आईटीएमएस के सीसीटीवी कैमरों और ड्रोन से भी निगरानी:दुर्गा विसर्जन और दशहरा के लिए शहर में डेढ़ हजार जवान तैनात, 80 गश्ती दल भी

रायपुर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
पुलिस ने गुरुवार रात वीआईपी रोड इलाके में ड्रोन के जरिए निगरानी की। - Dainik Bhaskar
पुलिस ने गुरुवार रात वीआईपी रोड इलाके में ड्रोन के जरिए निगरानी की।

दुर्गा विसर्जन और दशहरा के लिए शहर की सुरक्षा सख्त कर दी गई है। किसी भी तरह की घटना से निपटने और हादसों को रोकने के लिए सड़कों और कार्यक्रम स्थलों पर 1500 से ज्यादा जवान तैनात रहेंगे। आईसीएमएस के सीसीटीवी कैमरों से शहरभर की निगरानी होगी। मुख्य जगहों से ड्रोन भी उड़ाए जाएंगे ताकि कहीं भी किसी भी तरह का हंगामा या अप्रिय घटना न हो सके। बाजारों और विसर्जन स्थलों पर पुलिस को सादी वर्दी में तैनात कर दिया गया है।

थानों की पेट्रोलिंग के अलावा 80 अतिरिक्त पुलिस गाड़ियां पेट्रोलिंग के लिए लगा दी गई है। संवेदनशील और आउटर की निगरानी के लिए भी विशेष प्लान पर काम किया जा रहा है। शहरभर में लगे आईटीएमएस सीसीटीवी कैमरों से 24 घंटे निगरानी की जा रही है। बिना वजह से भीड़ जुटने पर वहां तत्काल पेट्रोलिंग गाड़ियों को भेजा जा रहा है। दुर्गा विसर्जन और दशहरा मैदानों में संदिग्ध लोगों पर नजर रखने के लिए सादी वर्दी में पुलिस के लोगों को तैनात कर दिया गया है। शहर में बेहतर से बेहतर व्यवस्था बनाने के लिए एसपी प्रशांत अग्रवाल ने सभी अफसरों की बैठक लेकर कहा कि दो दिनों तक लगातार पेट्रोलिंग की जाए। उन्होंने आम लोगों से भी अपील करते हुए कहा दुर्गा विसर्जन स्थल एवं दशहरा मैदान जाने के दौरान अपनी गाड़ियां जहां पार्किंग तय की गई है वहीं खड़ी करें। किसी भी तरह की असामाजिक एवं संदिग्ध परिस्थितियां दिखाई देती हैं तो तत्काल 112 में कॉल करें।

कुंड के पास क्रेन, विसर्जन के लिए आज से पहुंचेंगी प्रतिमाएं
खारुन नदी के किनारे बनाए गए स्थायी विसर्जन कुंड में दुर्गा प्रतिमाओं के विसर्जन की तैयारी लगभग पूरी हो गई है। कुंड के पास क्रेन रहेंगे ताकि विसर्जन के दौरान किसी तरह की दिक्कत न हो। प्रतिमाओं को आसानी से उठाकर कुंड में विसर्जित किया जा सके। वहां किसी भी तरह की मदद की जरूरत पड़ने पर कुंड के भीतर नाव की व्यवस्था रहेगी। उसमें निगम के कर्मी तैराकों के साथ मौजूद रहेंगे। प्रतिमाओं का विसर्जन मुख्य रूप से शुक्रवार को होगा। इसके पूर्व गुरुवार काे दोपहर से ही निगम के अधिकारियों और कर्मचारियों की ड्यूटी वहां लगा दी गई है।

महापौर एजाज ढेबर, निगम कमिश्नर प्रभात मलिक सहित अफसरों ने गुरुवार को विसर्जन कुंड का निरीक्षण किया और व्यवस्था देखी। विसर्जन कुंड का पानी साफ करने के लिए ब्लीचिंग पावडर व एलम की व्यवस्था की गयी है। इमरजेंसी के लिए जनरेटर भी वहां रखे गए हैं। परिसर में अस्थाई वाहन पार्किंग की व्यवस्था है। श्रद्धालुओं की सुविधा के लिए पर्यावरण संरक्षण की दृष्टि से पूजा सामान के विसर्जन के लिए ड्रम की व्यवस्था की गयी है। परिसर में कचरा परिवहन के लिये दो चक्के और चारपहिया वाहनों की व्यवस्था की गई है। पूरे परिसर में सीसीटीवी कैमरे लगाए गए हैं। विसर्जन जिस इलाके में किया जा रहा है वहां कानून व्यवस्था व शांति के लिए अस्थायी पुलिस कंट्रोल रूम भी बनाया गया है।

400 जवान तैनात रहेंगे
राजधानी में कई प्रमुख मैदानों में रावण दहन के लिए यातायात विभाग ने व्यापक इंतजाम किए हैं। डब्ल्यूआरएस कॉलोनी, बीटीआई ग्राउंड शंकरनगर, रावनभाठा मैदान, चौबे कॉलोनी, रोहणीपुरम में पुतला दहन कार्यक्रम के दौरान 400 से ज्यादा ट्रैफिक जवान अफसरों के साथ तैनात रहेंगे। इसके अलावा निर्धारित जगहों पर गाड़ियां नहीं खड़ी करने पर 25 पेट्रोलिंग गाड़ियां और क्रेन से कार्रवाई की जाएगी। अफसरों ने साफ कर दिया है कि वे लोग गाड़ियां पार्किंग में ही खड़ी करें।

इस तरह रहेगी पार्किंग

डब्ल्यूआरएस कॉलोनी दशहरा मैदान
इस मैदान में आने वाले लोग खमतराई ओवरब्रिज के नीचे से होकर कॉलोनी के अंदर गलियों, दुर्गा पंडाल के पास मैदान और केंद्रीय स्कूल मैदान में गाड़ियां खड़ी करेंगे।

बीटीआई ग्राउंड शंकरनगर
यहां आने वाले लोग गाड़ियां कचना खम्हारडीह जाने वाली सड़क के किनारे गाड़ी खड़ी करके पैदल मैदान तक जा सकेंगे। शंकरनगर की मुख्य सड़कों पर पार्किंग बैन रहेगी।

रावणभाठा मैदान
यहां पहुंचने वाले लोग रिंग रोड नंबर 1 की सर्विस रोड में गाड़ियां खड़ी करेंगे। नेहरूनगर से आने वाले लोग निर्धारित पार्किंग और शिव मंदिर के पास वाली पार्किंग में गाड़ियां खड़ी करेंगे।

चौबे कॉलोनी दशहरा मैदान
यहां आने वाले लोग जीई रोड से चौबे कॉलोनी टर्निंग होकर अग्रसेन चौक समता कॉलोनी होकर मैदान में जाएंगे। उन्हें अपनी गाड़ियां दशहरा मैदान के पास पार्किंग में रखनी होगी।

खबरें और भी हैं...