• Hindi News
  • Local
  • Chhattisgarh
  • Raipur
  • Congress Told Raman Singh A Liar; Former Chief Minister Said, Prime Minister Did Not Open Gunny Shop, Congress Made Public His Letter To The Prime Minister

कांग्रेस बोली- झूठे हैं रमन सिंह:पूर्व CM के PM को लिखे पत्र को कांग्रेस प्रवक्ता ने किया सार्वजनिक; कहा- सत्ता जाने के बाद याददाश्त भी गई

रायपुर8 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

छत्तीसगढ़ में धान खरीदी से एक दिन पहले बारदाना संकट को लेकर राजनीतिक माहौल गरमाया हुआ है। पूर्व मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह के एक बयान को लेकर कांग्रेस ने उन्हें झूठा तक कह दिया है। बारदाना आपूर्ति में केंद्र की भूमिका को खारिज करने वाले इस बयान का विरोध करने के लिए कांग्रेस रमन सिंह का लिखा एक पत्र सामने लेकर आई है। 2018 में लिखे इस पत्र में तत्कालीन मुख्यमंत्री रमन सिंह ने प्रधानमंत्री को बारदाना उपलब्ध कराने का आग्रह किया था।

प्रदेश कांग्रेस के वरिष्ठ प्रवक्ता आरपी सिंह ने कहा कि रविवार को बिलासपुर में डॉ. रमन सिंह ने बयान दिया है- "छत्तीसगढ़ सरकार, केंद्र पर ऐसे आरोप लगाती है जैसे प्रधानमंत्री ने बारदाने की दुकान खोल रखी हो"।यह बिल्कुल झूठी बात है। ऐसा लगता है कि सत्ता जाने के साथ ही डॉ. रमन सिंह की याददाश्त भी चली गई है। अन्यथा वह इतनी हल्की बातें कभी नहीं कहते।

कांग्रेस प्रवक्ता ने सन् 2018 का डॉ. रमन सिंह का लिखा हुआ पत्र सार्वजनिक करते हुए यह दावा किया कि रमन सिंह भी अपने कार्यकाल में बारदाने की कमी होने पर देश के प्रधानमंत्री और केंद्रीय मंत्रियों को बारदाना उपलब्ध कराने के लिए पत्र लिखते रहे हैं। कांग्रेस की ओर से जारी पत्र में भी वे केंद्र सरकार से पुराने बारदाने की मांग और रायपुर, बिलासपुर जैसे मैदानी क्षेत्रों में FCI के माध्यम से धान खरीदी कराने का आग्रह कर रहे हैं।

अब यह भला कैसे संभव हो सकता है कि जब रमन सिंह मुख्यमंत्री पद पर थे तो उन्हें यह पता होता था कि राज्य में धान की खरीदी के लिए बारदाने की सप्लाई केंद्र सरकार करती है और जब पद से हट जाते हैं तब उन्हें यह दिव्य जानकारी प्राप्त हो जाती है कि धान खरीदी के लिए प्रदेश के मुख्यमंत्री को बारदाने की व्यवस्था करनी पड़ती है। आरपी सिंह ने कहा कि स्थानीय चुनाव को लेकर आपसी कलह से जूझती हुई भाजपा अब लोगों का ध्यान भटकाने के लिए इस तरीके से झूठ का सहारा ले रही है। यह बहुत ही शर्मनाक बात है।

डॉ. रमन सिंह को चुनौती भी दे डाली

कांग्रेस प्रवक्ता आरपी सिंह ने डॉ. रमन सिंह को चुनौती देते हुए कहा है कि अगर यह पत्र उनका लिखा हुआ नहीं है तो मीडिया के सामने आकर स्वीकार करें कि यह पत्र उन्होंने नहीं लिखा है। अगर यह पत्र उनका ही लिखा हुआ है तो मीडिया के सामने आकर प्रदेश की जनता से विशेषकर किसानों से उन्हें गुमराह करने और सार्वजनिक रूप से झूठ बोलने के लिए माफी मांगे।

भाजपा को सलाह भी दे डाली

कांग्रेस प्रवक्ता आरपी सिंह ने भाजपा पर धान खरीदी में रोड़े अटकाने का आरोप लगाते हुए सलाह भी दे डाली। उन्होंने कहा कि भाजपा नेताओं को यह चाहिए कि किसानों के हक में खड़े हों, ना कि उनके खिलाफ। उन्हें प्रधानमंत्री मोदी से बातचीत करके यह सुनिश्चित करना चाहिए कि राज्य में बारदाना की आपूर्ति सुनिश्चित रूप से हो और इसमें कोई बाधा ना आए।

रमन बोले-PM ने बारदाने की दुकान खोली है क्या?:कहा-15 साल में बारदाने की कमी नहीं हुई, ये एक-दो साल में ही हांफने लगे

खबरें और भी हैं...