NCRB की रिपोर्ट- छत्तीसगढ़ में बढ़ रहा क्राइम ग्राफ:हर दिन रेप की 3 वारदातें, बिहार को भी पीछे छोड़ा, आदिवासी भी सुरक्षित नहीं; डॉ. रमन ने कहा- जंगलराज बना दिया

रायपुर4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
रायपुर में एक घटना स्थल पर जांच करती पुलिस की टीम । फाइल फोटो। - Dainik Bhaskar
रायपुर में एक घटना स्थल पर जांच करती पुलिस की टीम । फाइल फोटो।

छत्तीसगढ़ में अपराध का ग्राफ तेजी से बढ़ रहा है। नेशनल क्राइम रिकॉर्ड ब्यूरो की ओर से जारी साल 2020 के आंकड़ों पर गौर करें तो दुष्कर्म के मामलों में बिहार से आगे छत्तीसगढ़ निकल चुका है। प्रदेश में 2019 में दुष्कर्म के 1036 मामले दर्ज किए गए हैं, जबकि 2020 में 1210 मामले दर्ज हुए हैं, इन दो सालों में बिहार में 730 और 806 मामले दर्ज हुए। छत्तीसगढ़ में साल 2020 में हर दिन तकरीबन 3 दुष्कर्म की वारदातें हो रही हैं।

आदिवासियों के खिलाफ बढ़ा अपराध
NCRB की रिपोर्ट के मुताबिक, छत्तीसगढ़ में आदिवासियों के प्रति अपराध भी बढ़ा है। साल 2018 में 388, साल 2019 में 427, साल 2020 में 502 मामले ऐसे दर्ज किए गए हैं जो आदिवासियों के खिलाफ घटनाओं से संबंधित है। साल 2018 के मुकाबले साल 2020 में अनुसूचित जाति के खिलाफ भी आपराधिक घटनाएं बढ़ी हैं। इन घटनाओं से संबंधित साल 2018 में 264, साल 2019 में 341, साल 2020 में 316 केस दर्ज किए गए हैं।

साल 2020 में नक्सलियों ने की 62 लोगों की हत्या

अपराध का प्रकारसंख्या
हत्या972
हत्या का प्रयास720
महिलाओं पर हमले1187
सेक्सुअल हैरेसमेंट171
अपहरण2008
चोरी6040
डकैती85
धोखाधड़ी420
दहेज प्रताड़ना641
नक्सलियों ने की हत्या62
नक्सलियों ने किए हत्या के प्रयास139

छत्तीसगढ़ में बढ़ते आपराधिक मामले
NCRB 2020 के रिकॉर्ड के मुताबिक प्रदेश में अलग-अलग धाराओं में दर्ज अपराध में भी इजाफा हुआ है। छत्तीसगढ़ में दर्ज सभी तरह के आपराधिक मामलों पर गौर करें तो साल 2018 में 98233, साल 2019 में 96561, साल 2020 में 103173 केस दर्ज किए गए हैं। साल 2020 का आंकड़ा बढ़े हुए अपराध की संख्या को साफ बता रहा है।

डॉ. रमन बोले- देखिए कैसे जंगलराज बना दिया
पूर्व मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने इस मामले में ट्वीट किया है कि- राहुल गांधी जी कांग्रेस की पूरी बारात आपको प्रदेश का विकास देखने का न्योता देने गई थी। देखिए! कैसे छत्तीसगढ़ को जंगलराज बना दिया है। हत्या, डकैती और बेटियों के साथ दुष्कर्म की घटनाएं लगातार बढ़ रही हैं। अपराधियों को संरक्षण मिला हुआ है। यही विकास हुआ है बस।

खबरें और भी हैं...