पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

परीक्षा केंद्रों के लिए गाइडलाइन:बोर्ड परीक्षा में एक कक्षा में आधे बच्चे, बिना मास्क के प्रवेश नहीं; क्लास रूम के बाहर करनी होगी सेनिटाइजर की व्यवस्था

रायपुर14 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
फाइल फोटो - Dainik Bhaskar
फाइल फोटो
  • कोरोना पॉजिटिव के बैठने के इंतजाम अलग से, पीपीई किट में आना होगा

दसवीं-बारहवीं बोर्ड परीक्षा के लिए माध्यमिक शिक्षा मंडल ने परीक्षा केंद्रों के लिए गाइडलाइन जारी की है। मंडल ने स्कूल प्रबंधनों से कहा है कि एक कक्षा में उसकी क्षमता के आधे बच्चे ही परीक्षा देंगे। यानी हर छात्र की दूरी एक-दूसरे से 3 फीट से ज्यादा रहेगी। परीक्षा के पहले हर बार कमरे को सेनिटाइज किया जाएगा।

माशिमं की ओर से 10वीं की परीक्षा 15 अप्रैल से और 12वीं की परीक्षा 3 मई से शुरू की जा रही है। इसके लिए समय सारिणी पहले ही जारी हो चुकी है। दसवीं-बारहवीं में हजारों छात्र शामिल हो रहे हैं। ऐसे में सभी जगहों पर सोशल डिस्टेसिंग बनी रहे इसलिए परीक्षा केंद्रों की संख्या बढ़ा दी गई है। छात्रों को मास्क पहनकर आना अनिवार्य होगा। छात्रों के साथ ही परीक्षा काम में जुटे सभी अधिकारियों और कर्मचारियों को भी मास्क लगाना अनिवार्य होगा। सभी स्कूलों के प्रवेश द्वारा और क्लास रूम के बाहर सेनिटाइजर की व्यवस्था रहेगी।

कोरोना की वजह से पहली बार यह व्यवस्था बनाई गई है नियमित छात्र जिस स्कूल में पढ़ाई कर रहा है परीक्षा भी उसी स्कूल में ही देगा। बोर्ड परीक्षा में हर बार सेंटर अलग होते थे। जो छात्र जिस स्कूल में पढ़ाई करता था उसे दूसरे स्कूल में जाकर पेपर देने होते थे।

लेकिन दशकों पुराना नियम इस बार बदल दिया गया है। स्कूलों में परीक्षा के दौरान प्राइवेट स्कूलों के प्रबंधन सरकारी स्कूलों के प्राचार्य या व्याख्याताओं को अपने स्कूल का केंद्राध्यक्ष नियुक्त कर सकते हैं। केवल इस बात का ख्याल रखना है कि जिसे केंद्राध्यक्ष बनाया जा रहा है उनकी कोई संतान उसी स्कूल में परीक्षा न दे रहे हों।

संक्रमित छात्रों को पीपीई किट पहनाकर बिठाएंगे
परीक्षा के दौरान कोई छात्र कोरोना संक्रमित है और वो परीक्षा केंद्र तक आ सकता है तो उसके लिए अलग से व्यवस्था की जाएगी। ऐसे छात्रों को अलग कमरे में बिठाया जाएगा। उन्हें पीपीई किट पहनकर आना अनिवार्य होगा। इसके अलावा परीक्षा देने से पहले सभी छात्रों के शरीर के तापमान की भी जांच की जाएगी। परीक्षा के दौरान अनुचित सामग्रियों का प्रयोग न हो इसलिए पुलिस की व्यवस्था भी रहेगी।

मंडल के अफसरों का कहना है कि कोरोना गाइडलाइन के तहत ही परीक्षा आयोजित की जाएगी। इसलिए परीक्षा में शामिल सभी छात्रों और संबंधित लोगों को इसका पालन अनिवार्य रूप से करना होगा। परीक्षा केंद्रों में किसी भी तरह की लापरवाही की जाती है तो वहां के जिम्मेदार अधिकारी पर कार्रवाई भी की जाएगी।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- कुछ रचनात्मक तथा सामाजिक कार्यों में आपका अधिकतर समय व्यतीत होगा। मीडिया तथा संपर्क सूत्रों संबंधी गतिविधियों में अपना विशेष ध्यान केंद्रित रखें, आपको कोई महत्वपूर्ण सूचना मिल सकती हैं। अनुभव...

    और पढ़ें