पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

महंगाई डायन खाय जात है!:रायपुर में खाने के तेल के दाम पिछले तीन महिने में 850 रुपए तक बढ़े, व्यापारी बोले- ऐसी बढ़ोतरी पहली बार

रायपुर7 दिन पहले
तस्वीर रायपुर के गोल बाजार की है। कीमतें बढ़ने की वजह से लोग परेशान हैं, कीमतों को नियंत्रित करने की दिशा में प्रशासन की तरफ से कोई पहल अब तक नहीं हुई है।
  • खाने के तेल की कीमतों पर नहीं कोई नियंत्रण, बेतहाशा दामों की वजह से बिक्री पर भी पड़ गया असर
  • पेट्रोल की कीमतें भी हर दिन बढ़ रहीं, गुरुवार को एक्स्ट्रा प्रीमीयम ऑयल 91.16 रुपए प्रति लीटर में बिका

रायपुर में चुपके से खाने के तेल के दाम ऐसे बढ़े कि अब आम आदमी के साथ व्यापारी भी परेशान है। पिछले 3 महीने में 850 रुपए तक का इजाफा तेल के दामों में हुआ है। गोल बाजार के किराना व्यापारी मनीष राठौर ने बताया कि दिसंबर तक तेल का जो पीपा 1300 रुपए में मिल रहा था आज उसका दाम 2150 रुपए है। इस तरह से हो रही बढ़ोतरी से आम ग्राहक परेशान हैं। बिक्री पर भी असर पड़ा है। जो लोग 5 किलो तेल खरीद रहे थे, वो अब आधी मात्रा में खरीदारी कर रहे हैं। दाम पर किसी तरह का नियंत्रण नहीं है सरकार को इस ओर ध्यान देना चाहिए।

वजह साफ नहीं
चेंबर ऑफ कॉमर्स के पदाधिकारी जितेंद्र बरलोटा ने बताया कि बड़े डीलर्स से छोटे दुकानदारों को बढ़ी कीमत पर ही तेल मिल रहा है। इसका असर ये है कि बाजार में ग्राहकों को तेल महंगा मिल रहा है। इसकी वजह साफ नहीं हो पा रही है। शुरूआत में तो लॉकडाउन का असर होने की बातें कही जाती रहीं, अब पाइपलान का इश्यू, कभी प्रोडक्शन का न होना तो कभी भाड़े की बढ़ोतरी की बात बाजार में फैलती है। मुझे हैरानी है कि लगभग हर रोज 10-20 कभी 30 रुपए तक रेट बदल जाता है। हर दिन नया रेट होने की वजह से लोग भी परेशान हैं।

कारोबारियों ने बताया कि कई लोगों ने अब तेल के पीपे की बजाए कम मात्रा में तेल लेना शुरू कर दिया है।
कारोबारियों ने बताया कि कई लोगों ने अब तेल के पीपे की बजाए कम मात्रा में तेल लेना शुरू कर दिया है।

जून तक बढ़ेंगे दाम
किराना व्यापारी मनीष राठौर ने बताया कि दिसंबर में बाजार में यह बात सामने आई थी कि जनवरी तक ही दाम बढ़ेंगे। मगर दाम बढ़ने का सिलसिला फरवरी में भी हर दूसरे दिन जारी है। अब यह बात सामने आ रही है कि जून तक तेल की कीमतें बढ़ेंगी। शादियों के सीजन में तेल की बिक्री अधिक होती है। ऐसे में माना जा रहा है कीमतों में राहत मिलना मुश्किल ही है। प्रशासन का भी इस ओर कोई नियंत्रण न होने की वजह से हालात बिगड़ सकते हैं।

115 साल पुराना काउंटर, रायपुर के गोलबाजार स्थित मुन्नालाल पापा लाल स्टोर में ग्राहकों को तेल देने के लिए सालों पुराना यह सेटअप भी इस्तेमाल हो रहा है।
115 साल पुराना काउंटर, रायपुर के गोलबाजार स्थित मुन्नालाल पापा लाल स्टोर में ग्राहकों को तेल देने के लिए सालों पुराना यह सेटअप भी इस्तेमाल हो रहा है।

राइस ब्रान ऑयल की कीमतें बढ़ी ये हैरानी की बात
राइस ब्रान ऑयल का पीपा 1000 रुपए में मिल रहा था। दिसंबर के बाद हुई बढोतरी की वजह से ये तेल 1800 रुपए में मिल रहा है। कारोबारी मनीष ने बताया कि छत्तीसगढ़ के बहुत से हिस्सों में ये तेल तैयार होता है। ये तेल धान के छिलके से बनता है। छत्तीसगढ़ में इस बार सरप्लस धान खरीदी हुई है। पैदावार की अच्छी स्थिति के बाद भी इस तेल के दामों का बढ़ना समझ से परे है।

तेल और उनकी कीमत
दिसंबर 2020 - फरवरी 2021
सनफ्लावर- 1300- 2150
सोयाबीन - 1100- 1950
राइस ब्रान - 1100- 1800
फल्ली तेल - 2200- 2550
सरसों तेल - 1500- 2150

(दाम तेल के पीपे के रेट पर आधारित)

तस्वीर रायपुर के एक फ्यूल पंप की है। पेट्रोल की कीमतों में पिछले लगभग 10 दिनों से बदलाव जारी है।
तस्वीर रायपुर के एक फ्यूल पंप की है। पेट्रोल की कीमतों में पिछले लगभग 10 दिनों से बदलाव जारी है।

पेट्रोल की कीमत एक महीने में 5 रुपए तक बढ़ी
रायपुर के पेट्रोल पंप व्यवसायी अनिल धगत ने बताया कि पेट्रोल की कीमतों में भी पिछले कुछ दिनों से हर रोज बदलाव हो रहे हैं। जनवरी से लेकर अब तक 5 रुपए तक बढ़ोतरी पेट्रोल और डीजल में दर्ज की गई है। हर दिन 25 पैसे, 30 पैसे दाम में परिवर्तन हो रहा है। क्रूड ऑयल के महंगे होने की वजह से तेल की कीमत में बदलाव हो रहा है। गुरुवार की स्थिति में रायपु में सामान्य पेट्रोल 88.27, डीजल 86.84 और एक्स्ट्रा प्रीमियम पेट्रोल 91.61 रुपए प्रति लीटर बिक रहा है।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आज आपकी प्रतिभा और व्यक्तित्व खुलकर लोगों के सामने आएंगे और आप अपने कार्यों को बेहतरीन तरीके से संपन्न करेंगे। आपके विरोधी आपके समक्ष टिक नहीं पाएंगे। समाज में भी मान-सम्मान बना रहेगा। नेग...

    और पढ़ें