विधायक शैलेष पांडेय विवाद पर बोले PCC चीफ:मोहन मरकाम ने कहा- सीधे किसी को फांसी पर नहीं चढ़ा सकते, नोटिस देंगे, जांच होगी फिर कार्रवाई करेंगे

रायपुर8 महीने पहले
मोहन मरकाम ने कांग्रेस दफ्तर में मीडिया से बात करते हुए ये बयान दिया है।

बिलासपुर जिला कांग्रेस कमेटी और विधायक शैलेष पांडेय के बीच जारी घमासान पर अब प्रदेश कांग्रेस का रुख सामने आया है। इस मुद्दे पर पार्टी के प्रदेश प्रमुख मोहन मरकाम ने कहा है कि किसी को सीधे फांसी तो नहीं चढ़ा सकते, हमारे पास जब शिकायत आएगी तब हम नोटिस भेजेंगे, जरूरत पड़ी तो जांच कमेटी बनाएंगे। इसके बाद उचित होगा तो कार्रवाई करेंगे।

उन्होंने कहा कि मुझे मीडिया के माध्यम से पता चला है कि बिलासपुर जिला कांग्रेस कमेटी ने विधायक शैलेष पांडेय को पार्टी से निकालने का प्रस्ताव पारित किया है। मुझ तक शिकायत आएगी तो आगे की कार्रवाई की जाएगी।

कांग्रेस विधायक शैलेष पांडेय ने पार्टी लाइन से बाहर जाकर बयानबाजी की थी। इस पर जिला कांग्रेस कमेटी ने बिलासपुर से कांग्रेस विधायक शैलेष पांडेय को पार्टी से 6 साल के लिए निकालने का प्रस्ताव पारित कर दिया था। इसे अब प्रदेश कांग्रेस कमेटी को भेजा जाएगा। विधायक पार्टी में रहेंगे या बाहर होंगे, ये फैसला प्रदेश कांग्रेस कमेटी को ही करना है।

अपने ही MLA के निष्कासन का प्रस्ताव ले आई कांग्रेस:बिलासपुर में कांग्रेस का कलह; शहर कमेटी ने विधायक शैलेष पांडेय को 6 साल के लिए निष्कासित करने का प्रस्ताव पारित किया

बुधवार को विधायक शैलेष पांडेय ने अपने बयान में कहा था कि मैं मंत्री सिंहदेव का आदमी हूं, इसलिए जानबूझकर हम पर केस किया जा रहा है। असल में कुछ दिन पहले कांग्रेस नेता और मंत्री सिंहदेव के समर्थक माने जाने वाले पंकज सिंह ने CIMS अस्पताल के कर्मचारियों के साथ हाथापाई की थी।

इस मामले में बिलासपुर की पुलिस ने पंकज के खिलाफ केस दर्ज कर लिया था। इसी मामले पर बयान देते हुए विधायक शैलेष पांडेय ने मामले को मंत्री सिंहदेव से जोड़ते हुए बयान दिया था।

पार्टी में खेमेबाजी पर भी बोले मरकाम
रायपुर में प्रदेश कांग्रेस दफ्तर में मीडिया से बात करते हुए मोहन मरकाम ने कहा कि पार्टी में कोई खेमेबाजी नहीं है। मैं संगठन के साथ हूं। संगठन की भूमिका पालक की भूमिका होती है। हम चाहे मुख्यमंत्री हो या आम कार्यकर्ता सभी को बराबर महत्व देने का काम करते हैं। हम संगठन के लिए हाईकमान के निर्देश पर काम करते हैं।

मंत्री के खास पर FIR पर कांग्रेस में घमासान:कांग्रेस नेता अटल श्रीवास्तव बोले- विधायक का बयान अनुशासनहीनता की श्रेणी में, पार्टी में होगी चर्चा; शैलेष ने कहा था-ये बदले की कार्रवाई

बयान पर काबू रखने जारी होगा निर्देश
बिलासपुर में उपजे विवाद को लेकर मोहन मरकाम ने कहा कि वहां जो भी घटना हुई वो दुखद है, ऐसा होना नहीं चाहिए। पुलिस ने भी केस दर्ज किया है, पुलिस जांच करके अपना काम करेगी। विधायक के बयान पर प्रतिक्रिया देते हुए मोहन मरकाम ने कहा कि बड़बोलापन कभी -भी भारी पड़ जाता है। हम सभी पार्टी के अनुशासन में बंधे हैं। इस तरह से सार्वजनिक बयानबाजी से पार्टी की छवि धूमिल होती है।

खबरें और भी हैं...