पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

अब राजधानी भी 10 दिन लॉक:सीएम ने समाज प्रमुखाें से बात की, फिर कलेक्टर को दिए लॉकडाउन के निर्देश

रायपुर8 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
कैबिनेट सदस्यों के साथ समाज प्रमुखाें से वीसी करते सीएम। - Dainik Bhaskar
कैबिनेट सदस्यों के साथ समाज प्रमुखाें से वीसी करते सीएम।
  • ऐसी सख्ती: इस बार सब्जी-फल, किराना दुकानें, बैंक और बाजार तक बंद
  • मेडिकल इमरजेंसी के अलावा किसी भी काम से निकले तो सीधे एफआईआर
  • इलाज के लिए अपने भवन और बेड देने को सभी समाज प्रमुख हुए सहमत

राजधानी में औसतन हर रोज 2000 कोरोना मरीज मिलने के बाद आखिरकार कलेक्टर ने 9 अप्रैल को शाम 6 बजे से लॉकडाउन लगाने की घोषणा कर दी। 19 अप्रैल को सुबह 6 बजे यह लॉकडाउन खत्म होगा। लेकिन इस बार के लॉकडाउन में जबर्दस्त सख्ती बरती गई है। लॉकडाउन में किराना और सब्जी दुकान वालों को छूट दी जाती थी, लेकिन इस बार किराना, सब्जी, कारोबारी दुकानें, बैंक, बाजार, कमर्शियल कांप्लेक्स, शॉपिंग मॉल सब बंद रहेंगे।

10 दिनों तक रायपुर जिले में हर तरह की गतिविधियां प्रतिबंधित कर दी गई हैं। लॉकडाउन में मेडिकल इमरजेंसी के अलावा किसी भी काम से घर से निकले तो सीधे एफआईआर की जाएगी। बिना वजह गाड़ियों में सड़क पर दिखाई दिए तो 15 दिन के लिए गाड़ी जब्त कर ली जाएगी। इसके बाद जुर्माना देने पर ही छोड़ा जाएगा। लॉकडाउन के दौरान पेट्रोल पंप खुले रहेंगे, लेकिन आम लोगों को पेट्रोल-डीजल नहीं मिलेगा। केवल सरकारी गाड़ियों, स्वास्थ्य सेवाओं से जुड़ी, एटीएम कैश वैन, स्टेशन और एयरपोर्ट से यात्रियों को लाने वाली गाड़ियां, एलपीजी डिलीवरी, मीडियाकर्मी, प्रेस वाहन, न्यूज पेपर हॉकर, परीक्षा दिलाने वाले छात्र इन सभी को पेट्रोल-डीजल मिलेगा, लेकिन इन सबको संबंधित पहचान पत्र दिखाना अनिवार्य होगा। लॉकडाउन के दौरान बाहरी राज्यों से आने वाले लोगों को ई-पास लेना अनिवार्य होगा। लेकिन रायपुर से बाहर जाने वालों ने अगर पहले से ट्रेन या फ्लाइट की टिकट बुक कराई है तो वे जा सकते हैं। रास्ते में जांच होती है तो उन्हें टिकट दिखाना अनिवार्य होगा।

सभी धार्मिक संस्थान, पर्यटन केंद्र, जिम बंद, शराब दुकानें भी नहीं खुलेंगी लॉकडाउन के सभी धार्मिक संस्थान मंदिर, मस्जिद, चर्च, गुरुद्वारा और सांस्कृतिक केंद्र पूरी तरह से बंद रहेंगे। व्यक्तिगत और सार्वजनिक किसी भी तरह के कार्यक्रम आयोजित करने की अनुमति नहीं होगी। जिले की सभी शराब दुकानों को भी बंद कर दिया गया है। आम लोगों के लिए पर्यटन स्थल, गार्डन, जिम, स्वीमिंग पूल, ऑडिटोरियम बंद रहेंगे। किसी भी तरह के प्रदर्शन, सभा, सार्वजनिक कार्यक्रम, रैली, जुलूस, धार्मिक, राजनैतिक आयोजन आदि पर बैन लगा दिया गया है। सभी प्राइवेट संस्थान बंद रहेंगे। बैंकों में भी तय तारीख तक किसी भी तरह के काम नहीं होंगे।

वेबिनार से बुधवार को सीएम भूपेश बघेल ने प्रदेशभर के समाज प्रमुखों से बात की।
वेबिनार से बुधवार को सीएम भूपेश बघेल ने प्रदेशभर के समाज प्रमुखों से बात की।

सीएम ने समाज प्रमुखाें से बात की, फिर कलेक्टर को दिए लॉकडाउन के निर्देश
मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने अपने मंत्रिमंडल के सदस्यों को लेकर राजधानी के विभिन्न समाज के प्रमुखों के साथ वीडियो कांफ्रेंसिंग की। इसमें उन्होंने बढ़ते कोरोना संक्रमण को रोकने के लिए आवश्यक मदद का आग्रह किया। इस दौरान समाज प्रमुखों ने भवनों को अस्थाई अस्पताल बनाने समेत सभी तरह के सहयोग का भरोसा दिलाया। इसके बाद सीएम ने रायपुर कलेक्टर और अन्य अफसरों के साथ चर्चा की और गंभीर स्थिति को देखते हुए राजधानी में लॉकडाउन लगाने पर अपनी सहमति दे दी।

कोरोना के इलाज में धन की कमी नहीं होगी: भूपेश
मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा कि प्रदेश में कोरोना संक्रमण की रोकथाम और मरीजों के इलाज के लिए धन की कोई कमी नहीं होगी। मुख्यमंत्री बुधवार को मंत्रिस्तरीय बैठक को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने जिलों को आवश्यकतानुसार राशि जारी करने के भी निर्देश दिए। इससे पहले सीएम ने तीन जिलों के लिए 7 करोड़ रुपए जारी कर दिए थे। मुख्यमंत्री ने कहा कि कोरोना मरीजों के इलाज के लिए कोविड सेंटर, जिला अस्पतालों, सामुदायिक और प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्रों में भी आवश्यक प्रबंध किए जाने की जरूरत है, ताकि रायपुर स्थित एम्स और मेडिकल कॉलेजों के अस्पतालों में मरीजों की भीड़ कम की जा सके।

मुख्यमंत्री ने स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों को निजी अस्पतालों में कोरोना मरीजों के इलाज की दर तय करने के निर्देश दिए। स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी मरीजों की स्थिति को ध्यान में रखते हुए उनकी केटेगरी का निर्धारण और इलाज के लिए रेफर करने के लिए सेंट्रल रेफरल सिस्टम तैयार करेंगे। बैठक में लोक स्वास्थ्य व यांत्रिकी मंत्री गुरु रुद्रकुमार ने निजी अस्पतालों में इलाज की दर निर्धारित करने का सुझाव दिया ताकि मरीजों से इलाज के नाम पर लूट ना हो।

मेडिकल-नर्सिंग अंतिम वर्ष के छात्रों की ड्यूटी लगेगी
स्वास्थ्य अमले और नर्सिंग स्टॉफ की कमी को दूर करने के लिए नर्सिंग, आयुर्वेद और मेडिकल के अंतिम वर्ष के छात्रों की सेवाएं ली जाएंगी। मंत्री चौबे ने बताया कि बैठक में ऑक्सीजन बेड की कमी को दूर करने के लिए स्वास्थ्य विभाग को आदेश दिए गए हैं। सामान्य लक्षण वाले मरीजों के लिए अलग बेड की व्यवस्था होगी। या फिर उन्हें नए सेंटरों में भर्ती किया जाएगा। उद्योग संगठनों से मेडिकल ऑक्सीजन सिलेंडर के उत्पादन की भी अपील की गई है। ताकि ऑक्सीजन सिलेंडर की कमी ना होने पाए।

सामाजिक संगठन करेंगे ये मदद

  • रायपुर के सिख समाज, माहेश्वरी समाज, सिंधी महासभा, अग्रवाल समाज, जैन समाज, सिंधी समाज, मुस्लिम समाज, कायस्थ समाज के के भवन कोविड सेंटर के लिए उपलब्ध कराएंगे और आक्सीजन बेड की संख्या बढ़ाने के लिए आवश्यक राशि भी देंगे।
  • सिख समाज खालसा स्कूल एवं गुरू तेग बहादुर स्कूल में 400 बेड वाला कोविड सेंटर तैयार करवा रहा है।
  • दुर्ग जिले का अग्रवाल समाज 100 बिस्तर कोविड सेंटर तथा 50 बिस्तर वाले ऑक्सीजन बेड की व्यवस्था करेगा।
  • इंडियन मेडिकल एसोसिएशन ने अपने पदाधिकारियों की सेवाएं लिए जाने का सुझाव दिया गया।
  • बिलासपुर संभाग के साहू समाज, कुर्मी समाज, सिख समाज, मुस्लिम समाज, यादव समाज के प्रमुखों ने शहरों और गांवों में इस आशय की माईकिंग एवं मुनादी कराने का सुझाव दिया।
  • सरगुजा संभाग के नगेशिया समाज लोगों को जागरूक बनाने के लिए स्थानीय बोली में समझाईश दिए जाने की बात कही।
  • मांझी समाज के पदाधिकारी ने कोरोना वैक्सिनेशन के लिए लोगों को प्रेरित करने का सुझाव दिया।
  • ग्रामीण एवं कस्बाई अंचल में फेरी लगाकर कपड़ा, आईसक्रीम, शरबत, बर्फ गोला एवं अन्य सामग्री बेचने वाले पर भी रोक लगाए जाने का सुझाव दिया गया।

गतिविधियां जो पूरी तरह या आंशिक तौर पर प्रतिबंधित

  • पेट्रोल पंप खुलेंगे, लेकिन आम लोगों को पेट्रोल-डीजल नहीं मिलेगा
  • सभी धार्मिक संस्थाएं बंद, वहां किसी भी तरह का आयोजन प्रतिबंधित
  • सड़क पर मेडिकल स्टाफ और इमरजेंसी ड्यूटी वालों को ही माफी
  • शराब दुकानों से लेकर बार, होटल-रेस्तरां और ढाबे सभी बंद
  • सिर्फ दूध पार्लर सुबह और शाम दो टाइम खुलेंगे, कुछ भी नहीं
  • सीमाएं सील, एंट्री ई-पास से ही, जिनके टिकट बुक वही जाएंगे
  • कमर्शियल कांप्लेक्स, मॉल, मल्टीप्लेक्स, टॉकीज सब बंद रहेंगे
  • जिम, स्वीमिंग पूल, ऑडिटोरियम, गार्डन, कार्पोरेट दफ्तर भी बंद
  • प्रदर्शन, सभा, रैली, जुलूस, राजनैतिक-सामाजिक सभी पर रोक

शहर में केवल इन्हीं कामों की रहेगी अनुमति

  • दसवीं-बारहवीं परीक्षा देने वाले ‌छात्र और स्टाफ आईडी कार्ड दिखाएंगे तो छूट।
  • दूध व न्यूज पेपर सुबह 6 से 8 तक बंटेंगे। दूध शाम 5 से 6.30 बजे भी मिलेगा।
  • पशुओं का चारा, मछली दाने की दुकानें सुबह 6 से 8 और शाम 5 से 6.30 तक।
  • एलपीजी सिलेंडरों की बुकिंग ऑनलाइन, डिलीवरी भी शाम 6 बजे तक ही होगी।
  • फैक्ट्रियों व कंस्ट्रक्शन साइट पर काम होंगे, लेकिन मजदूरों को वहीं रखना होगा।
  • कोरोना जांच या वैक्सीनेशन के लिए लोग अस्पताल-टीकाकरण केंद्रों में जा सकेंगे।
  • इमरजेंसी में निकले, तब कार-ऑटो में ड्राइवर समेत तीन, दोपहिया में दो लोग ही।
  • मीडिया कर्मियों को वर्क फ्रॉम होम करने कहा गया है, बाहर आईडी लेकर निकलेंगे।
  • टेलीकॉम, रेलवे, एयरपोर्ट में काम चालू रहेगा। खाद्य परिवहन, धान मिलिंग जारी।
खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव - आपका संतुलित तथा सकारात्मक व्यवहार आपको किसी भी शुभ-अशुभ स्थिति में उचित सामंजस्य बनाकर रखने में मदद करेगा। स्थान परिवर्तन संबंधी योजनाओं को मूर्तरूप देने के लिए समय अनुकूल है। नेगेटिव - इस...

    और पढ़ें