लुटेरे सक्रिय:पिछले चार महीने में 30 से ज्यादा लूट की वारदात हुई, 60 फीसदी केस में नहीं पकड़े गए कोई आरोपी

रायपुर10 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
राजधानी का वीआईपी रोड हो या पंडरी बाजार, हर तरफ हो रहीं लूट-छीनाझपटी की घटनाएं - Dainik Bhaskar
राजधानी का वीआईपी रोड हो या पंडरी बाजार, हर तरफ हो रहीं लूट-छीनाझपटी की घटनाएं

वीआईपी रोड में कैफे जा रही दो युवतियों से गुरुवार रात 10 बजे लूट हो गई। दो लुटेरों ने दोनों युवतियों को रोक दिया और पिस्टल तान दिया। एक युवती मोपेड छोड़कर होटल में भाग गई। दूसरे को लुटेरों को पकड़ लिया। उसका एप्पल का हैंडसेट और मोपेड लूट लिए। कुछ दूरी पर मोपेड को छोड़कर मोबाइल लेकर भाग निकल।

वह मोबाइल 7 किलोमीटर दूर डूमरतराई सब्जी बाजार के पास मिल गया है। हालांकि की दोनों लुटेरों का क्लू मिल नहीं पाया है। राजधानी में पिछले 4 महीने में 30 से ज्यादा लूट की घटनाएं हुई है। इसमें सिर्फ 40 फीसदी मामलों में ही पुलिस को सफलता मिल पाई है। बाकी मामलों की जांच चल रही है। हालांकि पिछले तीन साल 225 से ज्यादा लूट हुई है। पुलिस को 84 फीसदी मामलों में सफलता मिली है। पुलिस ने कई मामलों में लुटेरे नहीं मिलने पर केस को खत्म कर दिया है।

पुलिस ने बताया कि मोबाइल लूट की घटनाएं बढ़ी है। इसकी जांच भी लंबी चलती है। पुलिस को सफलता भी मिलती है। मोबाइल लूट में 8-9 महीने लग जाते हैं। क्योंकि लुटेरे कई महीने तक मोबाइल को बंद रखते है। इसलिए समय लगता है।

घड़ी चौक पर लूट
शहर के बीच घड़ी चौक के पास 10 मई को ड्यूटी से पैदल लौट रही प्रियंका जगत से लूट हो गई। बाइक में दो लुटेरे आए और झपट्टा मारकर मोबाइल लूटकर भाग निकले। लुटेरे अब तक पकड़े नहीं गए हैं।

देवेंद्र नगर में चेन झपटी
देवेंद्र नगर सेक्टर-4 में 26 अप्रैल की सुबह गार्डन में पानी डाल रही कारोबारी की पत्नी से लूट हो गई। एक लुटेरा आया और आंखों में मिर्ची पावडर झोंककर सोने की चेन लूटकर भाग निकला।

मोतीबाग में मोबाइल छिना
मोतीबाग के पास 5 अप्रैल की शाम सब इंजीनियर दीपेश राठौर से लूट हो गई। दो लुटेरे पीछे से आए और उनका मोबाइल लूटकर शास्त्री चौक की ओर भाग निकले। लुटेरे अब तक पुलिस की गिरफ्त से बाहर।

कोटा रोड में भी वारदात
गुढियारी-कोटा रोड में पिछले महीने लुटेरे युवक-युवती ने महिला को लूट लिया। महिला रिश्तेदार के साथ बाइक में आ रही थी। पीछे से युवती अपने साथी के साथ आई और झपट्टा मारकर लूट ली।

लूट की शिकायत पर चोरी का केस दर्ज
राजधानी में आकड़ों का खेल चल रहा है। लूट की शिकायत पर चोरी का केस दर्ज किया जा रहा है। वीआईपी रोड में गुरुवार रात जहां पर गोली मारकर युवती को लूटा गया है। वहां एक दिन पहले बुधवार को कॉलेज छात्र के साथ लूट हुई। आर्यन अग्रवाल परिचित युवती के साथ रेस्तरांं जा रहा था।

दो युवकों ने रोके लिया और चाकू दिखाकर लूट लिया। कैश, मोबाइल और एटीएम लूटकर भाग निकले। पुलिस ने शिकायत को गंभीरता से नहीं लिया। इसमें चोरी का केस दर्ज कर लिया। पुलिस अब तक लुटेरों के बारे में कोई सुराग नहीं जुटा पाई है। लूट के ऐसे दर्जन से ज्यादा घटनाएं है, जिसमें लूट का केस दर्ज किया गया है।

फुटेज के बाद भी नहीं पकड़े जा रहे आरोपी
राजधानी में लूट के अधिकांश मामले में पुलिस को पास सीसीटीवी फुटेज है। इसके बाद भी पुलिस लुटेरों को पकड़ नहीं पाई है। पुलिस फुटेज के साथ तकनीकी जांच कर रही है। आसपास के इलाके का कॉल डिटेल खंगाल चुकी है। पिछले चार महीने में जितनी घटना हुई है। उसमें से सिर्फ 40 फीसदी मामलों में पुलिस को सफलता मिली है।

जबकि 60 फीसदी मामले में पुलिस क्लू के बाद भी लुटेरों को पकड़ नहीं पा रही है। पिछले तीन साल में 225 मामले में 1.40 करोड़ लूट गया। इसमें से 189 मामलों में लुटेरों से 1.44 करोड़ जब्त किया गया है। हालांकि कई लूट के मामले में दूसरे धाराअों में कार्रवाई की गई। इसलिए आकड़े कम हैं।

फिर वारदात : पंडरी में ई-रिक्शा चालक से लूट
पंडरी इलाके में सवारी लेकर जा रहे ई-रिक्शा चालक से सरेआम लूट हो गई। दो युवक लोधीपारा जाने के लिए रिक्शे में बैठे। कुछ दूर जाने पर एक युवक ने चाकू निकाल लिया और चालक से पैसा मांगने लगा। चालक ने रिक्शा रोक दी। लुटेरों ने रिक्शा चालक की जमकर पिटाई। उसकी दिनभर की कमाई और मोबाइल लूटकर भाग निकले।

पुलिस ने लूट का केस दर्ज कर लिया है। पुलिस ने बताया कि चंगोराभाठा निवासी बनवारी प्रसाद तिवारी ई-रिक्शा चलाते हैं। भाठागांव बस टर्मिनल से सवारी लेकर मोवा जा रहे थे। पंडरी में दो अन्य युवक भी रिक्शे में बैठ गए। मंडी गेट के पहले युवकों ने रिक्शा चालक पर चाकू अड़ा दिया। फिर जमकर पिटाई की। दोनों युवकों ने चालक का मोबाइल और पैसे लूट लिए और मंडी गेट की ओर भाग निकले।

स्पेशल यूनिट कर रही जांच : एएसपी
शहर में जितने भी लूट की घटना हुई है। उसकी जांच थाना के अलावा एसीसीयू की टीम कर रही है। दूसरे राज्यों की पुलिस से भी संपर्क किया गया है।
तारकेश्वर पटेल, एएसपी सिटी

खबरें और भी हैं...