• Hindi News
  • Local
  • Chhattisgarh
  • Raipur
  • For Treatment In CG Government Hospitals, A Fee Of Rs 10 Will Not Have To Be Paid, Only Those Who Have Ayushman Or Ration Card Will Get The Benefit

रायपुर में OPD और IPD की सुविधा फ्री:सरकारी अस्पतालों में पर्चा बनवाने नहीं देनी होगी 10 रुपए फीस, आयुष्मान या राशन कार्ड रखने वालों को मिलेगा फायदा

रायपुर4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
स्वास्थ्य विभाग के पोर्टल से ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन कराकर किसी भी सरकारी स्वास्थ्य केंद्र नि:शुल्क इलाज कराया जा सकता है। - Dainik Bhaskar
स्वास्थ्य विभाग के पोर्टल से ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन कराकर किसी भी सरकारी स्वास्थ्य केंद्र नि:शुल्क इलाज कराया जा सकता है।

राज्य सरकार ने राजधानी रायपुर के सरकारी अस्पतालों में OPD (आउट पेशेंट डिपार्टमेंट) और IPD (इन पेशेंट डिपार्टमेंट) सुविधा को फ्री कर दिया है। आयुष्मान कार्ड अथवा राशन कार्ड रखने वाले किसी व्यक्ति को अब इलाज के लिए 10 रुपए फीस नहीं देनी होगी। मरीजों को अब केवल कुछ पैथोलॉजी जांच के लिए शुल्क अदा करना होगा।

अधिकारियों ने बताया, स्वास्थ्य विभाग के पोर्टल से ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन कराकर किसी भी सरकारी स्वास्थ्य केंद्र में फ्री इलाज कराया जा सकता है। स्वास्थ्य विभाग ने रायपुर के शहरी स्वास्थ्य केंद्रों में यह योजना पायलट प्रोजेक्ट के रूप में शुरू की है। अगर यह प्रयोग सफल रह तो इसे ग्रामीण क्षेत्रों में भी इसे लागू किया जाएगा। वहां भी कोई दिक्कत पेश नहीं आई तो फिर पूरे प्रदेश में लागू करने की योजना है। फिलहाल शहरी क्षेत्र के 14 लाख से अधिक लोगों को इस योजना का फायदा मिल सकता है।

रायपुर के इन अस्पतालों में यह सुविधा
डॉ. भीमराव आंबेडकर अस्पताल, जिला अस्पताल पंडरी, आयुर्वेदिक हॉस्पिटल, जच्चा-बच्चा केंद्र कालीबाड़ी, डीडी नगर, हीरापुर, गोगांव, भनपुरी, गुढ़ियारी, राजातालाब, मोवा, आमासिवनी, कचना, लाभांडी, बोरियाकला, देवपुरी, कांशीराम नगर, मठपुरैना, भाठागांव, चंगोराभाठा, खोखोपारा और रामनगर। इन केंद्रों में रोजाना चार हजार 500 से ज्यादा मरीज इलाज कराने के लिए पहुंचते हैं।

ऑनलाइन पंजीयन प्रणाली ने काम करना शुरू किया
सरकारी अस्पतालों में ऑनलाइन पंजीयन प्रणाली ने काम करना शुरू कर दिया है। पहले से पंजीकृत मरीजों के मोबाइल नंबर बताते ही तुरंत OPD पर्ची मुहैया हो गई। रायपुर जिला अस्पताल में कुछ देर के लिए पोर्टल में तकनीकी वजहों से थोड़ी दिक्कत हुई, लेकिन थोड़ी देर में यह ठीक कर लिया गया। अधिकारियों ने बताया, दूसरे केंद्रों से ऐसी कोई शिकायत नहीं आई है।

खबरें और भी हैं...