पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

कोरोना और सियासत:पूर्व मंत्री बृजमोहन ने लॉकडाउन पर कहा- अभी छूट देना सही नहीं, व्यवस्था पर बोले-अब ऑक्सीजन और बेड बढ़ा रहे, जब चिड़िया चुग गई खेत

रायपुर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
सोमवार को पूर्व मंत्री ने मीडिया से चर्चा करते हुए ये बातें कहीं, और प्रदेश में कोविड इंफ्रास्ट्रक्चर बढ़ाने पर जोर दिया। - Dainik Bhaskar
सोमवार को पूर्व मंत्री ने मीडिया से चर्चा करते हुए ये बातें कहीं, और प्रदेश में कोविड इंफ्रास्ट्रक्चर बढ़ाने पर जोर दिया।

छत्तीसगढ़ के पूर्व मंत्री और भाजपा से विधायक बृजमोहन अग्रवाल ने सोमवार को कोरोना की वजह से प्रदेश में बने हालातों पर बयान दिया। उन्होंने कहा कि जब लोगों को ऑक्सीजन और वेंटिलेटर की जरूरत थी, तब सरकार नहीं दे सकी, अब व्यवस्था कर रहे जब चिड़िया चुग गई खेत। अब रायगढ़, जशपुर, जांजगीर जैसे इलाकों में अभी भी लोगों को ऑक्सीजन और वेंटिलेटर के बेड नहीं मिल रहे। शासन को चाहिए वहां लोगों के लिए बंदोबस्त करे।

लॉकडाउन में छूट देना सही नहीं
प्रदेश में ज्यादातर जिले लॉकडाउन की बंदिश में हैं। इस वक्त इसे बढ़ाए जाने या हटाने पर पूरे राज्य में चर्चा है। पूर्व मंत्री बृजमोहन अग्रवाल ने लॉकडाउन को लेकर कहा कि इस वक्त लॉकडाउन में छूट नहीं देनी चाहिए। मौतों के मामले में नियंत्रण नहीं है। भीड़ की स्थिति नहीं बनने देना चाहिए। लॉकडाउन को लेकर एक्सपर्ट्स की राय लेनी चाहिए, पूरी सर्तकता की जरूरत है।

रायपुर में केस घटे हैं तो खुश होने की जरूरत नहीं
रायपुर में पिछले कुछ दिनों में नए मरीज मिलने की संख्या कम हुई है। 15 दिन पहले तक हर दिन 3 हजार के करीब मरीज सामने आ रहे थे। अब इनकी संख्या आधी हो गई है। बृजमोहन अग्रवाल ने कहा कि रायपुर में केस कम हो गए तो खुश होने की जरूरत नहीं है। संक्रमण ग्रामीण इलाकों में बढ़ रहा है। RT-PCR जांच की रिपोर्ट नहीं मिल रही। इंफ्रास्ट्रक्चर बढ़ाने की ओर ध्यान देना होगा।

खबरें और भी हैं...