मैदानों में भारी वर्षा:राजधानी में तेज बारिश, जशपुर में बाजार पर बिजली गिरने से 3 मृत

रायपुर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
बारिश से बचने के लिए बस स्टॉप पर रुके लोग। - Dainik Bhaskar
बारिश से बचने के लिए बस स्टॉप पर रुके लोग।

मानसून आखिरकार 9 दिन बाद राजधानी समेत प्रदेश के मैदानी इलाकों पर मेहरबान हुआ और कई जगह अच्छी बारिश हुई। रायपुर में शाम 6 बजे से देर शाम तक करीब साढ़े 3 सेमी पानी बरस गया। प्रदेशभर में सबसे ज्यादा वर्षा राजधानी से करीब 45 किमी दूर राजिम में रिकार्ड की गई। वहां 11 सेमी पानी बरस गया। रायपुर, दुर्ग और बिलासपुर संभाग में कई जगह अच्छी बारिश की सूचना है।

इस बीच, जशपुर के एक ग्रामीण बाजार में बिजली गिरने से 3 लोगों की मौके पर झुलसकर मौत हो गई और 2 गंभीर रूप से घायल हैं। राजधानी में बुधवार को दोपहर भी काफी उमस थी और बारिश के हालात नहीं थे। लेकिन शाम करीब 5 बजे से बादल गहराए और बारिश शुरू हुई।

मौसम की पहली अच्छी बारिश से शहर में उन सभी सड़कों पर नाले का पानी भरा, जहां हर साल भरता है। इसके अलावा राजधानी से 100 किमी दायरे में कई जगह 5 से 7 सेमी बारिश की खबर है। इसके अलावा मगरलोड में 4 सेमी, कोंडागांव, जैजैपुर में 3, बरमकेला, छिंदगढ़, केशकाल, कटेकल्याण, कुआकोंडा, मालखरौदा व सक्ती में 2 सेमी पानी गिरा। करतला, माकड़ी, तोकापाल, नरहरपुर, बिलाईगढ़, फरसगांव, नगरी व पेंड्रारोड में 1-1 सेमी बारिश रिकार्ड की गई है।

खाड़ी के सिस्टम से नहीं : मौसम विज्ञान केंद्र लालपुर के मौसम विज्ञानियों के अनुसार बुधवार को बारिश द्रोणिका के असर से हुई है। इसका प्रभाव गुरुवार, 30 जून को भी रहेगा और ठीक-ठाक बारिश होगी। लेकिन मानसून को ताकत देने के लिए बंगाल की खाड़ी में अब भी कोई सिस्टम नहीं बना है।

काफी भीड़ थी बाजार में
जशपुरनगर | सन्ना के साप्ताहिक बाजार में बिजली गिरने से 3 ग्रामीणों की झुलसकर मौत हो गई। उस वक्त बाजार में भीड़ थी इसलिए दर्जनों लोग घायल भी हुए। दोपहर लगभग ढाई बजे बारिश के दौरान बिजली गिरने से संजू राम (11), भीखनाथ (23), विजय मिंज (56) ने मौके पर दम तोड़ दिया।

खबरें और भी हैं...