दो कारोबारियों के खिलाफ केस:ब्रांडेड के नाम पर नकली घड़ी और चश्मा, 2 दुकान में छापा

रायपुर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

त्योहारी सीजन के साथ बाजारों में ब्रांडेड कंपनियों के नाम से नकली सामान का कारोबार शुरू हो गया है। ब्रांडेड घड़ी से लेकर चश्मा तक खुलेआम बेचा जा रहा है। लगातार शिकायत के बाद मंगलवार शाम पुलिस ने दो दुकानों में छापा मारा गया। जहां से ढाई लाख से ज्यादा का चश्मा और हैंड वाच जब्त की गई है।

दोनों दुकान के मालिक पर कॉपीराइट का केस दर्ज किया गया है। पुलिस के अनुसार मालवीय रोड में मनीष चौथवानी का गोदरी वाला ऑप्टिकल्स और नरेश माखीजा का नरेश वॉच है। दोनों दुकानों में टाइटन व फास्टट्रैक कंपनी का हैंडवाॅच और सन ग्लास बेचा जा रहा था। इंदौर के मयंक शर्मा ने इसकी लिखित शिकायत की। उसके बाद पुलिस ने दोनों दुकानों में छापा मारा। जहां नकली घड़ी और चश्मा जब्त किया गया। कारोबारियों के घरों की तलाशी ली गई। वहां भी 400 से ज्यादा नकली सामान मिला है। पुलिस के अनुसार जब्त घड़ी और चश्मा ब्रांडेड कंपनी की तरह हूबाहू है। उसे देखकर कोई फर्क नहीं कर पाएगा। टैग से लेकर मार्का और पैकिंग भी वैसी है। सिर्फ कीमत का अंतर है।

ब्रांडेड कंपनी से थोड़ा कम है। आरोपी ब्रांडेड कंपनी का बताकर उसे बेच रहे थे। पुलिस ने दोनों कारोबारियों पर केस दर्ज किया है। दोनों आरोपी पिछले कई सालों से मालवीय रोड पर कारोबार कर रहे हैं। पुलिस अधिकारियों ने बताया कि नकली सामान पर सख्ती की जाएगी। जहां भी नकली सामान खरीदी-बिक्री की शिकायतें मिलेगी। वहां छापा मारा जाएगा। पुलिस ने अपील की है कि कोई कारोबारी अधिक मुनाफा कमाने के लालच में नकली सामान का कारोबार न करें।

खबरें और भी हैं...