कोरोना को हराना है / बाहर से आने वालों की निगरानी के लिए जयस्तंभ चौक पर बनाया गया हाईटेक वॉर रूम, कोरोना से जुड़े हर मामले का अपडेट रखा जाएगा

प्रतीकात्मक तस्वीर। प्रतीकात्मक तस्वीर।
X
प्रतीकात्मक तस्वीर।प्रतीकात्मक तस्वीर।

  • जयस्तंभ के इंटिग्रेटेड ट्रैफिक मैनेजमेंट के कमांड सेंटर में जिला पुलिस प्रशासन हेल्थ विभाग और नगर निगम का वॉर रूम बनाया गया है
  • इसके अलावा हेल्पलाइन नंबर 104, पुलिस की 112 सेवा और निदान हेल्पलाइन 1100 के बीच भी तालमेल का काम भी यहीं से किया जा रहा है

दैनिक भास्कर

Mar 27, 2020, 04:31 AM IST

रायपुर. कोरोना के खिलाफ शहर की लड़ाई में विदेश या बाहर से आने वाले लोगों की निगरानी और पहचान अब हाईटेक तरीके से हो रही है। जयस्तंभ के इंटिग्रेटेड ट्रैफिक मैनेजमेंट के कमांड सेंटर में जिला पुलिस प्रशासन हेल्थ विभाग और नगर निगम का वॉर रूम बनाया गया है। इसके जरिए कोरोना से जुड़े हर मामले पर पल पल का अपडेट रखा जाएगा। आईटीएम की जद में आने वाले हर इलाके को लाइव देखा जा रहा है।


इसके अलावा हेल्पलाइन नंबर 104, पुलिस की 112 सेवा और निदान हेल्पलाइन 1100 के बीच भी तालमेल का काम भी यहीं से किया जा रहा है। दरअसल, लॉकडाउन को प्रभावी बनाने के लिए इस तरह की हाईटेक व्यवस्था की गई है। विश्व स्वास्थ्य संगठन ने भी दुनिया के तमाम देशों को कोरोना से लड़ने के लिए सर्विलांस और ट्रेकिंग के सिस्टम को प्रभावी बनाने की हिदायत भी है। बुधवार को हेल्थ विभाग की रिव्यू मीटिंग में अब इस पर जोर देने के लिए कहा गया है।


हेल्पलाइनों में तालमेल का सिस्टम 

कोरोना की विशेष हेल्पलाइन 104 के तहत आनी वाली सूचनाएं भी हाईस्पीड तरीके से यहां तक पहुंचाई जा रही है। ऐसे मोहल्ले जहां लॉकडाउन के दौरान लोग भीड़ में जमा हो रहे हैं, ऐसी शिकायतों को हेल्पलाइन नंबर 112 के जरिए तुरंत एक्शन के साथ निपटाया जा रहा है।


हर जरूरत पर निगरानी यहीं से
कोरोना संकट से निदान के लिए हर मोहल्ले की जरूरतों पर हाईटेक तरीके से यहीं से मॉनिटरिंग की जा रही है। जिला-पुलिस प्रशासन, हेल्थ टीम और नगर निगम के जोन दफ्तर में काम करने वाली टीमों के बीच सूचनाओं का आदान प्रदान भी यहीं से किया जा रहा है। इसके अलावा सड़कों मोहल्लों की साफ सफाई, पानी, सड़क पर लॉकडाउन का अनुपालन वगैरह भी मॉनिटर कर रहे हैं।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना