CG के ईशान का स्कॉटलैंड में कमाल:विदेश जाने के पैसे नहीं थे पिता ने लोन लेकर भेजा, बेटे ने बैडमिंटन में जीता मेडल

रायपुर5 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
ईशान का साथ केरल की तनिशा ने दिया। - Dainik Bhaskar
ईशान का साथ केरल की तनिशा ने दिया।

रायपुर के बैडमिंटन प्लेयर ईशान ने अपने हुनर को एक बार फिर साबित किया है। स्कॉटलैंड की धरती पर मलेशिया के खिलाड़ियों को हरा कर ईशान ने कांस्य पदक अपने नाम किया। स्काटलैंड के वेल्स में आयोजित विक्टर वेल्श अंतरराष्ट्रीय बैडमिंटन स्पर्धा में रायपुर के ईशान भटनागर और केरल की तनिशा क्रेस्टो की जोड़ी ने मिक्स डबल्स के क्वार्टर फाइनल में जीत हासिल की।

एक प्रतियोगिता के दौरान ईशान।
एक प्रतियोगिता के दौरान ईशान।

इस खिलाड़ी के सामने स्कॉटलैंड जाने से पहले फाइनेंशियल प्रॉब्लम थी। इस इंटरनेशनल प्रतियोगिता में पार्टिसिपेट करने के लिए 1 लाख 75 हजार रुपयों की जरुरत थी। कारोबारी पिता अजय भटनागर ने बेटे से पूछा था कि क्या वो इस प्रतियोगिता को लेकर गंभीर है, बेटे का जवाब था मेडल लेकर ही आउंगा। पिता ने अपना फर्ज निभाया, अजय भटनागर ने लोन लेकर बेटे को स्कॉटलैंड भेजा वहां अजय ने मेडल जीतकर वादा भी पूरा किया।

अगली बार और मेहनत करूंगा
जिला बैडमिंटन संघ के सचिव अनुराग दीक्षित ने बताया कि मिक्स डबल्स के मुकाबले में क्वार्टर फाइनल में मलेशिया के तान कोक शियान और देसरी हाओ शेन की जोड़ी को 29 मिनट में 21-16,21-14 से हराकर ईशान और तनिशा की जोड़ी ने मेडल जीता । इसके बाद इनका मुकाबला सेमीफाइनल में इग्लैंड के काॅलम हैमिंग और जेसिका पग की जोड़ी से हुआ। 44 मिनट के संघर्ष के बाद 21-19,21-16 से भारतीय जोड़ी को हार का सामना करना पड़ा। ईशान ने कहा है कि आगे दूसरी प्रतियोगिताओं में और बेहतर करेंगे।

खबरें और भी हैं...