हायर एजुकेशन में सिंधी भाषा को बढ़ावा:BJP सांसद शंकर लालवानी बोले-भाषा विकास के लिए रविवि को मिलेंगे 1 करोड़, SCOI ने किया सम्मान

रायपुर15 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

मध्यप्रदेश के इंदौर से बीजेपी सांसद शंकर लालवानी रविवार को रायपुर पहुंचे। यहां उन्होंने सिंधी काउंसिल ऑफ इंडिया (SCOI) के सदस्यों से मुलाकात की। सांसद ने रायपुर में काउंसिल की ओर से सिंधी भाषा के विकास और संस्कृति के प्रचार पर किए जा रहे कामों को लेकर बैठक भी की। इसके बाद सांसद लालवानी ने बताया कि राष्ट्रीय सिंधी भाषा समिति प्रदेश के युवाओं को नई सुविधा देने जा रही है।

सांसद ने कहा कि केंद्र स्तर पर रविशंकर शुक्ल विश्वविद्यालय को 1 करोड़ की राशि जारी की जाएगी। इस राशि का उपयोग, हायर एजुकेशन में सिंधी भाषा में पढ़ाई, भाषा के प्रसार से जुड़े कार्यक्रम। शैक्षणिक सत्र वगैरह में खर्च होगी। समिति केंद्रीय शिक्षा मंत्रालय से संबंधित है। जल्द ही रायपुर की युनिवर्सिटी को ये फंड जारी किया जाएगा। इसी साल फरवरी के महीने में रविशंकर शुक्ल युनिवर्सिटी में सिंधी भाषा पर डिप्लोमा कोर्स शुरू किया गया है।

सांसद का हुआ सम्मान
सिंधी काउंसिल ऑफ इंडिया की छत्तीसगढ़ इकाई ने इंदौर सांसद शंकर लालवानी का सम्मान किया। ये कार्यक्रम शदाणी दरबार में हुआ। शदाणी दरबार के संत युदिष्ठर लाल से सांसद ने आशीर्वाद लिया। शंकर लालवानी ने कहा- मुझे में शदाणी दरबार में आकार ऊर्जा मिलती है। कार्यक्रम में रायपुर सांसद सुनील सोनी का भी सम्मान किया गया। एनसीपीसीएल के डायरेक्टर रवि टेकचंदानी, उदय शदानी,सिंधी काउंसिल ऑफ इंडिया छत्तीसगढ़ इकाई के अध्यक्ष ललित जैसिंघ मौजूद रहे।

प्रोफेसर अकील अहमद कर चुके हैं दौरा
पं. रविशंकर शुक्ल विश्वविद्यालय में कुछ महीने पहले शिक्षा मंत्रालय नई दिल्ली की ओर से संचालित राष्ट्रीय सिंधी भाषा विकास परिषद के डायरेक्टर प्रोफेसर अकील अहमद ने भी दौरा किया था। रविवि के प्रो. केशरी लाल वर्मा सिंधी और उर्दू भाषा पर युनिवर्सिटी में अंतरराष्ट्रीय संगोष्ठी कराने की तैयारी में हैं। युनिवर्सिटी में सिंधी भाषा डिप्लोमा में वर्तमान में 30 सीटें हैं।

खबरें और भी हैं...