रायपुर में रईसजादे ने भीड़ में घुसा दी कार:दूसरी गाड़ियों को ठोका, कुछ लोग हुए घायल; लोगों ने लात-घूसों से पीटा

रायपुरएक महीने पहले

रायपुर में एक रईसजादे साहिल जैन ने भीड़ में गाड़ी घुसा दी। शुक्रवार देर रात इसकी हरकत लोगों के लिए जानलेवा साबित हो जाती। शुक्र इस बात का रहा कि बड़ी घटना से पहले ही लोगों ने इसे रोक लिया। राजधानी में MG रोड पर लगने वाली नाइट चौपाटी में लोग स्ट्रीट फूड का लुत्फ ले रहे थे। दिवाली का दूसरा दिन था। ऐसे में परिवार समेत यहां पहुंचे लोगों की भीड़ थी। इतने में साहिल जैन ने यहां तेज रफ्तार में गाड़ी भरी भीड़ में घुसा दी। रास्ते में मौजूद कुछ लोगों को चोटें आईं। किनारों पर खड़ी दूसरी गाड़ियों को ठोकते हुए साहिल अपनी कार में निकल गया।

थाने में आए शिकायतकर्ताओं से बहस करता रहा।
थाने में आए शिकायतकर्ताओं से बहस करता रहा।

लोगों ने बताया कि कुछ मिनट बाद दूसरी तरफ से फिर इसी अंदाज में साहिल गाड़ी लेकर आया, कार धीमी हुई तो लोगों ने इसे घेर लिया। भीड़ ने साहिल जैन के कार से निकलते ही उस पर लात-घूसों की बरसात शुरू कर दी। तभी मौके पर पहुंची पुलिस की टीम ने साहिल को वहां से निकाला और थाने लाकर लॉकअप में डाल दिया। खबर है कि इस हादसे में कुछ महिलाओं को चोट आई है। कुछ फूड स्टॉल वालों का भी नुकसान हुआ है। घटना रात 11 बजे की है। जिस जगह पर घटना हुई है वहां 30 से 40 से ज्यादा की स्पीड में गाड़ी नहीं चलाई जा सकती, क्योंकि सड़क पर पूरी भीड़ मौजूद रहती है। इसके बावजूद साहिल 70 से 80 की रफ्तार में गाड़ी चलाता हुआ भीड़ में घुस गया था।

पुलिस ने लॉकअप में डाला।
पुलिस ने लॉकअप में डाला।

गाड़ी से मिला हुक्का और शराब की बोतलें
साहिल जैन की गाड़ी को थाने लाकर पुलिस ने तलाशी ली। कार से शराब की बोतलें मिली हैं। गाड़ी में हुक्का भी रखा हुआ मिला। छत्तीसगढ़ सरकार ने हुक्का प्रतिबंधित कर दिया है। इसके बाद भी साहिल के पास से हुक्का बरामद किया गया है। अब मौदहापारा थाने की पुलिस लोगों की जिंदगी खतरे में डालने, लापरवाही से गाड़ी चलाने, प्रतिबंधित हुक्का रखने जैसे मामलों में साहिल के खिलाफ केस दर्ज कर सकती है।

गाड़ी से मिला प्रतिबंधित हुक्का।
गाड़ी से मिला प्रतिबंधित हुक्का।

कारोबारी परिवार से रखता है ताल्लुक, कई रसूखदारों का खास
साहिल जैन रायपुर में इवेंट कंपनी चलाता है। ये युवक दो साल पहले केंद्रीय मंत्री रेणुका सिंह का मीडिया सलाहकार रह चुका है। रेणुका सिंह ने बताया था कि उनके नाम का दुरूपयोग करने की वजह से उन्होंने साहिल को काम से निकाल दिया था। रायपुर के कारोबारी परिवार से ताल्लुक रखने वाला साहिल मारपीट और गुंडागर्दी के मामले में भी आरोपी है। पांच महीने पहले इसने टाटीबंध के एक कार डीलर के दफ्तर में घुसकर तोड़-फोड़ और मारपीट की थी। इस मामले में सरस्वती नगर थाने की टीम साहित को ढूंढ रही थी।