजपुर जिले में कुल 7 नये संक्रमित मरीज मिले हैं। इनको मिलाकर जिले में एक्टिव मरीजों की संख्या 254 हो गई है। वहीं जशपुर जिले में सोमवार को 32 नये मामले सामने आये हैं। इनको मिलाकर एक्टिव केस की संख्या 325 हो गई है। जशपुर में अभी तक 4 हजार 755 लोग कोरोना संक्रमण की चपेट में आ चुके हैं। इनमें से 38 की जान जा चुकी है। वहीं अम्बिकापुर जिले में कल संक्रमण के 56 नये केस सामने आये। जिले में एक्टिव मरीजों की संख्या अब 576 हो गई है।

होटलों से पार्सल सुविधा 11:30 तक

जशपुर कलेक्टर के आदेश में होटलों से खाने बंधवाकर घर ले जाने की सुविधा रात 10 बजे से 11.30 बजे तक दी गई है। इसके बाद ऐसे होटलों पर भी नाइट कर्फ्यू के प्रतिबंध लागू हो जाएंगे। इन आदेशों का पालन कराने के लिए पुलिस की तैनाती बढ़ाई जा रही है। वहीं अम्बिकापुर कलेक्टर के आदेश के मुताबिक पार्सल और टिफिन सर्विस वाले होटल रात 9 बजे तक ही खुले रह सकते हैं। उसके बाद उन्हें भी बंद करना होगा।

होम आइसोलेशन पर सख्ती

कलेक्टरों ने होम आइसोलेशन के मामलों में भी सख्ती का आदेश दिया है। कहा गया है कि होम आइसोलशन की शर्तों का कठोरता से पालन कराया जाये। अगर कोई उल्लंघन करता पाया जाता है तो प्रशासन से होम आइसोलेशन से निकालकर अस्पताल अथवा कोविड-केयर सेंटर में भर्ती करा देगा।

28 मार्च की बैठक में हुआ था फैसला

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की अध्यक्षता में 28 मार्च को हुई मंत्रियाें, अफसरों और व्यापारिक संगठनों के प्रतिनिधियों की बैठक के बाद प्रदेश में नाइट कर्फ्यू लगाने का फैसला हुआ था। सरकार ने स्थानीय परिस्थितियों के मुताबिक तत्काल फैसला लेने का अधिकार कलेक्टरों को सौंप दिया था। अगले दिन होली थी। त्यौहार बीतते ही इस आदेश को अमल में लाने की प्रक्रिया सरगुजा संभाग के जिलों से शुरू हुई है।

खबरें और भी हैं...

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- समय कड़ी मेहनत और परीक्षा का है। परंतु फिर भी बदलते परिवेश की वजह से आपने जो कुछ नीतियां बनाई है उनमें सफलता अवश्य मिलेगी। कुछ समय आत्म केंद्रित होकर चिंतन में लगाएं, आपको अपने कई सवालों के उत...

और पढ़ें