पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

भुगतान नहीं किया है उन पर अब सख्ती की जाएगी:बड़े बिल्डरों व बकायादारों से टैक्स वसूली तेज करेगा निगम

रायपुर23 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

राजधानी में बड़े बिल्डरों और बकायादारों से संपत्तिकर की वसूली तेज होगी। जिन बिल्डरों या और कॉलोनाइजरों ने अभी तक संपत्ति कर का भुगतान नहीं किया है उन पर अब सख्ती की जाएगी। इसके अलावा बड़े बकायादारों की भी सूची तैयार कर ली गई है। बारिश के पहले उन सभी जगहों की सफाई का काम भी पूरा होगा जहां बरसात का पानी भरने की शिकायत आती है।

महापौर ने शनिवार को निगम मुख्यालय में एमआईसी सदस्यों और अफसरों की बैठक लेकर ये निर्देश दिए। निगम मुख्यालय के पहले फ्लोर में हुई बैठक में महापौर एजाज ढेबर ने कहा कि दूसरी लहर के बावजूद निगम के राजस्व विभाग ने 2020-21 के दौरान 160 करोड़ की राजस्व वसूली की है। कई और बड़े बकायादारों से वसूली बाकी है। इसलिए इस बकाया की वसूली तेज करने निजी बिल्डरों की कॉलोनियों पर कार्यवाही के साथ ही छूटे मकानों पर टैक्स की गणना कर उनसे वसूली की जाएगी।

उन्होंने सभी एमआईसी सदस्यों से कहा कि जिन-जिन जगहों पर बारिश का पानी भरने की शिकायत आती है उन एरिया के नालो-नाली की सफाई करने का काम पहले होना चाहिए। इस सफाई अभियान के दौरान सभी बड़े नालों के मुहानों को खोलकर उनकी सफाई का काम पूरा कराया जाए। जलभराव की गंभीर समस्या खत्म होगी। महापौर ने निगम अफसरों से कहा कि वे राजधानी के अनुरूप स्ट्रीट लाइट का प्रबंधन करें। शहर में कहीं भी अंधेरा नहीं होना चाहिए। इसकी लगातार मॉनिटरिंग होनी चाहिए। उन्होंने बाजार में चलाए जा रहे कोरोना जांच की तारीफ करते हुए कहा कि इस तरह के कैंप लगातार जारी रहने चाहिए। बैठक में एमआईसी सदस्य ज्ञानेश शर्मा, श्रीकुमार मेनन, अजीत कुकरेजा, सतनाम सिंह पनाग, सुंदर जोगी, समीर अख्तर, रितेश त्रिपाठी, आकाश तिवारी, जितेन्द्र अग्रवाल, सहदेव व्यवहार, एमआईसी सदस्य प्रतिनिधि राधेश्याम विभार, हेमंत पटेल, अपर आयुक्त पुलक भट्टाचार्य, उपायुक्त राजस्व अरविंद शर्मा मौजूद थे।

खबरें और भी हैं...