बीरगांव में कांग्रेस का ही महापौर:नतीजों के 5 घंटे बाद बदला समीकरण; दो निर्दलियों ने ज्वाइन की पार्टी, सीनीयर विधायक ने दिलाई सदस्यता

रायपुर5 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

बीरगांव में अब कांग्रेस को बहुमत मिल गया है। दरअसल ये नतीजे आने के बाद करीब 5 घंटे बाद मुमकिन हुआ। दो निर्दलीय पार्षदों ने कांग्रेस ज्वाइन कर ली। अब ये तय हो गया है कि बीरगांव में पूर्ण बहुमत के साथ कांग्रेस अपना महापौर बनाएगी। बीरगांव निगम में पिछली बार भाजपा का कब्जा था।

पंकज शर्मा ने निर्दलीय नेताओं का स्वागत किया।
पंकज शर्मा ने निर्दलीय नेताओं का स्वागत किया।

गुरुवार को आए नतीजों मंे बीरगांव नगर निगम में कांग्रेस 2 सीट से बहुमत से चूक गई थी। 40 वार्डों वाले इस नगर निगम में कांग्रेस को 19 वार्डों में ही जीत मिली थी। भाजपा प्रत्याशी ने 10 और JCCJ प्रत्याशियों ने 5 वार्डों में जीत हासिल की है। 6 वार्डों में निर्दलीय प्रत्याशियों ने बाजी मारी थी।

रात को बीरगांव की गलियों में कुछ ऐसा हुआ कि खबर आई दो निर्दलीय अब कांग्रेस के हो चुके हैं। विधायक सत्यनारायण शर्मा इन पार्षदों के घर पहुंचे और पार्टी की सदस्यता दिलाकर अपनी तरफ कर लिया। कांग्रेस में शामिल होने वाले पार्षदों में वार्ड क्रमांक 1 गुरु घासीदास वार्ड की पार्षद शकुंतला धन्नू बांदे और वार्ड क्रमांक 11 ठाकुर प्यारेलाल वार्ड से पार्षद सुशीला मार्कण्डे हैं।

CM ने कहा निर्दलियों का सहयोग मिलेगा
यूपी से गुरुवार को रायपुर लौटे मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने निकाय चुनावों को लेकर अहम बयान दिया था। उन्हांेने कहा कि जहां बहुमत नहीं हैं वहां निर्दलियों का सहयोग मिलेगा, वहां प्रभारी मंत्री या विधायक जिन्हें जिम्मेदारी मिली है वो संपर्क करेंगे। इस बयान के कुछ घंटों बाद ही रायपुर के बीरगांव निगम में 19 से 21 वार्ड कांग्रेस ने अपने नाम करा ही लिए।

खबरें और भी हैं...