पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

कांग्रेस ने खुश होने का बहाना ढूंढा:छत्तीसगढ़ कांग्रेस नेता ने सोशल मीडिया पर लिखा, विधानसभा चुनाव में कांग्रेस गठबंधन को सबसे अधिक सीट, प्रचार हो रहा है कि BJP मजबूत है

रायपुर11 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
शैलेश नितिन त्रिवेदी कांग्रेस संचार विभाग के प्रमुख हैं। वे छत्तीसगढ़ राज्य पाठ्य पुस्तक निगम के भी अध्यक्ष हैं। - Dainik Bhaskar
शैलेश नितिन त्रिवेदी कांग्रेस संचार विभाग के प्रमुख हैं। वे छत्तीसगढ़ राज्य पाठ्य पुस्तक निगम के भी अध्यक्ष हैं।

पांच राज्यों के विधानसभा चुनाव में चार राज्यों में बुरी पराजय से गुजर रही कांग्रेस ने कार्यकर्ताओं काे सांत्वना देने का एक नया बहाना खोज निकाला है। अब कहा जा रहा है कि कांग्रेस गठबंधन ने इन चुनावों में सबसे अधिक सीटें जीतीं हैं। लेकिन प्रचार हो रहा है कि कांग्रेस खत्म हो गई और भाजपा मजबूत है।

कांग्रेस संचार विभाग के अध्यक्ष शैलेश नितिन त्रिवेदी ने आज सोशल मीडिया पर एक पोस्ट डाली। उसमें उन्होंने कहा कि चुनाव में कुल सीटों की संख्या थी 824। कांग्रेस गठबंधन को मिली 262, भाजपा गठबंधन को मिली 230, तृणमूल कांग्रेस को 214, कम्यूनिस्ट को 93 और अन्य को 26। लेकिन आपको लगातार बताया जाएगा कि कांग्रेस खत्म हो गई है। विपक्ष खत्म हो गया है और BJP मजबूत है।

जवाब में भाजपा के नरेश चंद्र गुप्ता ने कहा, BJP, INC, CPI और CPI(M) राष्ट्रीय दल हैं। उसमें आपकी कांग्रेस 70 सीटों के साथ अंतिम स्थान पर है। आपकी सोच आपको और आपकी राष्ट्रीय पार्टी को मुबारक हो।

2014 के विधानसभा चुनाव में भी ऐसा ही तर्क था

2014 के विधानसभा चुनाव में कांग्रेस 39 सीटें जीतीं थीं। भाजपा के पास 49 सीटें आई थीं। तब कहा जा रहा था विधानसभा में 10 सीटों का अंतर जरूर दिख रहा है लेकिन यह हार केवल 1% वोटों के अंतर से हुई है। 2019 के लोकसभा चुनाव में क्लीन स्वीप के दावे के साथ उतरी कांग्रेस केवल दो सीटें जीत पाई। तब भी कांग्रेस ने खुश होने के लिए एक सीट बढ़ने की खुशी मनाई।

आप ने कहा- विपक्ष भी नहीं बन पाई कांग्रेस, केवल भाजपा की हार का जश्न

आम आदमी पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष कोमल हुपेंडी ने कहा, किसी जमाने में विपक्षी पार्टी रही भाजपा आज सत्तारूढ़ पार्टी की भूमिका में है। उस समय सर्वाधिक समय तक सत्तारूढ़ रही कांग्रेस दूर-दूर तक विपक्ष की भूमिका में नजर नहीं आ रही है। पांच राज्यों के नतीजों से स्पष्ट हो गया है कि देश की जनता कांग्रेस को विपक्ष मानने के लिए भी तैयार नहीं है। जनता के इस संकेत को गंभीरता से लेने की बजाए कांग्रेस भाजपा की हार का जश्न मना रही है। अपने आपको राष्ट्रीय राजनीति में मजबूत विकल्प बनाने की असफलता की वजह से कांग्रेस खुद मोदीजी के कांग्रेस मुक्त भारत के सपने को साकार करने में मदद कर रही है।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव - कुछ समय से चल रही किसी दुविधा और बेचैनी से आज राहत मिलेगी। आध्यात्मिक और धार्मिक गतिविधियों में कुछ समय व्यतीत करना आपको पॉजिटिव बनाएगा। कोई महत्वपूर्ण सूचना मिल सकती है इसीलिए किसी भी फोन क...

और पढ़ें