रेमडेसिविर अब IAS अफसर की निगरानी में:छत्तीसगढ़ में IAS हिमशिखर गुप्ता को नियंत्रण-वितरण की जिम्मेदारी, दो अफसरों की मुंबई-हैदराबाद में पहले से तैनाती

रायपुर7 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

प्रदेश में कोरोना के इलाज में इस्तेमाल हो रही रेमडेसिविर इंजेक्शन पर हाहाकार जारी है। मरीजों को यह इंजेक्शन उपलब्ध नहीं हो पा रहा है। इधर कालाबाजारी की खबरे भी लगातार आ रही हैं। अब सरकार ने सहकारिता विभाग के विशेष सचिव हिमशिखर गुप्ता को नोडल अधिकारी बनाया है। उन्हें रेमडेसिविर के नियंत्रण और वितरण की जिम्मेदारी सौंपी गई है।

सामान्य प्रशासन विभाग ने गुरुवार काे इसका आदेश जारी किया। कहा गया, 2007 बैच के IAS अधिकारी हिमांशु गुप्ता को रेमडेसिविर इंजेक्शन की आपूर्ति और राज्य के भीतर वितरण के लिये स्वास्थ्य विभाग और जिला कलेक्टरों के साथ समन्वय बनाना है। उनको मुंबई और हैदराबाद में तैनात IAS अफसरों, भास्कर विलास संदीपन और अरुण प्रसाद से भी समन्वय बनाकर जरूरत के मुताबिक आपूर्ति बनाए रखने की कोशिश करनी है। हिमशिखर गुप्ता स्वास्थ्य विभाग की अपर मुख्य सचिव रेणु जी. पिल्लै को रिपोर्ट करेंगे।

2007 बैच के IAS अधिकारी हिमशिखर गुप्ता अभी सहकारिता विभाग के विशेष सचिव और सहकारी संस्थाओं के पंजीयन की जिम्मेदारी संभाल रहे हैं।
2007 बैच के IAS अधिकारी हिमशिखर गुप्ता अभी सहकारिता विभाग के विशेष सचिव और सहकारी संस्थाओं के पंजीयन की जिम्मेदारी संभाल रहे हैं।

मुख्यमंत्री ने कहा, अस्पतालों से मिलेगा

महापौरों और नगर निगम आयुक्तों के साथ आज हुई बैठक में रेमडेसिविर इंजेक्शन की कमी का मामला उठा। इस दौरान मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने स्पष्ट किया कि यह दवा अस्पतालों के जरिये ही मरीजों को मिलेगी। किसी दवा दुकान में इसे नहीं बेचा जाएगा।

खबरें और भी हैं...