स्वास्थ्य मंत्री ने अफसरों से कहा / कोरोना के नए केस नहीं, कम्युनिटी स्प्रेड से चिंता, मजदूरों पर रखें नजर

No new Corona cases, worry about community spread, keep an eye on workers
X
No new Corona cases, worry about community spread, keep an eye on workers

दैनिक भास्कर

Jun 02, 2020, 07:30 AM IST

रायपुर. राज्य में कोरोना पॉजिटिव मरीजों की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है। दूसरे राज्यों से लौटे मजदूरों के साथ ही शहर में भी नए केस मिल रहे हैं। इससे कम्युनिटी स्प्रेड का खतरा बढ़ रहा है। इसे लेकर सरकार ने तैयारी शुरू कर दी हैं। पंचायत व स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव ने कहा कि संक्रमण के बढ़ते मामले चिंता की बात नहीं है। चिंता कम्युनिटी स्प्रेड की है। कोरोना पॉजिटिव ज्यादातर लोग प्रभावित क्षेत्रों से आए हैं। सीमा खोलने और ट्रेनें शुरू करने से संक्रमण के आंकड़े बढ़ सकते हैं। उन्होंने कहा कि वायरस को क्वारेंटाइन सेंटरों से घरों तक नहीं पहुंचने देंगे। उन्होंने अफसरों को हॉट स्पॉट क्षेत्रों से लौटे श्रमिकों के स्वास्थ्य पर विशेष नजर रखने कहा। मंत्री सिंहदेव ने सोमवार को वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए पंचायत व स्वास्थ्य विभाग के कामकाज की समीक्षा के बाद मीडिया से चर्चा में ये बातें कहीं। समीक्षा के दौरान उन्होंने सभी जिला पंचायतों के सीईओ के साथ गांवों में बनाए गए क्वारेंटाइन सेंटर्स की व्यवस्था की जानकारी ली। उन्होंने अफसरों से कहा कि क्वारेंटाइन अवधि पूरी करने वाले श्रमिकों के स्वास्थ्य की अच्छी तरह जांच करने के बाद ही उन्हें घर जाने की अनुमति दें। मंत्री ने मजदूरों की स्किल मैपिंग कराने के निर्देश दिए। संदिग्धों के सैंपल जांच की रिपोर्ट आने के बाद ही छोड़ें। घर लौटने के बाद भी उन्हें होम-क्वारेंटाइन के दिशा-निर्देशों का कड़ाई से पालन करवाएं। 
उन्होंने इसके लिए पंचायत प्रतिनिधियों, नागरिकों, जनगणना कर्मियों और साक्षरता प्रेरकों की टीम बनाने का सुझाव भी दिया। वीडियो कांफ्रेंसिंग में एसीएस रेणु पिल्ले, प्रमुख सचिव गौरव द्विवेदी, सचिव निहारिका बारिक सिंह व अन्य अधिकारी मौजूद थे।
कैबिनेट में फेरबदल सीएम का अधिकार
मंत्रिमंडल फेरबदल की चर्चाओं पर सिंहदेव ने कहा कि ये मुख्यमंत्री का एकाधिकार है। वरिष्ठ नेता सभी के कामकाज की समीक्षा समय-समय पर करते रहते हैं। जोगी कांग्रेस के कांग्रेस में विलय को लेकर चल रही चर्चाओं पर उन्होंने कहा कि इस विषय पर पहले भी चर्चा होती रही है। जब-जब जोगी जी गंभीर रूप से बीमार हुए तब-तब ये चर्चाएं हुईं लेकिन फिलहाल निर्णय जैसी कोई स्थिति नहीं है।
वन अधिकार के दावों पर फिर विचार करेगी सरकार
आदिम जाति विकास मंत्री डॉ. प्रेमसाय सिंह टेकाम ने कहा है कि सरकार की मंशा है कि वन अधिकार के सभी निरस्त दावों पर पुनर्विचार कर निर्धारित प्रक्रिया का पालन करते हुए सभी पात्र दावाकर्ताओं को अधिकार पत्र प्रदान किया जाए। डॉ. टेकाम ने वन अधिकार मान्यता अधिनियम के क्रियान्वयन के संबंध में आयोजित कार्यशाला में व्यक्त किए। ठा. प्यारेलाल पंचायत संस्थान में वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से प्रशिक्षण कार्यशाला में रायपुर, बेमेतरा व दुर्ग को छोड़कर शेष 25 जिलों में गठित उपखंड स्तरीय समितियों में नवनिर्वाचित और नाम निर्देशित जनपद पंचायत के 97 सदस्य उपस्थित थे। टेकाम ने जनपद पंचायत से कहा कि सरकार इस अधिनियम को गंभीरता से ले रही है। अब तक लगभग 8.46 लाख से अधिक व्यक्तिगत व सामुदायिक में से लगभग 4.47 लाख वन अधिकार पत्र वितरित किए जा चुके हैं।

अब ई-क्रेता करारनामा से हो सकेगी वनोपजों की खरीदी
अब ई-क्रेता करारनामा से वनोपजों की खरीदी हो सकेगी। हर्रा, बहेरा, नागरमोथा, साल बीज, चरोटा बीज, महुआ फूल, बेल गुदा, थवईफूल, सूखा आंवला, पलाश फूल का सही मूल्य आने पर विक्रय किया जाएगा। 
वन मंत्री मोहम्मद अकबर की अध्यक्षता में वनोपज राजकीय व्यापार अंतरविभागीय समिति की बैठक में सफल निविदाकार-खरीदार को ई-क्रेता करारनामा से वनोपज के खरीदी-बिक्री का निर्णय लिया गया है। लाॅकडाउन के कारण वनोपज राजकीय व्यापार अंतरविभागीय समिति की बैठक में क्रेता करारनामा का निष्पादन डिजिटल हस्ताक्षर से करने का प्रस्ताव पारित किया गया।  यह निर्णय कोरोना संक्रमण और लाॅकडाउन के मद्देनजर लिया गया है। इसका उद्देश्य सफल निविदाकार व क्रेता को सहूलियत प्रदान करने के साथ ही समयावधि में वनोपज का बेहतर मूल्य पर विक्रय सुनिश्चित किया जाना है। वर्तमान में कोरोना वायरस के संक्रमण से बचाव के मद्देनजर लोग इम्युनिटी पावर बढ़ाने के लिए गिलोय औषधीय के पाॅउडर, टेबलेट, काढ़ा के रूप में उपयोग कर रहे हैं, जिसके कारण खपत में बढ़ोत्तरी हो रही है, इसका बाजार मूल्य भी अच्छा मिलता है। मंत्री ने गिलोय की औषधि गुणों का परीक्षण कर इसे संजीवनी के माध्यम से भी लोगों के लिए उपलब्ध कराने कहा। बैठक में प्रमुख सचिव मनोज पिंग्गुआ, पीसीसीएफ राकेश चतुर्वेदी, एमडी संजय शुक्ला, आनंद बाबू आदि शामिल हुए।
क्वारेंटाइन सेंटर में नई बीमारियां जन्म ले रहीं : भाजपा
नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक व प्रदेश प्रवक्ता शिवरतन शर्मा ने क्वारेंटाइन सेंटर की अव्यवस्था पर सरकार पर हमला बोला है। कौशिक ने कहा कि बदइंतजामी के कारण ही अब विस्फोटक स्थिति बन गई है। शर्मा ने कहा कि लगातार हो रही मौतों के बाद भी सरकार बदइंतजामी दूर करने की दिशा में कोई कदम नहीं उठा रही है। अब ये क्वारेंटाइन सेंटर कई तरह के इंफेक्शन से हर दिन नई बीमारियों को जन्म दे रहे हैं। अखबारों में प्रकाशित खबरों का हवाला देते हुए शर्मा ने कहा कि क्वारेंटाइन सेंटर में पंखों तक की व्यवस्था नहीं है। लोगों को इंफेक्शन होने लगा है।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना