पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

कोरोना से जंग जारी:एक साल में कोरोना से 12,979 की जान गई 2437 नए मरीज मिले

रायपुरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

प्रदेश में कोरोना से पहली मौत को एक साल पूरा हो गया है। राजधानी व प्रदेश में पहली मौत 29 मई 2020 को हुई थी। उसके बाद पिछले 365 दिन में अब तक 12,979 मरीजों की मौत हो चुकी है। तब से अब तक औसतन रोजाना 35 से ज्यादा मरीजों की कोरोना से जान जा रही है। पिछले 24 घंटे में रायपुर में 61 समेत प्रदेश में 2437 नए मरीज मिले हैं। रायपुर में पांच समेत 64 मरीजों की मौत भी हुई है। राज्य में अब कोरोना के एक्टिव केस 46 हजार के आसपास रह गए हैं। अब तक 90 लाख से ज्यादा सैंपलों की जांच की जा चुकी है। प्रदेश में कोरोना से सबसे ज्यादा 3,091 मौतें रायपुर में हुई हैं।

यह कुल मौत की 24 फीसदी यानी एक चौथाई के आसपास है। सबसे ज्यादा संक्रमित भी रायपुर जिले में है। यही कारण है कि कोरोना से मरने वालों की संख्या भी ज्यादा है। दूसरे नंबर पर दुर्ग है, जहां 1,758 मरीजों की जान गई है। विशेषज्ञों का कहना है कि वायरस के नए वेरिएंट में केवल कोरोना से मरने वालों की संख्या बढ़ी है, जबकि पहली लहर में कोरोना के साथ गंभीर बीमारी वाले मरीजों की माैत ज्यादा हुई। एक्टिव केस के मामले में रायपुर टॉप से बाहर हो गया है। यहां केवल 2,422 एक्टिव केस है। जबकि रायगढ़ टॉप पर पहुंच गया है। कोरिया, सूरजपुर, सरगुजा व जांजगीर-चांपा 5 टॉप जिलों में शामिल हो गए हैं। इन जिलों में पिछले 15 दिनों से ज्यादा मरीज मिल रहे हैं इसलिए एक्टिव केस की संख्या बढ़ी है, जबकि रायपुर व दुर्ग में नए केस लगातार कम हो रहे हैं इसलिए एक्टिव केस कम हो रहे हैं।

एक्टिव केस वाले टॉप 5 जिले

  • रायगढ़ 3,723
  • कोरिया 3,637
  • सूरजपुर 3,608
  • सरगुजा 3,379
  • जांजगीर-चांपा 2,977

सबसे ज्यादा मौत वाले 5 जिले

  • रायपुर 3091
  • दुर्ग 1758
  • बिलासपुर 1187
  • रायगढ़ 902
  • जांजगीर-चांपा 745
खबरें और भी हैं...