ईद को लेकर वक्फ बोर्ड की गाइडलाइन:लोगों को मस्जिद जाने की इजाजत नहीं, घरों पर रहकर ही नमाज अदा करने और त्योहार मनाने की अपील

रायपुर5 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

बुधवार या गुरुवार को चांद दिखने पर ईद का त्योहार मनाया जाएगा। चूंकि देश के साथ प्रदेश भी कोरोना के संकट से जूझ रहा है, लिहाजा इसका असर अब ईद पर पड़ता दिख रहा है। मंगलवार को छत्तीसगढ़ राज्य वक्फ बोर्ड ने आम लोगों के लिए गाइडलाइन जारी की है। इसमें कहा गया है कि लोगों को मस्जिद जाने की इजाजत नहीं होगी। मस्जिद में मुतल्लवी सहित केवल 5 व्यक्ति जो प्रतिदिन मस्जिद में नमाज अदा करते हैं, वही मस्जिद में ईद की नमाज में शामिल होंगे। समाज के अन्य सभी व्यक्ति अपने-अपने घर पर ही रहकर ईद की नमाज अदा करेंगे।

वक्फ बोर्ड के आदेश की कॉपी।
वक्फ बोर्ड के आदेश की कॉपी।

घर पर नमाज अदा करें

गाइडलाइन में कहा गया है कि शासन एवं जिला प्रशासन की ओर से कोरोना के संबंध में जो दिशा निर्देश जारी किए गए हैं, उनका पूरी तरह से पालन किया जाएगा और पिछले साल की तरह त्योहार सादगी से मनाया जाएगा।

मस्जिद, ईदगाह, मदरसा दरगाह में 5 से ज्यादा लोग जमा नहीं होंगे। लॉकडाउन के नियमों का उल्लंघन करते पाए जाने पर संबंधित मुतवल्ली ही इसके जिम्मेदार माने जाएंगे। गाइडलाइन में कहा गया है कि ईद उल फितर की नमाज शरीयत के अनुसार अपने-अपने घर पर अदा करें। सामाजिक स्तर पर लोगों को जिम्मा दिया गया है कि दरगाह, कब्रिस्तान जैसी जगहों पर किसी भी स्थिति में भीड़ इकट्ठा न हो।

खबरें और भी हैं...