बेटी की शादी में थिरके प्रकाश मुनि:दर्शन को बेताब भीड़ के लिए धर्म गुरु कार के बोनट पर चढ़े, समारोह में पहुंचे मुख्यमंत्री

रायपुर5 महीने पहले

छत्तीसगढ़ के बलौदाबाजार में 2 दिसंबर को कबीर पंथ के धर्म गुरु प्रकाश मुनि की बेटी किरण की शादी हुई। बलौदाबाजार जिले के दामाखेड़ा में हुए इस कार्यक्रम में बड़ी तादाद में आम और खास लोग पहुंचे। इस कार्यक्रम का अब एक वीडियो सामने आया है। इस वीडियो में प्रकाश मुनि डांस करते नजर आ रहे हैं। DJ की धुन पर नाच रहे रिश्तेदारों और वहां मौजूद लोगों के आग्रह को स्वीकारते हुए प्रकाश मुनि ने डांस किया। इस पल को कुछ लोगों ने मोबाइल में कैद कर लिया।

शादी के दौरान प्रकाश मुनि की बेटी किरण।
शादी के दौरान प्रकाश मुनि की बेटी किरण।

प्रकाश मुनि की बेटी की शादी का कार्यक्रम बेहद भव्य रहा। यहां विंटेज लुक की कार में बेटी किरण की ग्रैंड एंट्री हुई। बारात के पहुंचते ही बैंड ने बहारों फूल बरसाओ गीत परफॉर्म किया। प्रकाश मुनि के परिवार के इस कार्यक्रम में VVIP लाउंज बनाया गया था।

सीएम के साथ मंत्री भी पहुंचे।
सीएम के साथ मंत्री भी पहुंचे।

इस कार्यक्रम में खुद प्रदेश के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल, गृहमंत्री ताम्रध्वज साहू और कृषि मंत्री रविंद्र चौबे जैसी हस्तियां पहुंचीं। जनता कांग्रेस की नेता ऋचा जोगी, यूथ विंग के प्रमुख प्रदीप साहू भी कार्यक्रम में शरीक हुए।

लोगों से मिलते प्रकाश मुनि।
लोगों से मिलते प्रकाश मुनि।

बोनट पर चढ़ना पड़ा
कार्यक्रम में बलौदाबाजार जिले के अलावा, बेमेतरा, कवर्धा से भी बड़ी तादाद में लोग पहुंचे हुए थे। सभी प्रकाश मुनि के दर्शन करना चाह रहे थे। लोगों के बीच जाते ही भीड़ ने प्रकाश मुनि को घेर लिया। दूर खड़े लोगों का अभिवादन स्वीकारने प्रकाश मुनि अपनी कार के बोनट पर चढ़ गए। यहीं से उन्होंने लोगों को आशीर्वाद देकर सभी से भोजन करने का आग्रह किया।

ऋचा जोगी और जनता कांग्रेस के नेता भी शामिल हुए।
ऋचा जोगी और जनता कांग्रेस के नेता भी शामिल हुए।

कौन हैं प्रकाश मुनि
प्रकाश मुनि कबीर पंथ के इस वक्त सबसे बड़े गुरु हैं। कबीर के विचारों और आदर्शों को मानने वाले इस समुदाय के छत्तीसगढ़ के लाखों परिवार प्रकाश मुनि को भगवान की तरह पूज्य मानते हैं। रायपुर के करीब दामाखेड़ा में कबीर पंथियों की तीर्थ स्थल है। दामाखेड़ा में ही आश्रम में प्रकाश मुनि रहते हैं। दामाखोड़ा को कबीरपंथियों के आस्था का सबसे बड़ा केंद्र माना जाता है।

96 लाख लोग कबीर पंथी से जुड़े हैं
दामाखेड़ा में कबीर मठ की स्थापना 1903 में कबीरपंथ के 12वें गुरु अग्रनाम साहब ने की थी। माना जाता है कि देश में कुल 96 लाख लोग कबीर पंथी हैं। सभी प्रकाश मुनि का बेहद आदर करते हैं उनके प्रवचन सुनते हैं। पिछले विधानसभा चुनाव के वक्त प्रचार करने आए तबके भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने भी दामाखेड़ा जाकर प्रकाश मुनि के दर्शन किए थे।