इन काउंसिल एमआईसी की घोषणा:बीरगांव निगम की एमआईसी में केवल एक निर्दलीय शामिल

रायपुर6 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
बीरगांव नगर निगम - Dainik Bhaskar
बीरगांव नगर निगम
  • उबारन को पीडब्लूडी, इकराम को जल और रियाज को स्वास्थ्य की जिम्मेदारी सौंपी गई

बीरगांव निगम के नए महापौर नंदलाल देवांगन ने निगम का कामकाज संभालते ही शुक्रवार को अपनी मेयर इन काउंसिल एमआईसी की घोषणा कर दी है। छह निर्दलीय पार्षदों में तीन ने पहले ही कांग्रेस प्रवेश कर लिया था और तीन ने बाहर से समर्थन दिया था। लेकिन नई एमआईसी में केवल एक निर्दलीय बसंत सेन को ही शामिल किया गया है। निगम सभापति की दौड़ में शामिल रहे इकराम अहमद को जल विभाग की जिम्मेदारी दी गई है।

निगम की एमआईसी में 8 पार्षदों को शामिल किया गया है। उबारन दास बंजारे को लोक निर्माण और मोहम्मद रियाज को स्वास्थ्य विभाग की जिम्मेदारी सौंपी गई है। बसंत सेन को राजस्व और बाजार, भारती नंदू चंद्राकर को शिक्षा, महिला एवं बाल विकास, सरोज बाई कुर्रे को खाद्य, ओमप्रकाश साहू को पुनर्वास एवं नियोजन और संतोष कुमार साहू को विधि, सामान्य प्रशासन विभाग की जिम्मेदारी सौंपी गई है।

बीरगांव निगम के पांच साल बनने के बाद भी अभी तक वहां जोन कार्यालय नहीं बने हैं। नए महापौर का दावा है कि जल्द ही जोन दफ्तर बनाने की प्रक्रिया पूरी कर ली जाएगी। एक जोन में 10 वार्डों को शामिल किया जाता है तो वहां चार जोन बन जाएंगे। पांच वार्डों को शामिल करने पर जोन की संख्या 8 हो सकती है।

ऐसे में ज्यादा जोन बनाकर कांग्रेसी पार्षदों को जोन अध्यक्ष बनाकर उन्हें संतुष्ट किया जा सकता है। निगम में कांग्रेस का बहुमत होने की वजह से सामान्य सभा में किसी भी तरह के प्रस्ताव को पास कराने में उन्हें कोई दिक्कत नहीं होगी। इसलिए यह तय माना जा रहा है कि जल्द ही जोन दफ्तरों का गठन कर लिया जाएगा। महापौर का दावा है कि राज्य सरकार की मदद से इस बार बीरगांव निगम का बजट भी बढ़ाया जाएगा।

खबरें और भी हैं...