• Hindi News
  • Local
  • Chhattisgarh
  • Raipur
  • Delhi's Drama Towards The End; Congress MLAs Kept Going Till Sunday Afternoon, Changed Their Tone By Evening, Said There Was No Plan To Meet Anyone, Tomorrow Everyone Will Return

खात्मे की ओर दिल्ली का ड्रामा:रविवार दोपहर तक जाते रहे कांग्रेस विधायक, शाम होते-होते सुर बदले, कहा- किसी से मिलने की कोई योजना ही नहीं थी, कल सब लौट आएंगे

रायपुर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
कांग्रेस विधायकों और कुछ निगम-आयोगों के प्रमुखों ने कई दिनों से दिल्ली में डेरा डाला हुआ है। - Dainik Bhaskar
कांग्रेस विधायकों और कुछ निगम-आयोगों के प्रमुखों ने कई दिनों से दिल्ली में डेरा डाला हुआ है।

दिल्ली में पिछले चार दिनों से चल रहा छत्तीसगढ़ कांग्रेस का ड्रामा खात्मे की तरफ है। कांग्रेस विधायक रविवार दोपहर तक दिल्ली जाते रहे। दावा था, हाईकमान से मिलकर भाजपा की साजिशों की जानकारी देंगे। शाम होते-होते इन अति सक्रिय विधायकों के सुर बदल गए। अब विधायक इस बात की कसम खा रहे हैं कि दिल्ली में उनकी किसी से मिलने की कोई योजना ही नहीं थी।

रविवार सुबह तक दिल्ली में 27-28 विधायक पहुंच चुके थे। दोपहर में मुख्यमंत्री भूपेश बघेल को बेमेतरा से विदा करने के बाद विधायक आशीष छाबड़ा भी दिल्ली पहुंच गए। मुख्यमंत्री शनिवार से बेमेतरा में थे। बताया गया, शाम 4 बजे के करीब विधायक बृहस्पत सिंह ने सभी विधायकों की एक बैठक बुलाई थी। लेकिन इससे पहले ही रहस्यमय तरीके से सीन बदल गया। बताया जा रहा है, यह बैठक नहीं हुई। शाम को चंद्रपुर विधायक राम कुमार यादव ने दैनिक भास्कर से कहा, विधायक अपना निजी काम निपटा रहे हैं। आज कोई बैठक नहीं हुई। किसी से मिलने-जुलने का सवाल ही पैदा नहीं होता। यादव ने कहा, यहां हम लोग केंद्रीय नेतृत्व में से किसी से मिलने नहीं आए थे। महासमुंद विधायक विनोद चंद्राकर ने बताया, विधायक कल शाम तक रायपुर वापस लौट जाएंगे। यह अभी तय नहीं है कि सभी एक साथ जाएंगे या फिर सुविधा के मुताबिक अलग-अलग। लेकिन यह तय है कि संगठन में किसी नेता से मुलाकात करने कोई नहीं जा रहा है। विनोद चंद्राकर ने भी कहा, यहां पहुंचे विधायकों की आलाकमान से मुलाकात की कभी कोई योजना बनी ही नहीं थी।

बृहस्पत ने सुबह ही किया था मुलाकात का दावा

रामानुजगंज विधायक बृहस्पत सिंह ने रविवार सुबह मीडिया से बातचीत में हाईकमान से मुलाकात की कोशिश का दावा किया था। उन्होंने कहा, संघ और भाजपा प्रदेश सरकार गिराने की साजिश कर रहे हैं। वे लोग इस साजिश को नाकाम करने ही दिल्ली आए हैं। वे पार्टी हाईकमान से मुलाकात कर अपनी बात रखेंगे।

संकेत दिए जा रहे हैं कि मकसद पूरा हुआ

कांग्रेस विधायक यह संकेत देने की कोशिश कर रहे हैं दिल्ली में डेरा डालने का उनका मकसद पूरा हो चुका है। एक विधायक ने दावा किया, मुख्यमंत्री भूपेश बघेल को उत्तर प्रदेश चुनाव की जिम्मेदारी मिली है। यह संकेत है कि आलाकमान उन पर भरोसा कर रहा है। ऐसे में अब उनकी दिल्ली में बने रहने की कोई वजह नहीं दिख रही है।

अब तक ये विधायक पहुंच चुके हैं दिल्ली

देवेंद्र यादव, चंदन कश्यप और गुरुदयाल बंजारे, आशीष छाबड़ा रविवार को दिल्ली गए। विधानसभा उपाध्यक्ष मनोज मंडावी, विधायक रेखचंद जैन और अनूप नाग, ममता चंद्राकर, कुंवर सिंह निषाद, विनय भगत, लक्ष्मी ध्रुव, रामकुमार यादव, शिशुपाल शोरी, लालजीत सिंह राठिया, संतराम नेताम, राजमन बेंजाम, डॉ. केके ध्रुव, उत्तरी जांगड़े और किश्मतलाल नंद शुक्रवार- शनिवार को दिल्ली पहुंचे। वहीं बृहस्पत सिंह, गुरुदयाल बंजारे, मोहित केरकेट्‌टा, डॉ. विनय जायसवाल, द्वारिकाधीश यादव, यूडी मिंज, पुरुषोत्तम कंवर, चंद्रदेव राय और प्रकाश नायक पहले से ही दिल्ली में डेरा डाले हुए हैं।

आज 3 और कांग्रेसी विधायक दिल्ली गए:देवेंद्र यादव, गुरुदयाल बंजारे और चंदन कश्यप ने भी भरी उड़ान, दो MLA बीमार होने के कारण नहीं जा पाए; वहां अब संख्या 27-28 पहुंचीं

बघेल के करीबी 10 विधायक दिल्ली पहुंचे:46 MLA का समर्थन पत्र भी साथ, दावा- 27 विधायक आ रहे; बृहस्पत सिंह बोले- एक व्यक्ति के लिए सरकार को खतरे में नहीं डाल सकते

कांग्रेसी विधायकों का दिल्ली में शक्ति प्रदर्शन 2.0:13 और विधायक दिल्ली पहुंचे, 10 पहले से मौजूद, शाम तक और बढ़ सकती है संख्या; सिंहदेव बोले- सभी 70 विधायक एक राय

खबरें और भी हैं...