आजादी का अमृत महोत्सव:गोवा की आजादी में हमारे पुरखों का भी योगदान...परिजनों को मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने सम्मानित किया

रायपुर5 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

‘आजादी का अमृत महोत्सव’ के तहत शनिवार को सीएम हाउस में ‘गोवा मुक्ति संग्राम’ कार्यक्रम का आयोजन किया गया। इसमें सन् 1961 में गोवा की आजादी के लिए छत्तीसगढ़ के जिन लोगों ने योगदान दिया था, उनके परिजनों को मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने सम्मानित किया। सीएम ने कहा, यह हमारे लिए गर्व की बात है कि गोवा की मुक्ति में हमारे पुरखों ने भी त्याग व बलिदान दिया। छत्तीसगढ़ से करीब 530 सत्याग्रहियों ने आंदोलन में हिस्सा लिया था।

इन्हें किया सम्मानित : कार्यक्रम में सत्याग्रही स्व. ठाकुर हरिनारायण सिंह के पुत्र आशीष सिंह ठाकुर, पौत्र उपमन्यु सिंह, स्व. नंद कुमार पाठक के पुत्र संजय पाठक, संध्या पाठक, स्व. मोजेस मूलचंद के पुत्र मुकेश मोजेस, एलिजा शैलेष मोजेस, स्व. शरद कुमार रायजादा के पुत्र शिवेन्द्र रायजादा, निशा रायजादा आदि को शॉल-श्रीफल, स्मृति चिन्ह देकर सम्मानित किया गया।

खबरें और भी हैं...