वॉट्सऐप ग्रुप में सिख समाज पर टिप्पणी:रायपुर में 4 कारोबारी पर FIR; समाज के खिलाफ टिप्पणी से थाने में भी हंगामा

रायपुर5 महीने पहले
थाने में हुआ बवाल।

रायपुर के पंडरी कपड़ा मार्केट में दुकान चलाने वाले आशीष अग्रवाल नाम के कारोबारी और इसके साथियों के खिलाफ सिविल लाइंस थाने में शिकायत की गई है। मामला सिख समुदाय के लिए अपमान जनक भाषा के इस्तेमाल से जुड़ा है। इसी वजह से नाराज सिख समाज के लोगों ने थाने का घेराव कर दिया। गहमा-गहमी का माहौल देखकर इंस्पेक्टर सत्य प्रकाश तिवारी बाहर आए लोगों से मिले।

इंस्पेक्टर भीड़ को हटाकर कुछ लोगों को थाने के भीतर जाकर आवेदन देने की बात कह रहे थे। कुछ गुस्साएं युवकों की बहस के दौरान इंस्पेक्टर से तीखी नोंकझोक हो गई। इससे गहमा-गहमी का माहौल बन गया। युवक चींखते हुए कह रहे थे हमारे धर्म का मामला है किसी की बदसलूकी सहन नहीं करेंगे।

फेसबुक पर भी गलत भाषा का इस्तेमाल
सिख समाज से जुड़े हरप्रीत रंधावा ने बताया कि तरुण व्यवसायी मंडली नाम के एक वॉट्सऐप ग्रुप में सिख समुदाय को लेकर आशीष अग्रवाल, राहुल प्रकाश, दिवाकर सिंह और राजेश नाम के युवकों ने टिप्पणी की। इसके बाद ये युवक फेसबुक पर भी गलत तथ्य और भाषा का इस्तेमाल करने लगे। जानकारी समाज के वरिष्ठ पदाधिकारियों को मिली तो मामला थाने पहुंचा। अब चारों के खिलाफ FIR दर्ज की गई है।

इस शख्स की वजह से हुआ बवाल।
इस शख्स की वजह से हुआ बवाल।

थाने आकर मांगी माफी
थाने में हंगामा बढ़ा तो आशीष को थाने में बुलाया गया। थाने पहुंचते ही आशीष ने अपने द्वारा भेजे गए मैसेजेस को लेकर माफी मांगी। उसने कहा कि जो कुछ भी पोस्ट किया वो सही नहीं था, मेरे द्वारा किसी की भावना को ठेस पहुंची है तो मैं माफी मांगता हूं, दोबारा कभी इस तरह की पोस्ट नहीं करूंगा।

खबरें और भी हैं...