छत्तीसगढ़ और कोरोना:पहली बार 14 हजार से ज्यादा मरीज एक साथ मिले, राज्य में 123 मौतें;ट्रेन से ओडिशा जाने वालों को पहले निगेटिव रिपोर्ट दिखानी होगी

रायपुर9 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
ये तस्वीर रायपुर के इंडोर स्टेडियम की है। यहां 200 ऑक्सीजन बेड का अस्पताल तैयार किया जा रहा है। - Dainik Bhaskar
ये तस्वीर रायपुर के इंडोर स्टेडियम की है। यहां 200 ऑक्सीजन बेड का अस्पताल तैयार किया जा रहा है।

साल 2020 और 2021 के अब तक के समय में शनिवार की रात कोरोना मरीजों के जो आंकड़े राज्य सरकार ने बताए वो भयावह हैं। एक साथ 14 हजार 98 नए मरीज मिले। 123 लोगों की मौत होने की जानकारी दी गई। इनमें से 97 लोगों की जान बीते 24 घंटे में गई है। जबकि 26 मौतों का आंकड़ा सरकार के पास एक सप्ताह की देरी से आ पाया। पूरे प्रदेश में अब एक्टिव मरीजों की संख्या 85 हजार 860 है। अब तक 4777 कोरोना संक्रमितों की मौत हो चुकी है।

इन बड़े शहरों में कोरोना का हाल
रायपुर शहर में पिछले 24 घंटे में 3797 नए मरीज मिले हैं। 42 लोगों की मौत हुई, अब राजधानी में एक्टिव मरीज 21 हजार 329 है। दुर्ग में 2272 नए मरीज, 23 लोगों की जान गई अब यहां एक्टिव मरीज 18008 हैं। बिलासपुर में 895 नए मरीज मिले अब यहां एक्टिव मरीज 4759 हैं। राजनांदगांव में 978 नए मरीज मिले, 14 लोगों की जान गई और यहां एक्टिव केस 8388 हैं। रायगढ़ में 480 नए मरीज, 1 व्यक्ति की मौत हुई और अब एक्टिव केस 1872 हैं। कोरबा में 429 लोग संक्रमित हुए, अब यहां 2630 एक्टिव मरीज हैं। कांकेर में 229 नए मरीज मिले। कवर्धा में 538 नए मरीज मिले हैं।

रायपुर में स्टेडियम को बनाना पड़ रहा अस्पताल
रायपुर नगर निगम स्वास्थ्य विभाग की मदद से इंडोर स्टेडियम में अस्थाई कोविड 19 अस्पताल बना रहा है। यहां ऑक्सीजन प्लांट बन रहा है। अधिकारियों ने बताया कि इंडोर स्टेडियम परिसर में अस्थाई कोविड 19 अस्पताल में 200 बेड में ऑक्सीजन प्लांट से ऑक्सीजन की सप्लाई करने का पुख्ता बंदोबस्त हो रहा है। शनिवार को महापौर एजाज ढेबर, विधायक सत्यनारायण शर्मा, कुलदीप जुनेजा, विकास उपाध्याय ने तैयारियों का जायजा लिया।

यात्री गण ध्यान दें
रेलवे की तरफ से कहा गया है कि रायपुर रेल मंडल से गुजरने वाली गाड़ियां जो ओडिशा की ओर जाती है उन गाड़ी के यात्रियों को यात्रा करते समय यात्रा शुरू करने के 72 घण्टे के अन्दर करवाई गई RT-PCR नेगेटिव जांच रिपोर्ट पेश करनी होगी। ये नहीं है तो लोगों को कोविड-19 वैक्सीन की दूसरी डोज लगने का टीकाकरण प्रमाण पत्र देना होगा। 10 अप्रैल से ये प्रतिबंध लागू कर दिया गया है।

एयरपोर्ट पर भी सख्ती
छत्तीसगढ़ आने वाले यात्रियों को अब एयरपोर्ट पहुंचने से पहले 72 घंटे के भीतर कराये गये आर.टी.पी.सी.आर. जांच टेस्ट की निगेटिव रिपोर्ट दिखानी होगी। जिन यात्रियों के पास ये नहीं होगी उनका कोविड टेस्ट एयरपोर्ट पर होगा। रिपोर्ट पॉजिटिव होने पर स्वास्थ्य विभाग क्वारंटाइन,कोविड केयर सेन्टर या अस्पताल भेज देगा। बच्चों की भी उनके पैरेंट्स की मंजूरी के बाद टेस्टिंग होगी।

खबरें और भी हैं...