• Hindi News
  • Local
  • Chhattisgarh
  • Raipur
  • Raipur Bhilai (Chhattisgarh) Coronavirus Cases Update | Chhattisgarh Corona Cases District Wise Today News; Korba Durg Bilaspur Rajnandgaon

छत्तीसगढ़ में कोरोना LIVE:छत्तीसगढ़ में 24 घंटे में 3455 संक्रमित मिले, अकेले रायपुर से 1024 केस; कोरबा में कोरोना से बुजुर्ग की मौत

रायपुर4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

छत्तीसगढ़ में कोरोना मरीजों का आंकड़ा तेजी से बढ़ रहा है। 24 घंटे में प्रदेश में 3455 संक्रमित मिले हैं। अकेले रायपुर से 1024 पॉजिटिव केस हैं। DME ऑफिस के 3 स्टाफ पॉजिटिव पाए गए हैं। छत्तीसगढ़ हाईकोर्ट में अब वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए सुनवाई होगी। कोर्ट ने न्यायिक कार्यवाही 11 जनवरी से 31 जनवरी तक केवल वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से करने के निर्देश दिए हैं। वहीं कोरबा जिले में कोरोना संक्रमित बुजुर्ग की मौत हो गई है। जांजगीर थाने के 4 पुलिसकर्मी भी पॉजिटिव हो गए हैं।

कांकेर में 6 जवान सहित 25 पॉजिटिव मिले हैं। कांकेर शहर में ही सबसे अधिक 9 संक्रमित मिले हैं। इसमें जंगलवार कॉलेज का जवान भी शामिल है। जवान के अनुसार वह मेला देखने गया था। जहां से वह कोरोना संक्रमित हो गया। शनिवार का जो नए मरीज पाए गए हैं उनमें भी कुछ के मेला से ही संक्रमित होने की आशंका है। जिला प्रशासन ने कोरोना संक्रमण फैलने के बाद इसे गंभीरता से लेते हुए कांकेर मेला बीच में ही बंद करा दिया था।

इधर, गौरेला-पेंड्रा-मरवाही जिले के 6 से अधिक बच्चे कोरोना संक्रमित मिले हैं। ये सभी बच्चे आत्मानंद स्कूल मरवाही और डीएवी स्कूल के छात्र हैं। सभी की उम्र 13 से 16 साल के बीच है। जिले में सोमवार तक 1 से 8 तक की कक्षाओं को बंद कर दिया गया है। इस दौरान करीब 50 बच्चों का टेस्ट दोनों स्कूल में किया गया। वहीं दंतेवाड़ा जिले के किरंदुल प्रकाश विद्यालय के 3 बच्चे कोरोना पॉजिटिव मिले हैं।

छत्तीसगढ़ के स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव स्वस्थ हो गए हैं। सिंहदेव ने ट्वीट कर इसकी जानकारी दी। उन्होंने लिखा कि पॉजिटिव आने के बाद हुई जांच में उनकी रिपोर्ट अब निगेटिव आई है।

बलौदाबाजार से छत्तीसगढ़ जनता कांग्रेस (JCCJ) विधायक प्रमोश शर्मा कोरोना पॉजिटिव हो गए हैं। उन्हें उपचार के लिए रायपुर के नारायणा अस्पताल में भर्ती कराया गया है। इससे पहले वे मार्च में भी संक्रमित हो चुके हैं।

चंदखुरी स्थित नेताजी सुभाष चंद्र बोस राज्य पुलिस अकादमी परिसर में कोरोना विस्फोट हुआ है। वहां के 6 से अधिक रहवासी कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं। इनकी उम्र 30 से 34 साल के बीच है।शुक्रवार को ही अकादमी में 10वें और 11वें बैच का पासिंग आउट परेड हुई थी। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल, गृहमंत्री ताम्रध्वज साहू और नगरीय प्रशासन मंत्री डॉ. शिव डहरिया सहित वरिष्ठ पुलिस अधिकारी इस आयोजन में शामिल थे।

स्वास्थ्य विभाग के मुताबिक शुक्रवार को प्रदेश में 44 हजार 773 नमूनों की जांच हुई। इस दौरान 2 हजार 828 नए मामलों की पुष्टि हुई है। इस मान से प्रदेश की संक्रमण दर खतरे के निशान को पार कर 6.32% तक पहुंच गई है। सबसे अधिक 899 केस अकेले रायपुर के हैं। इनमें 72 की उम्र 1 साल से 18साल के बीच है।

रायपुर में चंदखुरी पुलिस अकादमी के अलावा CISF के माना स्थित परिसर, पुलिस मुख्यालय, रायपुर AIIMS और जवाहरलाल नेहरु मेडिकल कॉलेज हॉस्टल में भी कई संक्रमितों का पता लगा है। सभी को आइसोलेट कर दिया गया है। एक महिला प्रशासनिक अधिकारी के भी संक्रमण की चपेट में आने की खबर है। इसकी आधिकारिक पुष्टि नहीं हो पाई है। रायपुर शहर के हर हिस्से में कोरोना के मरीज मिले हैं। हालात ऐसे हैं कि प्रशासन ने 45 इमारतों को कंटेनमेंट जोन बना दिया है। गैर सरकारी संगठनों की मदद से सार्वजनिक स्थानों पर रोको-टोको अभियान शुरू हुआ है। इसके तहत स्वयंसेवक लोगों को मास्क पहने रहने और शारीरिक दूरी का पालन करने के लिए कह रहे हैं।

रायपुर के आयुर्वेदिक कॉलेज परिसर में बने अस्थायी कोविड अस्पताल में शिशुओं और छोटे बच्चों के लिए विशेष तौर पर बने वार्ड और ICU को सक्रिय कर दिया गया है। 250 बेड के इस अस्पताल में नवजात बच्चों के लिए नियोनेटल मशीन से लैस कक्ष भी तैयार किए गए हैं। जहां 10 नवजात शिशुओं को एक साथ रखने की सुविधा है।

CG हाईकोर्ट फिर बंद:11 जनवरी से वर्चुअल सुनवाई, काउंटर के जरिए दायर होंगी नई याचिकाएं; लोअर कोर्ट में भी पक्षकारों के प्रवेश पर रोक

शुक्रवार को ही चंदखुरी पुलिस अकादमी में डिप्टी एसपी के 10वें-11वें बैच का दीक्षांत समारोह था।
शुक्रवार को ही चंदखुरी पुलिस अकादमी में डिप्टी एसपी के 10वें-11वें बैच का दीक्षांत समारोह था।

सभी जिलों तक फैला संक्रमण
तीन दिन पहले तक प्रदेश के तीन जिले कोरोना की जद से बाहर थे। अभी सभी 28 जिले में कोरोना का संक्रमण फैल चुका है। शुक्रवार को केवल नारायणपुर ही ऐसा जिला रहा जहां से कोई पॉजिटिव मामला सामने नहीं आया। वहां एक एक्टिव केस है जो एक दिन पहले मिला था। कम से कम 9 जिलों में कोरोना संक्रमण की दर 5% का आंकड़ा पार कर गई है। रायपुर में तो यह 16% से अधिक है।

रायगढ़-दुर्ग ने बिलासपुर को पछाड़ा
पिछले एक सप्ताह से रायपुर के बाद बिलासपुर में सबसे अधिक संक्रमित मिल रहे थे। उसके बाद रायगढ़ और दुर्ग-कोरबा का नंबर था। शुक्रवार को रायगढ़ और दुर्ग ने बिलासपुर को पीछे कर दिया। रायगढ़ में 364, दुर्ग में 293, बिलासपुर में 279 और कोरबा में 268 नए मरीज मिले हैं। जशपुर जिले में 153 और जांजगीर-चांपा में 142 लोगों में संक्रमण की पुष्टि हुई है। राजनांदगांव, सरगुजा, कोरिया में भी मरीजों की संख्या 50 के पार पहुंच चुकी है।

रायपुर के आयुर्वेदिक कॉलेज परिसर स्थित अस्थायी कोविड अस्पताल में बच्चों के लिए विशेष कोरोना वार्ड बना है।
रायपुर के आयुर्वेदिक कॉलेज परिसर स्थित अस्थायी कोविड अस्पताल में बच्चों के लिए विशेष कोरोना वार्ड बना है।

कोरबा कलेक्ट्रेट में 19 पॉजिटिव, नवोदय विद्यालय भी चपेट में
कोरबा की रिपोर्ट के मुताबिक वहां कलेक्ट्रेट के 19 अधिकारी-कर्मचारी कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं। वहीं सलोरा स्थित जवाहर नवोदय विद्यालय में एक छात्रा के अलावा स्टाफ के 12 लोग कोरोना संक्रमण की चपेट में आए हैं। विद्यालय में पहले भी केस मिल चुके हैं। कोरबा में शुक्रवार को 268 नए मरीज मिले थे। इनको मिलाकर कोरबा में संक्रमितों की संख्या 695 हो गई है।

दूसरी लहर खत्म होने के बाद पहली बार एक दिन में तीन मौतें
रायपुर के लिए शुक्रवार का दिन भारी रहा। यहां तीन मरीजों की कोरोना की वजह से मौत हो गई। स्वास्थ्य विभाग के मुताबिक तीनों को कोरोना के अलावा स्वास्थ्य संबंधी दूसरी परेशानियां भी थीं। इनको मिलाकर रायपुर में अब तक 3 हजार 146 लोगों की जान जा चुकी है। पूरे प्रदेश में मौतों की संख्या बढ़कर 13 हजार 609 हो गई है। पिछले एक सप्ताह में रायपुर में 5 लोगों की मौत हो चुकी। दूसरी लहर खत्म होने के बाद रायपुर में एक दिन में तीन लोगों की मौत का यह पहला मामला है।

रायपुर में 2974 एक्टिव केस, 19 अस्पताल में
रायपुर में अभी भी 2 हजार 974 मरीजों का इलाज चल रहा है। उनमें से केवल 19 अस्पतालों में भर्ती हैं। इनमें से तीन की हालत बेहद गंभीर है, जिन्हें ICU या वेंटिलेटर की जरूरत पड़ी है। वहीं 6 लोगों को ऑक्सीजन देना पड़ रहा है। 6 लोगों को तो शुक्रवार को ही अस्पताल में भर्ती कराना पड़ा था। सबसे अधिक मरीज अभी निजी अस्पतालों में ही पहुंच रहे हैं।

फुटपाथ कारोबारियों की मांग पर रायपुर जिला प्रशासन ने नाइट कर्फ्यू का समय रात 9 बजे से बढ़ाकर रात 10 बजे से कर दिया है।
फुटपाथ कारोबारियों की मांग पर रायपुर जिला प्रशासन ने नाइट कर्फ्यू का समय रात 9 बजे से बढ़ाकर रात 10 बजे से कर दिया है।

शुरू होते ही कर्फ्यू में ढील, शादी में केवल लाउडस्पीकर पर रोक
रायपुर जिला प्रशासन ने नाइट कर्फ्यू के अपने आदेश में बदलाव किया है। इसके मुताबिक रात 9 बजे से सुबह 6 बजे तक के कर्फ्यू का समय एक घंटा घटा दिया गया है। अब यह कर्फ्यू रात 9 बजे की जगह रात 10 बजे से प्रभावी होगा। प्रशासन की ओर से कहा गया, ठेला, गुमटी और फुटपाथ कारोबारियों ने इसके लिए आवेदन दिया था। कर्फ्यू के प्रतिबंधों से विवाह समारोहों को भी बाहर कर दिया गया है। तर्क यह है कि विवाह के आयोजन मुहुर्त पर आधारित हैं। प्रशासन ने शादी में भी ध्वनि विस्तारक यंत्रों का उपयोग रात 10 बजे के बाद नहीं करने की हिदायत दी है।

खबरें और भी हैं...